डाकघर बचत खाता धारकों के लिए Online Digital Banking Facility

0
1447

Post Office Online Digital Banking Facility:-

सभी डाकघर बचत खाता धारक मई 2018 से Online Digital Banking Facility का लाभ उठाने में सक्षम होंगे | जिन लोगों के पास किसी भी डाकघर में कोई भी बचत खाता (Saving Account) है, वे अब पूरी तरह से Digital Banking Facility का लाभ उठा सकते हैं |

केन्द्र सरकार ने अब ऐसे सभी खातों को India Post Payments Bank (IPPB) से जोड़ने की मंजूरी दे दी है | अब लगभग 34 करोड़ डाकघर खाताधारक अपने डाकघर खाते से किसी भी बैंक खाते में धन हस्तांतरित करने में सक्षम होंगे |

आपको बता दें कि भारतीय रिजर्व बैंक (RBI), India Post Payments Bank (IPPB) की बैंकिंग सेवाओं को नियंत्रित करता है, जबकि वित्त मंत्रालय Post Office की बैंकिंग सेवा को नियंत्रित करता है | India Post Payments Bank (IPPB) ग्राहक NEFT, RTGS या बैंकिंग ग्राहकों की तरह अन्य Money transfer mode का उपयोग करने में सक्षम होते हैं |

डाकघर बचत खाते के IPPB से जुड़ने के बाद, ग्राहक अन्य बैंकों जैसी money transfer सेवाओं का लाभ उठाने के लिए सक्षम होंगे | डाकघर सभी 1.55 लाख डाकघर शाखाओं को IPPB के साथ जोड़ रहा है जिसके बाद यह सबसे बड़ा बैंकिंग नेटवर्क बनने जा रहा है | इससे पहले, डाकघर ने core banking सेवा शुरू की थी जिसमें money transfer सुविधा केवल post office savings bank (POSB) खातों तक ही सीमित थी |

Post Office Online Digital Banking Facility की मुख्य बातें:-

भारतीय रिजर्व बैंक (RBI), IPPB की monitoring unit है जो सभी बैंक खाता धारकों को NEFT/ RTGS और अन्य सेवाओं का उपयोग करने के लिए सक्षम बनाती है | डाकघर की सभी बैंकिंग सेवाएं वित्त मंत्रालय के अंतर्गत आती हैं | अब वित्त मंत्रालय ने अपने सभी ग्राहकों को बैंकिंग जैसी सुविधाएं प्रदान करने के लिए एक कदम आगे बढ़ाया है |

वित्त मंत्रालय ने अब सभी 34 करोड़ POSB खाता धारकों को लाभ प्रदान करने के लिए सभी बचत खातों को IPPB से जोड़ने की मंजूरी दे दी है | लगभग 17 करोड़ लोग डाकघर बचत बैंक खाते का और 17 करोड़ लोग डाकघर की मासिक आय योजना, Time deposite, राष्ट्रीय बचत प्रमाण पत्र (Natioanl Saving Certificate) या अन्य योजनाओं का लाभ उठा रहे हैं |

पहले सभी डाकघर खाताधारक केवल एक POSB खाते से दूसरे POSB खातों में ही पैसे हस्तांतरित कर सकते थे | अब POSB खाताधारकों को India Post इस नई सुविधा के लाभों का लाभ उठाने के लिए एक विकल्प प्रदान करेगा | हालांकि, यह सेवा वैकल्पिक रहेगी | अगर कोई व्यक्ति इसके लिए विकल्प चुनता है, तभी उनके POSB खाते को IPPB से जोड़ा जाएगा |

Post Office Online Digital Banking Facility का कार्यान्वयन:-

India Post इस माह से ही सभी 650 IPPB शाखाओं के माध्यम से इस पहल को लागू करने की योजना बना रही है | सभी IPPB शाखाओं को अब पूरे देश के विभिन्न जिलों के छोटे-2 डाकघरों से जोड़ा जाएगा |

सभी IPPB शाखाएं  Access point के साथ postal network से जुड़ी होंगी | अब तक, postal network में लगभग 1.5 लाख शाखाएं हैं, जिनमें से लगभग 1.3 लाख शाखाएं ग्रामीण क्षेत्रों में हैं | 1.55 लाख शाखाओं में IPPB के साथ POSB को जोड़ने का यह कदम India Post को सबसे बड़ा और सबसे विश्वसनीय Banking Network बना देगा |

पहले चरण के कार्यान्वयन के बाद, दूसरा चरण सितंबर 2018 में शुरू होगा | अगले चरण में, India Post सभी POSB खाता धारकों को अपने IPPB खाते के माध्यम से डाकघर उत्पादों के भुगतान के लिए एक विकल्प प्रदान करेगा | इसमें सुकन्या समृद्धि योजना (Sukanya Samriddhi Yojana), किसान विकास पत्र (KVC), PPF, Speed post आदि के लिए भुगतान शामिल होंगे |

यह सुविधा India Post के आधार का विस्तार करेगी और नए व्यापारियों को भी पंजीकृत किया जाएगा | व्यापारियों का पंजीकरण एक आवेदन की सहायता से किया जाएगा जो डाकघर के ग्राहक से भुगतान स्वीकार करते हैं | कोई भी POSB खाता धारक व्यापारियों जैसे store, दुकानों, ticket booking आदि के लिए भुगतान कर सकते हैं |

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here