शिशुओं के लिए राजस्थान सरकार ला रही है नवजात संरक्षण योजना 2020

0
921
राजस्थान नवजात संरक्षण योजना

राजस्थान नवजात संरक्षण योजना 2020:-

राजस्थान नवजात संरक्षण योजना– राजस्थान के कोटा में 100 से अधिक नवजात बच्चों की मौत के मामले में किरकिरी करवा चुकी प्रदेश सरकार अब नवजात सुरक्षा योजना लाने की तैयारी कर रही है | इस कड़ी में राजस्थान सरकार ने शिशुओं के लिए नवजात सुरक्षा योजना 2020 शुरू करने की घोषणा की है | स्वास्थ्य विभाग जल्द ही उन नवजात शिशुओं के लिए एक नीति लाएगा जो कम वजनी, कुपोषित और समय से पहले पैदा हुए हैं | नवजात सुरक्षा योजना का मुख्य उद्देश्य शिशु मृत्यु दर (IMR) को कम करना और नवजात शिशुओं की देखभाल करना है | इसके अलावा, कंगारू मदर केयर (Kangaroo Mother Care) पहल भी राज्य में शुरू की जाएगी |

माँ और बच्चे के बीच लगातार skin-to-skin contact प्रदान करने के लिए राजस्थान स्वास्थ्य विभाग कंगारू मदर केयर (Kangaroo Mother Care) तकनीक को बढ़ावा देगा | इसके अलावा, कंगारू मदर केयर पहल के तहत बच्चे को स्वस्थ रखने के लिए विशेष स्तन दूध पिलाया जाएगा जो एक प्राकृतिक इनक्यूबेटर है | राज्य में शिशु मृत्यु दर (IMR) और मातृ मृत्यु दर (MMR) को कम करने के लिए Nirogi राजस्थान अभियान पहले ही शुरू कर दिया गया है |

राजस्थान नवजात संरक्षण योजना 2020 की जरुरत क्यों पड़ी:-

नई नवजात सुरक्षा योजना 2020 से शिशु मृत्यु दर को और नीचे लाने में मदद मिलेगी | इस योजना का उद्देश्य नवजात शिशुओं के लिए स्वास्थ्य सुविधाओं में सुधार करना है | स्वास्थ्य विभाग ने राज्य सरकार की नरोगी राजस्थान योजना में कंगारू मदर केयर को भी शामिल करने का निर्णय लिया है | स्वास्थ्य सुविधाओं में सुधार करके नवजात शिशुओं की मृत्यु को रोकने के लिए राजस्थान में कंगारू मदर केयर प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे |

Also Read:-

राजस्थान राज्य सरकार कंगारू मदर केयर के लिए 77 मास्टर ट्रेनर तैयार करेगी जो हेल्थकेयर स्टाफ को प्रशिक्षित करने के लिए जिला और ब्लॉक स्तर तक जाएंगे | राजस्थान में, शिशु मृत्यु दर प्रति 1,000 जीवित जन्मों पर 35 मौतें हैं | राष्ट्रीय परिवार स्वास्थ्य सर्वेक्षण 2015-16 के अनुसार, राजस्थान में शिशु मृत्यु दर प्रति 1,000 जीवित जन्मों में 41 मौतें थी | स्वास्थ्य विभाग का नवजात सुरक्षा योजना, नरोगी राजस्थान योजना और कंगारू मदर केयर पहल की शुरुआत करके आईएमआर को और नीचे लाने का लक्ष्य है |

राजस्थान नवजात संरक्षण योजना

कंगारू मदर केयर (Kangaroo Mother Care) तकनीक:-

कंगारू मदर केयर (Kangaroo Mother Care) एक कम लागत वाली तकनीक है जो अत्यधिक व्यावहारिक है और लाखों नवजात शिशुओं को बिना किसी बोझ या स्वास्थ्य देखभाल लागत के बचाने की क्षमता रखती है | इस तकनीक को अभी भी रेखांकित किया गया है और यदि इसका सही उपयोग किया जाए तो यह पहल कई लोगों की जान बचा सकती है | स्वास्थ्य विभाग पिछले कुछ वर्षों से JK Lon अस्पताल में इस तकनीक का उपयोग कर रहा है और अब राजस्थान में डॉक्टरों और नर्सों को प्रशिक्षित किया गया है | कंगारू मदर केयर एक बच्चे को गर्म पानी में डालने की तरह है, जो एक यांत्रिक देखभाल है, लेकिन यह बेहतर परिणामों के साथ एक मानवीय देखभाल है |

राजस्थान नवजात संरक्षण योजना 2020 के मुख्य बिंदु:-

  • राजस्थान सरकार के स्वास्थ्य ने कहा हे की नवजात शिशुओं के लिए ‘कंगारू मदर केयर’ बेहतरीन concept है |
  • राजस्थान नवजात सुरक्षा योजना के तहत बिना किसी खर्च के केवल ‘स्पर्श चिकित्सा’ के जरिए बच्चा बेहतर स्वास्थ्य पा सकता है |
  • राजस्थान सरकार जल्द ही कंगारू मदर केयर पद्वति को भी ‘निरोगी राजस्थान’ का हिस्सा बना देगी |
  • राजस्थान सरकार इस योजना के लिए 77 मास्टर ट्रेनर्स तैयार करने जा रही हैं |
  • उन्होंने बताया कि प्रदेश भर में शिशु मृत्यु दर में हालांकि कमी आई है |
  • पहले जहां यह 41 प्रतिशत था वहीं अब 35 प्रतिशत रह गया है |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here