उत्तरप्रदेश मुख्यमंत्री गुड समारितन योजना: सड़क दुर्घटना के घायलों को अस्पताल पहुँचाने पर 2000 रुपये का नकद ईनाम

0
627
उत्तरप्रदेश मुख्यमंत्री गुड समारितन योजना
उत्तरप्रदेश मुख्यमंत्री गुड समारितन योजना

उत्तरप्रदेश मुख्यमंत्री गुड समारितन योजना:

उत्तर प्रदेश सरकार ने राज्य में बढ़ती सड़क दुर्घटनाओं के लिए गुड समारितन योजना (UP Mukhyamantri Good Samaritan Yojana) लाने के लिए नई पॉलिसी पर काम कर रही है | इस सरकारी योजना के तहत वे लोग जो सड़क दुर्घटना में घायलों लोगों को अस्पताल ले जाएंगे |

उन्हें यूपी सरकार 2,000 रूपये का नकद पुरस्कार प्रदान करेगी | ताकि घायल व्यक्ति का इलाज समय पर हो सके | अभी गुड समारितन योजना के लिए राज्य सरकार रोडमैप तैयार कर रही है | जिसके बाद, 2 से 3 महीनों के अंदर इस सड़क दुर्घटना पीड़ित योजना के शुरू होने की उम्मीद है |

उत्तर प्रदेश में गुड समारितन योजना को अन्य राज्यों दिल्ली, गुजरात, ओडिशा, कर्नाटक और महाराष्ट्र की तर्ज पर शुरू किया गया है | इन सभी राज्यों में पहले से ही दुर्घटना पीड़ितों की सहायता के लिए स्कीम चल रही है | जहां पर सड़क दुर्घटना में घायल व्यक्ति को अस्पताल में ले जाने पर 2,000 रूपये का नकद ईनाम सरकार द्वारा दिया जाता है |

जैसा की आप सभी जानते हैं घायल व्यक्ति को अस्पताल ले जाने पर मदद करने वाले को पुलिस और अस्पताल द्वारा बहुत से सवाल पूछे जाते थे जिसको केंद्र सरकार ने 2014 में सूप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद बदल दिया था | अब गुड समारितन कानून के तहत किसी भी सहायक व्यक्ति से पुलिस और हॉस्पिटल सवाल जवाब नहीं कर सकते हैं |

उत्तरप्रदेश मुख्यमंत्री गुड समारितन योजना 2020 का उद्देश्य:-

इस योजना का मुख्य उद्देश्य सड़क तथा रेल दुर्घटना में घायल लोगो की सहायता करने के लोगो को प्रोत्साहित करना और दुर्घटनाग्रस्त व्यक्ति को समय से सरकारी अस्पताल पहुंचाकर इलाज करवाना है | इस योजना के ज़रिये दुर्घटनाग्रस्त लोगो की मृत्यु होने से बचाना है और उत्तर प्रदेश में सड़क दुर्घटना से होने वाली मृत्यु को कम करना है | यूपी मुख्यमंत्री गुड समारितन योजना 2020 के माध्यम से सड़क तथा रेल दुर्घटना में घायल व्यक्ति की मदद करने वाले तथा इलाज के लिए अस्पताल पहुंचने वाले लोगो को पुरुस्कार के रूप में नकद 2000 रूपये की धनराशि प्रदान करना |

उत्तरप्रदेश मुख्यमंत्री गुड समारितन योजना 2020 का कार्यान्वयन:-

उत्तरप्रदेश मुख्यमंत्री गुड समारितन योजना के सफलतापूर्वक कार्यान्वयन के लिए राज्य सरकार ने 50 लाख रुपये की राशि आवंटित करी है | सहायक को दी जाने वाली 2,000 रूपये की धनराशि ‘सड़क सुरक्षा कोष’ में से दी जाएगी | राज्य सरकार के आकड़ों के अनुसार, वर्ष 2017 में यूपी में सड़क दुर्घटना के 38,811 मामलों में से 20,142 लोगों की मौत हुई थी और 27,507 लोग घायल हुए थे |

वर्ष 2018 में सड़क दुर्घटनाओं के 42,568 मामले सामने आए | जिसमें से 22,256 लोगों की जान गई और राज्य में 29,664 लोग घायल हुए | अगर साल 2019 की बात करें तो जनवरी से मई तक उत्तर प्रदेश में 18,521 सड़क दुर्घटनाएं हुईं हैं | जिसमें 10,119 लोग मारे गए हैं और 12,379 लोग घायल हुए हैं |

मुख्यमंत्री गुड समारितन योजना 2020 के लाभ:-

  • इस योजना के अंतर्गत उत्तर प्रदेश में होने वाली सड़क तथा रेल दुर्घटना में घायल व्यक्ति की मदद करने करने के लिए 2000 रूपये की प्रोत्साहन धनराशि प्रदान की जाएगी |
  • इस योजना के अंतर्गत राज्य के सड़क तथा रेल दुर्घटना से ग्रसित व्यक्तियों को ही प्रदान किया जायेगा |
  • यूपी गुड समारिटन योजना के सफलतापूर्वक कार्यान्वयन के लिए राज्य सरकार ने 50 लाख रुपये की राशि आवंटित करी है |
  • Yogi Good Samaritan Yojana के माध्यम से राज्य सरकार लोगों में इंसानियत की भावना भी पैदा करना चाहती हैं | ताकि लोग इससे प्रेरित हो दूसरों की मदद करने के लिए आगे आयें |

मुख्यमंत्री गुड समारितन योजना की पात्रता:-

  • इस योजना के तहत जो ₹2000 धनराशि प्रदान की जाएगी ।
  • वह उत्तर प्रदेश में होने वाले सड़क रेल दुर्घटना में घायल व्यक्ति की सहायता करने वाले
  • व्यक्ति को प्रदान की जाएगी।
  • यह राशि उन्हीं सहायता करने वाले व्यक्ति को प्रदान की जाएगी जो यूपी के मूल निवासी होंगे।
  • यह योजना यूपी राज्य में ही चलाई गई है। 
  • अगर यूपी राज्य की सीमा के अंदर कोई सड़क दुर्घटना होती है तो। 
  • उस दुर्घटना में मदद करने वाले व्यक्ति को इस योजना का लाभ प्रदान किया जाएगा।
  • इस योजना के तहत यूपी की सीमा के बाहर की दुर्घटना को शामिल नहीं किया गया है।
  • मुख्यमंत्री गुड समारितन योजना की पात्रता के तहत ।
  • केवल सड़क तथा रेल दुर्घटना में घायल होने वाले व्यक्तियों की सहायता करने वालों को ।
  • ₹2000 की प्रोत्साहन राशि प्रदान की जाएगी।
  • इस योजना के तहत सड़क तथा रेल दुर्घटना के अलावा कोई और दुर्घटना शामिल नहीं की जाएगी |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here