उत्तर प्रदेश मातृभूमि योजना 2022: जानें क्या है योगी सरकार की मातृभूमि योजना?

0
969
उत्तर प्रदेश मातृभूमि योजना
उत्तर प्रदेश मातृभूमि योजना

उत्तर प्रदेश मातृभूमि योजना 2022:-

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने गांवों के विकास के लिए एक अहम योजना की शुरुआत की योजना की है | इसे ‘मातृभूमि योजना (Mathrubhumi Yojana)’ नाम दिया गया है | इस योजना के तहत गांवों के विकास के लिए अगर कोई व्यक्ति या संस्था कुछ प्रोजेक्ट शुरू करना चाहती है तो उसका 40% खर्चा राज्य सरकार देगी |

उत्तर प्रदेश से बड़ी संख्या में लोग ग्रामीण परिवेश से निकलकर देश के विभिन्न शहरों एवं विदेशों में कार्यरत हैं | ग्राम में निवासरत एवं बाहर गए सुविधा सम्पन्न लोग अपने गांव के विकास में अपना योगदान देना चाहते हैं, लेकिन कोई व्यवस्थित मंच उपलब्ध न होने की वजह से वांछित स्तर का सहयोग एवं योगदान प्रदान नहीं कर पा रहे हैं | इस बात को ध्यान में रखकर ही उत्तर प्रदेश सरकार ने मातृभूमि योजना की शुरुआत की है |

उत्तर प्रदेश मातृभूमि योजना की घोषणा:-

इस योजना की घोषणा मुख्यमंत्री जी के द्वारा सरकारी आवास 5 कालिदास मार्ग से 15 सितंबर 2021 को एक वर्चुअल कार्यक्रम का आयोजन किया गया जिसमें मुख्यमंत्री जी द्वारा इस योजना को आरंभ करने की घोषणा की गई |

इस कार्यक्रम के माध्यम से मुख्यमंत्री जी द्वारा यह भी जानकारी प्रदान की गई है कि सरकार गांवों के सामाजिक विकास के लिए लगातार कार्यरत है | उत्तर प्रदेश मातृभूमि योजना इसी बात को ध्यान में रखते हुए आरंभ की गई है |

इस योजना के माध्यम से गांवों में स्वास्थ्य केंद्र, आंगनवाड़ी, पुस्तकालय, स्टेडियम, व्यामशाला, ओपन जिम, पशु नस्ल सुधार केंद्र, फायर सर्विस स्टेशन आदि की स्थापना की जा सकेगी | इसके अलावा स्मार्ट विलेज का निर्माण करने के लिए सीसीटीवी लगवाने, सोलर लाइट, सीवरेज के लिए एसटीपी प्लांट लगवाने में नागरिकों की भागीदारी होगी |

इस योजना के तहत यदि कोई व्यक्ति या निजी संस्था किसी ग्राम पंचायत में विकास कार्य, अवस्थापना सुविधा का विकास एवं पंचायतीराज अधिनियम-1947 में प्रावधानित कार्यों को कराना करना चाहता है और कार्य की लागत की 60 प्रतिशत धनराशि वहन करने का इच्छुक है, तो शेष 40 प्रतिशत धनराशि की व्यवस्था राज्य सरकार करेगी |

उत्तर प्रदेश मातृभूमि योजना’ के प्रभावी क्रियान्वयन के लिए ‘उत्तर प्रदेश मातृभूमि सोसाइटी’ का गठन किया जाएगा | सोसायटी को 100 करोड़ की निधि उपलब्ध कराई जाएगी, जिसका उपयोग किसी योजना हेतु राज्यांश के बजट की उपलब्धता न होने पर किया जाएगा एवं बजट उपलब्ध होने पर इसे वापस लौटाया जाएगा |

Uttar Pradesh Mathrubhumi Yojana 2022 के लाभ तथा विशेषताएं:-

  • उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के द्वारा उत्तर प्रदेश मातृभूमि योजना का शुभारंभ किया गया है |
  • इस योजना के माध्यम से गांवों में होने वाले अवस्थापना विकास के विभिन्न कार्यों में नागरिकों को सीधे हिस्सेदारी प्रदान की जाएगी |
  • परियोजना पर होने वाला कुल लागत का 40% खर्च सरकार द्वारा वहन किया जाएगा एवं शेष 60% खर्च नागरिक की ओर से प्रदान किया जाएगा |
  • जिसके बदले में परियोजना का नाम सहयोगी व्यक्ति की इच्छा अनुसार रखा जाएगा |
  • जिससे कि संबंधित व्यक्ति योजना पर होने वाला आधा खर्च वाहन करके परियोजना का पूरा श्रेय प्राप्त कर सकता है |
  • इस योजना की औपचारिक शुरुआत के लिए ग्रामीण विकास और पंचायती राज विभाग को कार्ययोजना प्रस्तुत करने के निर्देश भी सरकार द्वारा प्रदान कर दिए गए हैं |
  • इस योजना को आरंभ करने की घोषणा 15 सितंबर 2021 को की गई है |
  • मुख्यमंत्री जी ने सरकारी आवास 5 कालिदास मार्ग पर एक वर्चुअल कार्यक्रम का आयोजन किया था |
  • इस कार्यक्रम के माध्यम से मुख्यमंत्री जी द्वारा यह भी जानकारी प्रदान की गई कि सरकार गांवों में सामाजिक विकास के लिए लगातार कार्यरत है |
  • इस योजना के माध्यम से गांवों में स्वास्थ्य केंद्र, आंगनवाड़ी, पुस्तकालय, स्टेडियम, व्यामशाला, ओपन जिम, पशु नस्ल सुधार केंद्र, फायर सर्विस स्टेशन आदि की स्थापना की जा सकेगी |
  • इसके अलावा सीसीटीवी लगवाना, सोलर लाइट, सीवरेज के लिए एसटीपी प्लांट लगवाने में भी नागरिकों की भागीदारी होगी |

उत्तर प्रदेश मातृभूमि योजना की पात्रता एवं महत्वपूर्ण दस्तावेज:-

  • आवेदक उत्तर प्रदेश का स्थाई निवासी होना चाहिए |
  • आधार कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • आय का प्रमाण
  • आयु का प्रमाण
  • राशन कार्ड
  • पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ
  • मोबाइल नंबर
  • ईमेल आईडी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here