दिल्ली कर्फ्यू ई-पास के लिए ऑनलाइन पंजीकरण कैसे करें?

0
1748
दिल्ली कर्फ्यू ई-पास
दिल्ली कर्फ्यू ई-पास kaise apply kare online

दिल्ली कर्फ्यू ई-पास (Delhi Curfew E-Pass):-

दिल्ली कर्फ्यू ई-पास – देशभर में लगातार बढ़ रहे कोरोनावायरस (COVID-19) के मामलों को देखते हुए कल केंद्र सरकार ने देश के नागरिकों के लिए 1.79 लाख करोड़ के राहत पैकेज की घोषणा करी थी। इसी बीच दिल्ली सरकार ने भी प्रदेश में नागरिकों के लिए किसी भी तरह के जरूरी सामानों की कमी ना हो इसके लिए किराने / दूध / दवा की दुकान के लिए कोरोनोवायरस (COVID-19) लॉकडाउन ई-पास पंजीकरण शुरू कर दिए हैं | अब जो लोग आवश्यक सेवाएं प्रदान करते हैं जैसे कि किराना, दूध विक्रेता, सब्जी विक्रेता, रसायनज्ञ, निजी क्षेत्र के कर्मचारी कर्फ्यू पास पाने के लिए आवेदन कर सकते हैं |

आवश्यक सेवाएं प्रदान करने वाले ऐसे लोग लॉकडाउन ई-पास WhatsApp या जिला मजिस्ट्रेट (DM) कार्यालयों में प्राप्त कर सकते हैं | अरविंद केजरीवाल सरकार यह समाधान उन आवश्यक सेवाओं में लगे लोगों को प्रदान किया है जिन्हें कोरोनावायरस (COVID-19) लॉकडाउन के दौरान बाहर जाने की आवश्यकता है जिन्हें पुलिस द्वारा रोका जा रहा है | दिल्ली जिला प्रशासन ने 26 मार्च 2020 को राष्ट्रीय राजधानी में आवश्यक सेवाएं प्रदान करने के लिए काम करने वालों के लिए इलेक्ट्रॉनिक पास (E-Pass) जारी करने की प्रक्रिया को कारगर बनाने के लिए रंग कोडिंग तंत्र की शुरुआत की है |

LG अनिल बैजल ने कहा कि सरकार दिल्ली में लॉकडाउन को सख्ती से लागू करना सुनिश्चित करेगा और मुख्यमंत्री केजरीवाल ने लोगों से घर पर रहने का आग्रह किया |

Delhi Coronavirus Lockdown E-Pass Registration:-

दिल्ली सरकार सब्जी विक्रेताओं, किराना विक्रेताओं और दूध विक्रेताओं के हित में ई-पास (E-Pass) जारी कर रहा है | ये ई-पास (E-Pass) कोरोनो वायरस के प्रसार को रोकने के लिए लागू 21 दिनों के लॉकडाउन के दौरान राष्ट्रीय राजधानी में दैनिक उपयोग की वस्तुओं की सुचारू आपूर्ति सुनिश्चित करेंगे | राष्ट्रव्यापी COVID 19 लॉकडाउन अवधि 15 अप्रैल 2020 तक चलने के लिए पूरी तरह से तैयार है | दिल्ली कोरोनावायरस (COVID 19) लॉकडाउन ई-पास पंजीकरण व्हाट्सएप के माध्यम से जारी किए जा सकते हैं और इसका विवरण हेल्पलाइन नंबर 1031 या जिला मजिस्ट्रेट कार्यालयों में उपलब्ध कराया जाएगा |

मुख्यमंत्री ने यह भी स्पष्ट किया कि निकटतम किराने की दुकानों पर जाने के लिए सार्वजनिक कर्फ्यू पास की आवश्यकता नहीं है | घबराहट से बचने के लिए, मुख्यमंत्री ने आश्वासन दिया कि सरकार यह सुनिश्चित करेगा कि दूध, सब्जियां, किराना वस्तुएं और दवाईयां बेचने वाली दुकानें खुली रहें | मुख्यमंत्री ने यह भी कहा कि आवश्यक वस्तुओं की कोई कमी नहीं है |

COVID 19 Curfew E-Pass से किसे मदद करेगा:-

दिल्ली राज्य सरकार में निजी फर्मों, राशन की दुकानों और यहां तक ​​कि मीडिया कर्मियों से विभिन्न मामलों की प्रतिक्रिया मिली थी | ऐसे सभी लोगों को सड़कों पर पुलिसकर्मियों द्वारा रोका जा रहा था और E-Pass से ऐसी स्थितियों में मदद मिलेगी | ये E-Pass पारदर्शिता सुनिश्चित करेंगे और लॉकडाउन के दौरान आवश्यक सेवाओं में वृद्धि करेंगे | बहुत से लोग विशेष रूप से कई दूध संयंत्र मालिकों जिनके पास वैध आईडी कार्ड नहीं है, उन्हें अब E-Pass जारी किया जाएगा |

सभी दिल्ली निवासी जो किसी भी कारण से शहर से बाहर फंसे हैं, उन्हें अपना पता दिखाने पर किसी भी वैध आईडी या निवास प्रमाण के उत्पादन में प्रवेश करने की अनुमति दी जाएगी | बाहर से आने वाले लोग ई-पास के लिए अधिकृत मोबाइल नंबरों पर व्हाट्सएप के माध्यम से या ई-मेल आईडी ddma.delhi@nic.in पर आवेदन कर सकते हैं | ऐसे लोगों को अपने संबंधित दस्तावेजों के साथ अपने विशेष रूप से बादाम प्रदान करने की आवश्यकता होती है | ऐसे सभी ई-पास एक ही WhatsApp या आवेदकों के Email पर प्राप्त किए जाएंगे |

दिल्ली कर्फ्यू ई-पास के लिए ऑनलाइन भी अप्लाई कर सकते हैं, इसके लिए आपको एक वेबसाइट https://epass।jantasamvad।org/epass/relief/english/ पर जाना होगा और पूछ जा रही जानकारी को भरना होगा, जिसके बाद आपको इ-पास मिल जायेगा।

दिल्ली कर्फ्यू ई-पास

पुलिस उत्पीड़न के लिए दिल्ली हेल्पलाइन नंबर:-

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने 21 दिन की लॉकडाउन के दौरान पुलिस द्वारा किसी को परेशान करने या बदतमीजी करने पर अपने नोटिस में लाने के लिए हेल्पलाइन नंबर 011-22459536 भी जारी किया है | इसके अलावा, दिल्ली सरकार में संभागीय आयुक्त के कार्यालय में और सभी जिला मजिस्ट्रेट कार्यालयों में 24 × 7 नियंत्रण कक्ष है | एक ACP रैंक का अधिकारी हर समय जिला मजिस्ट्रेट के कार्यालयों के साथ उचित संपर्क सुनिश्चित करने के लिए नियंत्रण कक्ष में उपलब्ध होगा |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here