MP E-Uparjan 2023: कैसे पता करें कि समर्थन मूल्य पर विक्रय की गई फसल का पैसा किस बैंक खाते में आएगा?

0
1629
किसान पंजीयन की जानकारी
MP E-Uparjan Update 2023

मध्य प्रदेश सरकार द्वारा प्रतिवर्ष की भांति इस वर्ष भी खरीफ की फसल का समर्थन मूल्य पर किया जा रहा है। समर्थन मूल्य पर विक्रय की गई फसल का भुगतान किसान के बैंक खाते में डायरेक्ट किया जाता है। 

भारत सरकार के निर्देशानुसार उचित मूल्य पर उपार्जित स्कंध का भुगतान संबंधित कृषक को उसके आधार लिंक खातों में ही किया जाना है और यदि किसी अन्य खाते में भुगतान किया जाता है ।

इसके लिये यह आवश्यक है कि सभी किसान जिन्होंने फसल विक्रय के लिये पंजीयन कराया है उनको उनके आधार न. से कम से कम एक खाता लिंक होना चाहिये । जिस पर विक्रय फसल की राशि का भुगतान किया जा सके।

मध्य प्रदेश सरकार किसानो से उनकी फसल समर्थन मूल्य पर क्रय करने हेतु किसानों से उनकी फसल पंजीयन कार्य MP E Uparjan Portal के माध्यम से करती हैं| जो इस रबी वर्ष के लिए गेहूं, चना, सरसों और मसूर की खरीद के लिए किसान पंजीयन कार्य 15 सितम्बर 2022 से 30 सितम्बर 2022 तक किया गया। 

MP EUparjan 2023  में किसान पंजीयन के दौरान किसान से आधार कार्ड, समग्र सदस्य आईडी, किसान का मोबाइल नंबर और भूमि की जानकारी (भू ऋण पुस्तिका) की जानकारी मांगी गई परन्तु किसान की बैंक खाते से सम्बंधित कोई जानकारी नहीं ली गई क्यूंकि किसान का समर्थन मूल्य का पैसा उसके आधार कार्ड में लिंक बैंक खाते में भुगतान किया जायेगा|

अब किसानो को समस्या यह है कि यदि किसान का बचत बैंक खाता कई बैंको में है, और वे सभी बैंक खाते आधार से लिंक है तो समर्थन मूल्य पर विक्रय की गई फसल का पैसा किस बैंक खाते में आएगा? तो आज हम इस आर्टिकल के माध्यम से यही बताने जा रहे हैं कि समर्थन मूल्य पर विक्रय की गई फसल का पैसा किस बैंक खाते में आएगा? अतः आप सभी किसान मित्रो से अनुरोध है कि हमारे आर्टिकल को अंत तक अवश्य रूप से पढ़े :

आधार लिंक बैंक खातों में राशि भुगतान का है प्रावधान:

मध्य प्रदेश सरकार द्वारा प्रतिवर्ष की भांति इस वर्ष भी खरीफ की फसल का समर्थन मूल्य पर किया जा रहा है। समर्थन मूल्य पर विक्रय की गई फसल का भुगतान किसान के बैंक खाते में डायरेक्ट किया जाता है। 

भारत सरकार के निर्देशानुसार उचित मूल्य पर उपार्जित स्कंध का भुगतान संबंधित कृषक को उसके आधार लिंक खातों में ही किया जाना है और यदि किसी अन्य खाते में भुगतान किया जाता है।

इसके लिये यह आवश्यक है कि सभी किसान जिन्होंने फसल विक्रय के लिये पंजीयन कराया है उनको उनके आधार न. से कम से कम एक खाता लिंक होना चाहिये । जिस पर विक्रय फसल की राशि का भुगतान किया जा सके।

MP E- Uparjan 2023 : समर्थन मूल्य पर विक्रय की गई फसल का पैसा किस बैंक खाते में आएगा? जानिए स्टेप बाय स्टेप प्रोसेस:

समर्थन मूल्य पर विक्रय की गई फसल का पैसा किस बैंक खाते में आएगा, निम्न प्रोसेस को फॉलो करना पड़ेगा :

स्टेप 1: सबसे पहले आधार कार्ड की ऑफिसियल वेबसाइट https://resident.uidai.gov.in/ पर जाना होगा

स्टेप 2 : अब My Aadhaar Menu के Aadhaar Services Section में Check Aadhaar/Bank Linking Status पर क्लिक करे|

MP E-Uparjan 2022

स्टेप 3: NPCI Mapper में अपना आधार और बैंक खाता लिंकिंग स्थिति जांच करने के लिए अपना आधार कार्ड नंबर प्रविष्ट करे।

स्तेप 4: Security Code प्रविष्ट करे और Send OTP पर क्लिक करे|

स्टेप 5: आधार कार्ड नंबर में रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर प्राप्त OTP प्रविष्ट करने के बाद Submit पर क्लिक करे|

स्टेप6: अब आपके स्क्रीन पर आधार कार्ड से लिंक बैंक का नाम दिखाई देगा | इसी बैंक खाते में आपके समर्थन मूल्य पर विक्रय की गई फसल का पैसा आएगा |

MP E-Uparjan 2022

इस तरह से आप जान गए होंगे कि समर्थन मूल्य पर विक्रय की गई फसल का पैसा किस बैंक खाते में आएगा| यदि यह जानकारी आप सभी लोगो को अच्छी लगी हो तो अपने मित्र और परिवार से साथ साझा जरूर कीजियेगा|

अकसर पूछे जाने प्रश्न :

1. समर्थन मूल्य पर विक्रय की गई फसल का पैसा किस बैंक खाते में आएगा

समर्थन मूल्य पर विक्रय की गई फसल का पैसा आधार से लिंक बैंक खाते में आएगा |

2. मैं समर्थन मूल्य पर बेचीं गई फसल की राशि प्राप्त करने के लिए बैंक खाता बदलना चाहता हूं, बैंक खाता बदलने के लिए क्या करना चाहिए?

अगर आपको पता चल गया है कि आपका MP E Uparajan Payment किस बैंक खाते में आएगा और आप इसे बदलना चाहते हैं तो आप जिस बैंक खाते में राशि प्राप्त करना चाहते हैं उस बैंक खाते में जाएं और अपना KYC करवाएं और यह बैंक में बताना होगा कि DBT(Direct Benefit Transfer or DBT is an attempt to change the mechanism of transferring subsidies launched by Government of India on 1 January 2013. This program aims to transfer subsidies directly to the people through their bank accounts.) लागू करें ताकि भविष्य में आपको सरकार द्वारा दिए गए सभी लाभ उसी बैंक खाते में प्राप्त हों।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here