मध्य प्रदेश कोरोना ई-परामर्श सेवा 2020 जारी किया गया

0
820
मध्य प्रदेश कोरोना ई-परामर्श सेवा

मध्य प्रदेश कोरोना ई-परामर्श सेवा:-

मध्य प्रदेश कोरोना ई-परामर्श सेवा: मध्य प्रदेश सरकार ने नि:शुल्क चिकित्सा सलाह के लिए ‘कोरोना ई-परामर्श सेवा’ नामक पोर्टल शुरू किया है | इस पोर्टल के माध्यम से आप अपने घर पर ही बैठे ई-परामर्श सेवा का लाभ ले सकते हो | बस मरीज को डॉक्टर्स से सम्बंधित बीमारी के बारे में बताना है और उसके बाद डॉक्टर्स इसका इलाज ऑनलाइन बता देंगे | इस पोर्टल में डॉक्टर्स ऑनलाइन पंजीकरण करके अपने मरीजों को परामर्श दे सकते हैं |

जैसे कि आपको विदित होगा कि देश में कोरोना वायरस (COVID-19) के चलते लॉकडाउन की स्थति है | लोग अपने घर से निकल नहीं पा रहे है, साथ ही जरुरी काम के लिए भी वे बाहर जाने से कतराते है | ऐसे में कई लोग दूसरी बीमारी के लिए डॉक्टर्स के पास भी नहीं जा रहे है, या डॉक्टर्स भी अपने क्लिनिक में सेवा नहीं दे पा रहे है | इन सभी समस्याओं के समाधान के लिए मप्र सरकार आपके घर पर ही ई-परामर्श सेवा लेकर आई है | जिसके द्वारा घर बैठे मरीज डॉक्टर्स से सम्बंधित बीमारी के बारे में बात कर सकेगा और इलाज प्राप्त कर सकेगा |

इसके साथ ही डॉक्टर्स ऑनलाइन इस सेवा में रजिस्टर करा सकेंगें, जिससे वे आम आदमी को परामर्श दे सकें | इस सेवा को मध्य प्रदेश के लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ नरोत्तम मिश्रा द्वारा 1 मई को प्रारंभ किया गया | इस सेवा को Project Step 1 नाम दिया गया है | इसके अंतर्गत 5000 से अधिक डॉ, स्वयं सेवक, टेक्निशियन जुड़े हुए है | आप मध्य प्रदेश कोरोना ई परामर्श सेवा का लाभ, घर बैठे नि:शुल्क चिकित्सा सलाह, Toll Free Number, डॉक्टर ऑनलाइन पंजीयन के माध्यम से उठा सकते हैं |

मध्य प्रदेश कोरोना ई-परामर्श सेवा

परामर्श सेवा के लाभ:

  • किसी भी मरीज को अपने घर से नहीं निकलना पड़ेगा | फ़ोन पर ही आपको डॉक्टर्स मिल जायेगें | आप अपनी बीमारी बताकर उनसे इलाज प्राप्त कर सकते हैं |
  • डॉक्टर्स को क्लिनिक जाने की आवश्कता नहीं होगी | आज के समय में सबसे ज्यादा खतरा डॉक्टर्स के क्लिनिक में ही होता है, क्यूंकि किसी को पता नहीं होता है, कि मरीज किस बीमारी से जूझ रहा है |
  • ऐसे में मरीज अपने साथ डॉक्टर्स, स्टाफ और आस-पास के अन्य लोगों को भी बीमारी से ग्रसित कर देता है | इसी समस्या के चलते हमने अपने देश के अभी अभी कई डॉक्टर खो दिए है |
  • ई-परामर्श सेवा के तहत फ्री में इलाज होगा, आप अपने आस-पास के ही नहीं, दूर-दराज बैठे डॉक्टर से भी इलाज प्राप्त कर सकते हैं | इसके अंतर्गत IVRS आधारित Self Screening Tool के माध्यम से सेवाएं दी जाएँगी |

कोरोना ई-परामर्श सेवा के अंतर्गत डॉक्टर्स पंजीयन:-

  • फ़ोन कॉल के द्वारा:– डॉक्टर्स को घर बैठे चिकत्सीय सेवाएं देने के लिए 73148-21193 पर मिसकॉल देना होगा | जिसके बाद, आपको विभाग से कॉल आएगा और सारी जानकारी लेने के बाद आपका नाम रजिस्टर हो जाएगा .

कोरोना ई-परामर्श सेवा के अंतर्गत मरीज पंजीयन:-

  • मरीज को नि:शुक्ल परामर्श प्राप्त करने के लिए 104 टोल-फ्री नंबर में कॉल करना होगा, जहाँ आपसे आपकी सभी व्यक्तिगत जानकारी ली जाएगी |
  • अगर उसी समय डॉक्टर्स उपलब्ध होंगे, तो आपका कॉल उन्हें ट्रान्सफर कर दिया जाएगा। अगर डॉक्टर्स उपलब्ध नहीं रहेंगे, तो आपके कॉल को वेटिंग में डाल दिया जाएगा |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here