MP: आयुष्मान योजना से जुडे मध्य प्रदेश के 996 अस्पताल, देखिए कौन से जुड़े हॉस्पिटल आयुष्मान योजना से

0
586
आयुष्मान भारत योजना से जुड़े अस्पताल
आयुष्मान भारत योजना से जुड़े अस्पताल

आयुष्मान भारत योजना से जुड़े अस्पताल MP- आर्थिक रूप से कमजोर परिवारों के सदस्यों को सालाना पांच लाख तक का फ्री इलाज मुहैया कराने के लिए मप्र में 23 सितंबर 2018 को आयुष्मान भारत योजना शुरू की गई थी। इस योजना से अब तक मप्र के 996 अस्पताल जुड़ गए हैं। इनमें 472 सरकारी और 524 निजी अस्पताल इम्पैनल हुए हैं। आयुष्मान कार्ड धारी मरीज इन अस्पतालों में फ्री इलाज करा सकते हैं। 

आयुष्मान भारत योजना से जुड़े अस्पताल Madhya Pradesh

आयुष्मान भारत योजना से जुड़े अस्पताल

अपने जिले के आयुष्मान भारत योजना से संबद्ध अस्पतालों की सूची जानने के लिए अपनाएं ये प्रक्रिया… आयुष्मान भारत योजना से जुड़े अस्पताल

स्टेप 1. सबसे पहले इस लिंक पर जाएं…क्लिक करें। 

आयुष्मान भारत योजना से जुड़े अस्पताल

स्टेप 2. इसके बाद State कॉलम में Madhya Pradesh और District कॉलम में अपने जिले का चयन करें।

स्टेप 3. Hospital Type कॉलम में सरकारी/निजी अस्पताल श्रेणी का चयन करें या इसे खाली छोड़ दें।

स्टेप 4. Speciality कॉलम में यदि बीमारी श्रेणी का पता हो तो दर्ज करें अन्यथा खाली छोड़ें।

स्टेप 5. Hospital Name का कॉलम खाली छोड़ें और Empanelment Type कॉलम में PMJAY का चयन करें।

स्टेप 6.  नीचे दिए रिक्त स्थान में Captchaode डालें और Search बटन पर क्लिक करें। 

स्टेप 7.  इसके बाद अस्पतालों की सूची दिखने लगेगी|

आयुष्मान भारत योजना से जुड़े अस्पताल

जानकारी और शिकायत के लिए इन टोल फ्री नंबर्स पर करें संपर्क :

आयुष्मान भारत निरामयम मध्यप्रदेश योजना के तहत अलग-अलग बीमारियों के नि:शुल्क इलाज के लिए अलग-अलग अस्पतालों को चिह्नित और संबद्ध किया गया है। अस्पताल में इलाज कराने जाएं तो आयुष्मान के तहत वहां उपलब्ध मुफ्त उपचार के बारे में जानकारी लेने के लिए टोलफ्री हेल्पलाइन नम्बर 18002332085 या 14555 पर कॉल कर सकते है। अस्पताल द्वारा पैसे मांगे जाने और अन्य शिकायतों के लिए भी इन नंबर्स पर कम्पलेन कर सकते हैं।

ऐसे बनवा सकते हैं आयुष्मान कार्ड:

आयुष्मान भारत योजना का लाभ लेने के लिए पात्र हितग्राही पूरे प्रदेश में कहीं भी लोक सेवा केन्द्र, कॉमन सर्विस सेन्टर, यूटीआई-आईटीएसएल, चिन्हित ग्राम रोजगार सहायक व वार्ड इंचार्ज और भर्ती पर आयुष्मान योजना में इम्पैनल अस्पतालों में आयुष्मान कार्ड बनवा सकते हैं।

5 जनवरी से आपके द्वार आयुष्मान का तीसरा राउंड शुरू:

मध्यप्रदेश में1.08 करोड पात्र परिवारों के 4.7 करोड सदस्यों को स्वास्थ्य बीमा योजना का लाभ मिल सके, इसके लिए 5 जनवरी 2022 से आपके द्वार आयुष्मान के तीसरे चरण का अभियान चलाया जा रहा है।

55 फीसदी हितग्राहियों के आयुष्मान कार्ड बने:

अब तक प्रदेश में लगभग 2.61 करोड (55.5%) आयुष्मान कार्ड बनाये जा चुके हैं। आयुष्मान कार्ड बनाने में मध्यप्रदेश राष्ट्रीय स्तर पर देश में पहले नंबर पर है। मार्च 2022 तक 75% पात्र हितग्राहियों के आयुष्मान कार्ड बनाने का लक्ष्य तय किया गया है।

94 फीसदी पात्र परिवारों में एक सदस्य का कार्ड बना:

आयुष्मान भारत निरामयम योजना के अन्तर्गत मध्यप्रदेश में 94 प्रतिशत पात्र परिवारों में कम से कम एक सदस्य का आयुष्मान कार्ड बनाया गया है। आयुष्मान भारत निरामयम मप्र के सीईओ अनुराग चौधरी ने बताया कि इस योजना से लगातार अस्पताल जुड़ रहे हैं। सामान्य बीमारियों से लेकर अंग प्रत्यारोपण में आयुष्मान योजना से गरीब मरीजों को लाभ मिल रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here