केशव प्रसाद मौर्या का जीवन परिचय, Keshav prasad maurya Biography in hindi

0
4309

केशव प्रसाद मौर्या:- Keshav prasad maurya Biography

केशव प्रसाद मौर्या उत्तर प्रदेश की राजनीति में एक अहम स्थान रखते हैं | यही कारण है कि पिछली लोकसभा चुनाव में मिली जीत के बाद उन्हें प्रदेश का उपमुख्यमंत्री बनाया गया था|

केशव प्रसाद मौर्य भारतीय राजनीति में भारतीय जनता पार्टी (BJP) से सम्बंधित हैं | वर्ष 2014 के लोकसभा चुनावों में केशव प्रसाद मौर्य उत्तर प्रदेश की फूलपुर सीट से भारतीय जनता पार्टी के टिकट पर चुनाव लड़कर निर्वाचित हुए | इसके पश्चात 19 मार्च 2017 को इन्होंने उत्तर प्रदेश के उप-मुख्यमंत्री पद की शपथ ली |

Keshav prasad maurya Biography

केशव प्रसाद मौर्या का जन्म और प्रारंभिक शिक्षा:- Keshav prasad maurya Biography

केशव प्रसाद मौर्य का जन्म 7 मई सन 1969 में इलाहाबाद के कौशाम्बी जिले के एक छोटे से क्षेत्र सिराथू में एक किसान परिवार में हुआ था | इनके पिता का नाम श्याम लाल मौर्य और माता का नाम धनपति देवी मौर्य है | इनके पिता एक किसान थे |

इनका बचपन बहुत कठिन था | यही कारण था कि इन्होंने कृषि कार्यों में अपने माता पिता के साथ हाथ बटाते हुए चाय की दुकान पर भी काम किया और अखबार भी बेचें | इनकी पत्नी का नाम राजकुमारी देवी मौर्य है और इनको 3 सन्तानों का आशीर्वाद प्राप्त हुआ |

केशव प्रसाद मौर्य ने इलाहाबाद में हिन्दू साहित्य सम्मेलन से हिंदी साहित्य में स्नातक तक का अध्ययन किया |

केशव प्रसाद मौर्या का राजनीतिक करियर

अपने राजनीतिक कैरियर कि शुरुआत में ये बजरंग दल से जुड़े | इसके पश्चात वे राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) के सम्पर्क में आने के बाद विश्व हिन्दू परिषद (VHP) से भी जुड़े | और करीब 18 साल तक केशव प्रसाद मौर्य राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) और विश्व हिन्दू परिषद (VHP) के प्रचारक रहे | दोनों संस्थानों में इतना समय बिताने कि वजह से इनके राजनीतिक कैरियर को गहराई मिली |

केशव प्रसाद मौर्या:

साथ ही श्रीराम जन्म भूमि और गोरक्षा व हिन्दू हित के लिए अनेकों आन्दोलन किया और इसके लिए जेल भी गये | लोकसभा चुनाव में 2 लगातार हार के साथ इनकी सक्रीय राजनीती कि शुरुआत हुई | उन्होंने 2002, 2007 और 2012 विधानसभा चुनावों में चुनाव लड़ा है और 2014 में सीटों के सीरथु विधानसभा क्षेत्र से पूर्व विधायक रहे, उन्हें फुलपुर सीट से सांसद के रूप में चुने जाने से 5 लाख वोट और 52 प्रतिशत वोट मिले थे |

8 अप्रैल 2016 को भारतीय जनता पार्टी ने उन्हें उत्तर प्रदेश राज्य का पार्टी प्रमुख चुना | देश क प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने इनका सदैव समर्थन किया | इसके पीछे मुख्य वजह इनका पिछड़े क्षेत्र से आना और कट्टरपंथी हिंदुत्व राजनीति थी | इस वजह से हिंदुत्व और पिछड़े वर्ग के नाम पर पड़ने वाले वोट दोनों पार्टी के ही खाते में पड़े | केशव प्रसाद मौर्य 18 मार्च 2017 तक उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री के रूप में नियुक्त किया गया था और 19 मार्च 2017 को उत्तर प्रदेश के उप-मुख्यमंत्री पद की शपथ ली |

केशव प्रसाद मौर्या:

केशव प्रसाद मौर्या से जुड़े विवाद:-

  • मौर्या पर वर्ष 2011 में उनके दोस्तों के साथ एक गरीब किसान मोहम्मद गुलाम गौस कि हत्या का आरोप लगा |
  • इसके लिए वे जेल भी जा चुके हैं। हालांकि‍ इस केस में वे बरी हो चुके हैं |
  • लोकसभा चुनाव के समय चुनाव आयोग को दिए हलफनामे से साफ है कि उन पर दस गंभीर आरोपों में मामले दर्ज हैं |
  • जिसमें 302 (हत्या), 153 (दंगा भड़काना) और 420 (धोखाधड़ी) जैसे आरोप भी शामिल हैं |


Go to Homepage

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here