प्रयाग कुम्भ मेला 2019 में शाही स्नान की तिथियां

0
1326

प्रयाग कुम्भ मेला 2019:-

श्री योगी आदित्यनाथ (उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री) और श्री पियूष गोयल (केंद्रीय रेल मंत्री) ने प्रयागराज कुंभ मेला 2019 (Prayagraj Kumbh Mela 2019) के लिए आधिकारिक वेबसाइट की शुरुआत की है | यह Portal लोगों को कुंभ के पौराणिक, ज्योतिषीय, सामाजिक महत्व के बारे में जानने में सक्षम करेगा | लोग आधिकारिक वेबसाइट https://kumbh.gov.in/ पर आकर्षक, घूमने और देखने योग्य स्थान, शाही स्नान करने की तारीख, भोजन, रुकने का स्थान और अन्य चीजों के विवरण देख सकते हैं |

प्रयागराज में, देखने योग्य सबसे महत्वपूर्ण स्थान त्रिवेणी संगम है, जहां 3 पवित्र नदियों – गंगा, यमुना, सरस्वती का संगम होता है | लोग कुंभ में शाही स्नान, वैदिक मंत्रों का जाप, ज्ञान और सत्य का प्रचार,आकर्षक संगीत का अनुभव,बहुसंख्यक उपकरणों के ध्वनि की आवाज का अनुभव,और अत्यंत भक्ति के साथ संगम में पवित्र डुबकी लेते हैं |

प्रयागराज कुंभ मेला 2019 (Prayagraj Kumbh Mela 2019) में, भक्त कई दिव्य मंदिरों में प्रार्थनाएं कर सकते हैं और आनंद ले सकते हैं |

प्रयाग कुम्भ मेला 2019 की महत्ता:-

इलाहाबाद में प्रयाग कुंभ मेला कई कारणों से महत्वपूर्ण है जिनमें से 3 निम्नानुसार हैं:-

  • सबसे पहले कारण है दीर्घकालिक कल्पवास की परंपरा जिसका प्रयोग केवल प्रयाग में किया जाता है |
  • दूसरा कारण है त्रिवेणी संगम जिसे पृथ्वी का केंद्र माना जाता है |
  • तीसरा कारण है कि भगवान ब्रह्मा ने ब्रह्मांड बनाने के लिए यज्ञ का प्रदर्शन यहीं किया था |

यह तीर्थयात्रा का मंदिर है और कई लोग प्रयागराज में अनुष्ठान और तपस्या करते हैं | प्रयागराज कुंभ मेला 2019 (Prayagraj Kumbh Mela 2019) की आधिकारिक वेबसाइट https://kumbh.gov.in/ पर आप सभी विवरण पा सकते हैं |

प्रयाग कुम्भ मेला 2019 Mobile App:-

जैसा कि आप सभी को पता है प्रयागराज कुंभ मेला 2019 (Prayagraj Kumbh Mela 2019) नए साल के तुरंत बाद शुरू हो रहा है, यही वजह है कि राज्य सरकार ने इसके सफल आयोजन के लिए तैयारी तेज कर दी हैं | योगी सरकार लोगों को क्या करें और क्या न करें सहित सभी आवश्यक जानकारी प्रदान कर रही है | पूर्ण विवरण के लिए, उम्मीदवार ऊपर उल्लिखित आधिकारिक वेबसाइट देख सकते हैं या प्रयागराज कुंभ मेला 2019 (Prayagraj Kumbh Mela 2019) के लिए Android App डाउनलोड कर सकते हैं |

प्रयागराज कुंभ मेला 2019 Android App डाउनलोड करने के लिए Click Here

राज्य सरकार तीर्थयात्रियों तक बुनियादी सुविधाओं की उचित पहुंच सुनिश्चित करेगा | मुख्य उद्देश्य सुरक्षा सेवाएं, बेहतर यातायात प्रबंधन, प्रकाश व्यवस्था और स्वास्थ्य सुविधाएं प्रदान करना होगा |सरकार ने वर्ष 2018 में प्रयागराज मेला अथॉरिटी (Prayagraj Mela Authority 2018) स्थापित की थी | प्रयागराज कुंभ मेला 2019, में सरकार कुंभ की “दिव्यता” और “भव्यता” को बढ़ाने के लिए आधुनिक प्रौद्योगिकियों का इस्तेमाल करेगी |

प्रयाग कुम्भ मेला 2019 की शाही स्नान की तिथियां:-

कुंभ मेला 2019 में, लोग 15 जनवरी 2019 से 4 मार्च 2019 के बीच शाही स्नान कर सकते हैं | शाही स्नान करने की पूरी तिथियां नीचे दी गई हैं:-

मकर संक्रांति (पहला शाही स्नान) 14/15 जनवरी 2019 (सोमवार/मंगलवार)
पौष पूर्णमा 21 जनवरी 2019 (मंगलवार)
मौनी अमावस्या (दूसरा शाही स्नान) 4 फरवरी 2019 (मंगलवार)
बसंत पंचमी (तीसरा शाही स्नान) 10 फरवरी 2019 (रविवार)
माघी पूर्णिमा 19 फरवरी 2019 (मंगलवार)
महा शिवरात्रि 4 मार्च 2019 (सोमवार)

मकर संक्रांति (सूर्य के मकर में प्रवेश करते समय मग के महीने का पहला दिन) से शुरू होने वाले कुंभ में प्रत्येक दिन के स्नान को पवित्र स्नान माना जाता है |

मत्स्य पुराण में, मार्केंडेय ऋषि ने युधिष्ठिर को बताया था कि यह स्थान सभी देवताओं द्वारा संरक्षित है | लोग पूरे महीने के लिए यहाँ रह सकते हैं और पूजा कर सकते हैं | यह एक धारणा है कि कोई भी व्यक्ति जो इस पवित्र जल में डुबकी लगाता है, उसकी आने वाली 10 पीढ़ियों को पुनर्जन्म के चक्र से मोक्ष प्राप्त हो जाता है | इलाहाबाद कुंभ मेला 2019, 55 दिनों तक जारी रहेगा | लोग पूरी भक्ति और विश्वास के साथ यहां आते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here