Smriti Mandhana Biography: स्मृति मंधाना ने शतक जड़ रचा इतिहास

0
1333
smriti mandhana biography in hindi
smriti mandhana biography in hindi, BF, Husband, Age

Smriti Mandhana Biography in Hindi:-

भारत की सलामी बल्लेबाज स्मृति मंधाना ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेले जा रहे Day/Night Test (pink-ball Test) में शतक लगाकर इतिहास रच दिया है | वह भारत की पहली महिला क्रिकेटर बन गई हैं जिन्होंने Day/Night Test Match (pink-ball Test) में शतक लगाया है | इसके अलावा वह भारत की पहली खिलाड़ी हैं जिन्होंने ऑस्ट्रेलिया के विरुद्ध टेस्ट मैच में शतक लगाया है। यह मंधाना का पहला टेस्ट शतक है |

ऑस्ट्रेलिया की सरजमीं पर टेस्ट क्रिकेट में शतक लगाने वाली स्मृति भारत की पहली बल्लेबाज हैं | इसके अलावा वह पहली नॉन इंग्लिश महिला बल्लेबाज हैं जिन्होंने कंगारूओं की धरती पर शतक लगाया है | स्मृति मंधाना ने अपना शतक चौका लगाकर पूरा किया | उन्होंने यह स्कोरिंग शॉट ऑस्ट्रेलिया की गेंदबाज एलियस पेरी की गेंद पर लगाया | मंधाना ने पहला टेस्ट शतक 171 गेंदों पर पूरा किया | उनके इस शतक के जरिए टीम इंडिया बड़े स्कोर की तरफ अग्रसर है | स्मृति मंधाना ने तीन अंकों के निशान को पार करने के लिए 171 गेंदें लीं और 127 रन पर आउट हो गईं | मंधाना ने कैरारा ओवल में 216 गेंदों में 22 चौकों और एक छक्के की मदद से 127 रन बनाए |

स्मृति मंधाना कौन है:- Smriti Mandhana Biography in Hindi

Smriti Mandhana Biography in Hindi

स्मृति मंधाना एक भारतीय महिला क्रिकेट खिलाड़ी है, जों भारतीय महिला क्रिकेट टीम के लिए खेलती है | यह मुख्य रूप से बांए हाथ से बल्लेबाजी करती है जिन्होंने 2017 के महिलाक्रिकेट विश्व कप में दो शतक भी लगाये थे | स्मृति मंधाना का जन्म 18 जुलाई 1996 को मुंबई (महाराष्ट्र) में हुआ था | उनके माता का नाम स्मिता और पिता का नाम श्रीनिवास मंधाना हैं | उनके परिवार में माता पिता के अलावा एक भाई श्रवण हैं |

जब स्मृति दो साल ही थी तबहीं उनके माता पिता माधवनगर, सांगली में बस गए थे | स्मृति ने अपनी प्रारंभिक पढाई माधवनगर से ही की | स्मृति को क्रिकेट का शौक तब लगा जब वह अपने भाई को क्रिकेट खेलते देखती थी उनके भाई ने महाराष्ट्र के लिए अंडर-15 टीम में खेला था | जिसके बाद से ही स्मृति ने इनमे अपना करियर बनाने के बारे में सोच लिया था | जब स्मृति मात्र 11 साल की ही थी तब उन्हें अंडर 19 टीम के लिए सेलेक्ट कर लिया गया |

स्मृति मंधाना ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ भारत की तरफ से क्रिकेट के तीनों प्रारूपों में सबसे ज्यादा व्यक्गित स्कोर बनाने वाली पहली महिला खिलाड़ी हैं। कंगारू महिला टीम के खिलाफ  उनका स्कोर 108 रन नाबाद टेस्ट, 102 रन वनडे और टी-20 इंटरनेशनल में 66 रन बनाए हैं | स्मृति मंधाना दुनिया की पहली बल्लेबाज बन गई हैं जिन्होंने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सबसे ज्यादा व्यक्तिगत स्कोर बनाया है | उन्होंने 124 रन बनाते ही यह उपलब्धि हासिल की | इस मामले में मंधाना ने मॉली हाइड को पीछे छोड़ दिया |

