योगी आदित्यनाथ द्वारा उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री जन आरोग्य योजना का शुभारम्भ

0
634
उत्तर प्रदेश जन आरोग्य योजना

उत्तर प्रदेश जन आरोग्य योजना:-

उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा उत्तर प्रदेश जन आरोग्य योजना 2021 शुरू की गई है | मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने राज्य में पीएम जन आरोग्य योजना के छूटे हुए परिवारों के लिए मुख्यमंत्री जन आरोग्य योजना (MMJAY) शुरू की है | यूपी आयुष्मान भारत योजना और मुख्यमंत्री जन आरोग्य योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया ayushmanup.in पोर्टल पर या सामान्य सेवा केंद्रों (CSC) पर या अस्पतालों में तैनात आरोग्य मित्र के माध्यम से शुरू की गई है |

वे सभी लोग जो SECC 2011 सूची में अपने नाम की अनुपलब्धता के कारण आयुष्मान भारत योजना से छूट गए हैं, उन्हें इस यूपी मुख्यमंत्री जन आरोग्य योजना के तहत कवर किया जाएगा | गरीब लोगों का यह नि:शुल्क इलाज उत्तर प्रदेश के पैनल में शामिल सभी सरकारी और निजी अस्पतालों में उपलब्ध रहेगा | लोगों को अब यूपी मुख्यमंत्री जन आरोग्य योजना पंजीकरण कराना होगा ताकि गोल्डन कार्ड प्राप्त करने के लिए किसी भी सूचीबद्ध अस्पतालों में 5 लाख रुपये तक का मुफ्त इलाज किया जा सके |

मुख्यमंत्री जन आरोग्य योजना क्या है:-

प्रधान मंत्री जन आरोग्य योजना (PMJAY) के शुभारंभ के बाद, यह महसूस किया गया कि ऐसे कई परिवार हैं जो सामाजिक-आर्थिक जाति जनगणना 2011 के लिए निर्धारित समान वंचित मानदंड के अंतर्गत आते हैं, लेकिन योजना के समावेश से गायब हैं | उत्तर प्रदेश राज्य सरकार ने “मुख्यमंत्री जन आरोग्य योजना” नाम से ऐसी ही योजना शुरू की है जिसमें ऐसे छूटे हुए परिवार शामिल हैं | यूपी मुख्यमंत्री जन आरोग्य योजना 1 मार्च 2019 को माननीय मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ द्वारा शुरू की गई थी | MMJAY लाभार्थियों को PMJAY आयुष्मान भारत के सभी लाभ मिलते हैं | MMJAY योजना राज्य सरकार द्वारा 100% वित्त पोषित है |

आयुष्मान भारत योजना (पीएम जन आरोग्य योजना) और मुख्यमंत्री जन आरोग्य योजना दोनों उत्तर प्रदेश राज्य में कार्यात्मक हैं | दोनों योजनाएं समान सुरक्षा प्रदान करती हैं लेकिन बुनियादी अंतर यह है कि “उन सभी परिवारों का नाम जिनका नाम SECC 2011 डेटा में आता है, उन्हें यूपी एबी-पीएमजेएवाई योजना के तहत सूचीबद्ध निजी / सार्वजनिक अस्पतालों में 5 लाख रुपये तक का कैशलेस इलाज मिलेगा | जबकि उन सभी परिवारों को जिनका नाम SECC 2011 डेटा में नहीं आता है, उन्हें यूपी MMJAY योजना के तहत सूचीबद्ध निजी / सार्वजनिक अस्पतालों में 5 लाख रुपये तक का कैशलेस इलाज मिलेगा |

UP Ayushman Card Apply Online – PMJAY Uttar Pradesh Golden Card:-

उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार आयुष्मान पखवाड़ा आयोजित करने जा रही है, जिसके तहत नि: शुल्क आयुष्मान कार्ड बनाए जाएंगें | योगी आदित्यनाथ सरकार उत्तर प्रदेश में सभी ग्राम पंचायतों में आयुष्मान कार्ड वितरण के लिए कैंप आयोजित करने जा रही है | आप भी इस मौके का फायदा उठाकर अपने परिवार के लिए आयुष्मान कार्ड बनवा सकते हैं |

केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार (Narendra Modi Government) के द्वारा गरीबों के इलाज के मुफ्त इलाज के लिए प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना (PMJAY) की चलाई जा रही है | इस योजना के तहत आयुष्मान कार्ड (Ayushman Card) बनाया जाता है, जिसके तहत लाभार्थी प्रति परिवार प्रति वर्ष 5 लाख रुपये तक की नि: शुल्क चिकित्सा सुविधा हासिल कर सकते हैं |

जनसेवा केंद्रों पर गोल्डन कार्ड बनवाने की प्रक्रिया:- उत्तर प्रदेश जन आरोग्य योजना

  • पात्र परिवारों के प्रत्येक सदस्य हेतु प्रति कार्ड 30 रू की धनराशि गोल्डेन कार्ड प्राप्त होने के पश्चात देय
  • व्यक्तिगत पहचान हेतु आधार कार्ड अनिवार्य
  • परिवार की पहचान हेतु राशन कार्ड / प्रधान मंत्री जी का पत्र / परिवार रजिस्टर की नक़ल अनिवार्य

पात्रता जानने/नि:शुल्क इलाज के लिए:-

  1. नि:शुल्क हेल्पलाइन नंबर 1800 1800 4444 पर कॉल करें।
  2. नजदीकी सूचीबद्ध अस्पताल में आरोग्य मित्र से मिलें।
  3. नजदीकी जन सेवा केंद्र पर संपर्क करें।
उत्तर प्रदेश जन आरोग्य योजना

जानिए कैसे बनवाएं सूचीबद्ध निजी व सरकारी अस्पतालों में आयुष्मान कार्ड:-

  1. आयुष्मान कार्ड सूचीबद्ध निजी व सरकारी अस्पतालों में फ्री बनाए जाते हैं |
  2. आयुष्मान कार्ड बनवाने के लिए व्यक्तिगत पहचान हेतु आधार कार्ड लेकर जाएं |
  3. परिवार की पहचान हेतु राशन कार्ड अथवा प्रधान मंत्री जी का पत्र अथवा परिवार रजिस्टर की नकल साथ लेकर जाएं |

इस योजना के तहत मिलने वाली सुविधाएं

  1. लाभार्थी परिवार को हर साल 5 लाख रुपये तक की नि: शुल्क चिकित्सा सुविधा |
  2. गंभीर बीमारियों जैसे ह्दय रोग, किडनी रोग, घुटना प्रत्यारोपण, कैंसर, मोतियाबिंद और सर्जरी इत्यादी की सुविधा
  3. केवल भर्ती मरीजों को ही नि:शुल्क उपचार की सुविधा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here