राजस्थान के 5वें उप-मुख्यमंत्री सचिन पायलेट का जीवन परिचय

0
1582

सचिन पायलट (Sachin Pilot)

सचिन पायलट एक भारतीय राजनेता हैं जो भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस (INC) पार्टी से आते हैं | वर्तमान में राजस्थान विधानसभा चुनावों में कांग्रेस को मिली जीत के बाद सचिन पायलट राजस्थान के 5वें उप मुख्यमंत्री बनने जा रहे हैं | सचिन पायलट राजस्थान के टोंक विधानसभा क्षेत्र से विधानसभा चुनाव जीता हैं |

सचिन पायलट को उड़ान का शौक है और वह एक अच्छा shooter भी है | उन्होंने वर्ष 1995 में NY, USA से अपना निजी पायलट लाइसेंस (PPL) प्राप्त किया | Shooting में, उन्होंने कई राष्ट्रीय राइफल और पिस्तौल शूटिंग चैम्पियनशिप में दिल्ली का प्रतिनिधित्व किया | उन्हें क्षेत्रीय सेना में लेफ्टिनेंट (Lieutenant) के रूप में भी कमीशन किया गया है | इसलिए उन्हें लेफ्टिनेंट पायलट के रूप में भी जाना जाता है |

सचिन पायलट का व्यक्तिगत जीवन:-

सचिन पायलट कांग्रेसी नेता स्वर्गीय श्री राजेश पायलट और रमा पायलट का बेटा है | उनके पिता भारत के केंद्रीय मंत्री रह चुके हैं | सचिन पायलट का जन्म 7 सितंबर, 1977 को सहारनपुर उत्तरप्रदेश में एक गुर्जर परिवार में हुआ था | सचिन पायलट ने St. Stephen’s College (दिल्ली विश्वविद्यालय) से अंग्रेजी साहित्य में अपनी स्नातक की डिग्री (Hons) प्राप्त की |

स्नातक होने के बाद, उन्होंने BBC के दिल्ली ब्यूरो में काम किया, और बाद में General Motors Corporation के लिए काम करने लगे | सचिन पायलट ने Wharton Business School (पेंसिल्वेनिया विश्वविद्यालय, USA) से अपनी MBA की डिग्री पूरी की, जहां उन्होंने multinational management और finance में विशेषज्ञता प्राप्त की |

15 जनवरी 2004 को सचिन पायलट ने सारा अब्दुल्ला से शादी की | सारा अब्दुल्ला जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारूक अब्दुल्ला की पुत्री है | सचिन पायलट और सारा अब्दुल्ला के 2 बच्चे हैं आरान और विहान |

सचिन पायलट का राजनीतिक सफर:-

  • वर्ष 2004: इस वर्ष वे राजस्थान के दौसा संसदीय निर्वाचन क्षेत्र से सचिन पायलट 14वीं लोक सभा के लिए चुने गए थे | इन्होंने 1,14,865 वोटों के विशाल अंतर से बीजेपी के करतर सिंह भड़ाना को हराया था | उसी वर्ष वे गृह मामलों पर लोकसभा की स्थायी समिति के सदस्य बने |
  • वर्ष 2006: इस वर्ष वे नागरिक उड्डयन मंत्रालय में परामर्श समिति के सदस्य बने |
  • वर्ष 2009: बीजेपी की किरण महेश्वरी को हराकर पायलट को 15वीं लोकसभा में फिर से निर्वाचित हुए | और उन्हें संचार और आईटी राज्य मंत्री बनाया गया |
  • वर्ष 2012: इस वर्ष उन्हें कॉर्पोरेट मामलों का राज्य मंत्री बनाया गया |
  • वर्ष 2014: इस वर्ष सचिन पायलट ने अजमेर निर्वाचन क्षेत्र से लोकसभा चुनाव लड़ा और भाजपा के संवर लाल जाट ने उन्हें 1,71,983 वोटों के अंतर से पराजित किया | 13 जनवरी 2014 को, उन्हें राजस्थान प्रदेश कांग्रेस कमेटी का अध्यक्ष नियुक्त किया गया |
  • वर्ष 2018: पायलट ने दिसंबर 2018 में टोंक विधानसभा क्षेत्र से विधानसभा चुनाव जीता |उन्होंने 54197 वोटों से बीजेपी के युूनस खान को हराया | उन्होंने 17 दिसंबर 2018 को राजस्थान के उपमुख्यमंत्री के रूप में शपथ ली |

सचिन पायलट से जुड़े रोचक तथ्य:-

  • सचिन पायलट, केंद्रीय मंत्री रह चुके कांग्रेसी नेता स्वर्गीय श्री राजेश पायलट के सुपुत्र हैं |
  • सचिन पायलट बचपन से ही अपने पिताजी के पद चिन्हों पर चलना चाहते थे और Air Force Pilot बनना चाहते थे | पर अपनी कमजोर eyesight के कारण वे ऐसा नहीं कर पाए |
  • उन्हें उड़ान भरने का बहुत शौक है इसी वजह से उन्होंने अपने पिताजी को बताये बिना private flying license बनवा लिया था |
  • Wharton Business School (पेंसिल्वेनिया विश्वविद्यालय, USA) से अपनी MBA की डिग्री पूरी करने के बाद वे banker बनना चाहते थे |
  • St. Stephen’s College (दिल्ली विश्वविद्यालय) से अंग्रेजी साहित्य में अपनी स्नातक की डिग्री (Hons) प्राप्त करने के बाद उन्होंने BBC के दिल्ली ब्यूरो में काम किया |
  • इसके पश्चात उन्होंने General Motors Corporation के लिए काम किया |
  • Wharton Business School (पेंसिल्वेनिया विश्वविद्यालय, USA) में
    अपनी MBA की डिग्री के दौरान वो जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारूक अब्दुल्ला की पुत्री और ओमर अब्दुल्ला की बहन सारा अब्दुल्ला से मिले |
  • वर्ष 2012 में भारत के पहले केंद्रीय मंत्री बने जो क्षेत्रीय सेना में एक अधिकारी के रूप में चुने गए |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here