स्मृति मंधाना का डोमेस्टिक करियर:- Smriti Mandhana Biography in Hindi

  • स्मृति ने महज नौ वर्ष की आयु से ही अपने क्रिकेट के करियर की शुरुआत की थी | इस दिशा में उनको पहली महत्वपूर्ण सफलता तब मिली जब अंडर 15 में इनका चुनाव हुआ | इसके बाद स्मृति ने कभी मुड़ कर नहीं देखा | करियर में एक बेहतरीन मोड़ तब आया जब स्मृति को महाराष्ट्र की अंडर 19 की ओर से खेलने का मौका मिला | घरेलू क्रिकेट में शुरू से ही स्मृति का प्रदर्शन शानदार रहा |
  • 2013 स्मृति के लिए एक महत्वपूर्ण वर्ष था क्योंकि इसी वर्ष उन्होंने महाराष्ट्र और गुजरात के बीच हो रहे मैच में सिर्फ 154 गेंदों में 224 रन बनाया था | अपने इस शानदार प्रदर्शन के कारण स्मृति अखबार की सुर्खियों में छा गई थीं | इस प्रकार स्मृति को देश की पहली महिला क्रिकेटर बनने का गौरव प्राप्त हुआ जिन्होंने किसी एक दिवसीय मैच में दोहरा शतक बनाया हो | इसके बाद भी स्मृति का बेहतरीन खेल जारी रहा |
  • साल 2016 भी स्मृति के कैरियर का एक महत्वपूर्ण वर्ष रहा जब उन्होंने विमेन चैलेंज ट्रॉफी में तीन अर्धशतक बनाकर अपनी टीम की जीत को सुनिश्चित किया | इस टूर्नामेंट में उन्होंने कुल मिलाकर 194 रन बनाए थे जिसके कारण वो इस टूर्नामेंट की सर्वश्रेष्ठ स्कोरर साबित हुईं |

स्मृति मंधाना का इंटरनेशनल क्रिकेट करियर:-

  • स्मृति का इंटरनेशनल क्रिकेट कैरियर उनके डोमेस्टिक क्रिकेट करियर से भी अधिक रोचक है | उनके इंटरनेशनल टेस्ट क्रिकेट करियर की शुरुआत सन 2014 में इंग्लैंड के खिलाफ वर्मस्ले पार्क में हुई थी | इस मैच की दोनो इनिंग्स को मिला कर उन्होंने कुल 73 रन बनाए थे और इस तरह अपनी टीम की जीत सुनिश्चित की थी | इसके पहले उन्होंने 2013 में बांग्लादेश के विरुद्ध OID और टी 20 खेल कर अंतराष्ट्रीय क्रिकेट में कदम रखा था |
  • साल 2016 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ उन्होंने अपने पहला इंटरनेशनल शतक जड़ा था | उन्हीं 109 गेंदों पर 102 रन बनाए थे | इसके बाद स्मृति एक मात्र भारतीय खिलाड़ी बनी जिन्हे 2016 में ICC ने महिला टीम के नामों में जगह दी थी |
  • स्मृति की कई महत्वपूर्ण उपलब्धियों में एक उपलब्धि ये भी है कि वो 2017 वर्ल्ड कप में उस महिला टीम की सदस्या थी जिसने इंग्लैंड को कड़ी टक्कर दी थी | इसके साथ साथ स्मृति ने अंतर्राष्ट्रीय T20, 2019 में चौबीस गेंदों पर न्यूजीलैंड के विरुद्ध सबसे तेज अर्धशतक लगा कर रिकॉर्ड बनाया था |

स्मृति मंधाना को मिले प्रमुख पुरस्कार:-

  • स्मृति को वर्ष 2019 में ICC Women Cricketer of the Year का अवार्ड मिला था |
  • स्मृति को वर्ष 2019 में ही ICC Women OID Player of the Year के साइकिल से भी सम्मानित किया जा चुका है |
  • वर्ष 2018 में BCCI ने उन्हें Best Women International Cricketer का अवार्ड दिया था |
  • भारत सरकार द्वारा उन्हें 2019 में अर्जुन पुरस्कार से भी सम्मानित किया गया है |

Frequently Asked Questions (FAQs):-

स्मृति मंधाना का जन्म कहां हुआ था?

महाराष्ट्र में

स्मृति मंधाना अंतरराष्ट्रीय टेस्ट क्रिकेट की शुरुआत कब की?

2014

स्मृति मंधाना को अर्जुन पुरस्कार कब मिला?

2019

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here