प्रधान मंत्री जन आरोग्य योजना के बारे में विस्तार से जानें

1
1813

प्रधान मंत्री जन आरोग्य योजना (Pradhan Mantri Jan Arogya Yojana):-

प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने 25 सितंबर 2018 को “प्रधान मंत्री जन आरोग्य योजना/Pradhan Mantri Jan Arogya Yojana (PMJAY)” के शुभारंभ की घोषणा की है | यह प्रधान मंत्री जन आरोग्य योजना (PMJAY) देश के गरीब लोगों के लिए एक मेगा राष्ट्रीय स्वास्थ्य संरक्षण योजना (NHPS) है |

प्रधान मंत्री जन आरोग्य योजना (PMJAY) के तहत माध्यमिक और तृतीयक Hospitalization के लिए 5 लाख रुपये का स्वास्थ्य बीमा मुहैया कराया जाएगा | यह आयुष्मान भारत योजना (Ayushman Bharat Yojana) लगभग 50 करोड़ गरीब लोगों को लाभान्वित करेगी | और उन्हें अस्पतालों में cashless और paperless उपचार प्रदान करेगी |

सभी बीमाकृत लोग किसी भी सूचीबद्ध अस्पताल में इलाज के लिए दावा कर सकते हैं और NHPM उपचार पैकेज दरों पर उपचार का लाभ उठा सकते हैं | प्रधान मंत्री जन आरोग्य योजना (PMJAY) उन सभी ग्रामीण और शहरी लाभार्थियों के लिए लागू होगी जिनका नाम SECC-2011 सूची में दिखाई देता है |

इसके लिए आयुष्मान भारत योजना का कोई ऑनलाइन आवेदन पत्र नहीं होगा और साथ ही उन लोगों के खिलाफ धोखाधड़ी दिशानिर्देश भी तैयार किए जाएंगे जो बीमा लाभ प्रदान करने के लिए धन की मांग करते हैं | प्रधान मंत्री जन आरोग्य योजना (PMJAY) के लाभों का फायदा उठाने के लिए लोग किसी भी Health and Wellness Center पर जा सकते हैं |

सभी आयुष्मान भारत योजना  लाभार्थियों को आयुष्मान परिवार कार्ड दिए जाएंगे और आयुष्मान मित्रों को सहायता के लिए प्रशिक्षित किया जाएगा |

प्रधान मंत्री जन आरोग्य योजना की मुख्य बातें:-

  • प्रधान मंत्री जन आरोग्य योजना (PMJAY) के तहत प्रत्येक परिवार को प्रति वर्ष 5 लाख रुपये का स्वास्थ्य बीमा कवर प्रदान किया जाएगा |
  • लगभग 10.74 करोड़ गरीब और आर्थिक रूप से कमजोर परिवार जिनके नाम SECC-2011 सूची में दर्ज हैं वे इस योजना के लिए पात्र होंगे | परिवार के आकार की और उम्र को कोई अधिकतम सीमा निश्चित नहीं की गई है |
  • कार्यान्वयन के माध्यम का फैसला करने के लिए राज्यों को flexibility प्रदान की गई है |
  • लाभ पूरे देश में portable होंगे |
  • लगभग 85% ग्रामीण परिवारों और 60% शहरी परिवारों को पहले ही चुना जा चुका है |
  • इसे 25 सितंबर 2018 को पंडित दीनदयाल उपाध्याय की जयंती के अवसर पर शुरू किया जाएगा |

प्रधान मंत्री जन आरोग्य योजना के कार्यान्वयन के महत्वपूर्ण बिन्दु:-

 

  • इसकी घोषणा 1 फरवरी 2018 को केंद्रीय बजट 2018 में की गई थी |
  • राज्य स्तरीय परामर्श 15 और 16 फरवरी 2018 को आयोजित किया गया था |
  • केंद्रीय मंत्रिमंडल ने 21 मार्च 2018 को आयुष्मान भारत योजना (Ayushman Bharat Yojana) को मंजूरी दे दी थी |
  • 30 अप्रैल 2018 को आयुष्मान भारत दिवस (लाभार्थी पहचान की शुरुआत की तारीख) के रूप में मनाया जाएगा |
  • राष्ट्रीय स्वास्थ्य एजेंसी (NHA) को 11 मई 2018 को शामिल किया गया था |
  • 14 मई 2018 को पहले MoU पर हस्ताक्षर किए गए थे |
  • 14 जून 2018 को Ministers Conclave आयोजित किया गया था |
  • 4 जुलाई 2018 को Hospital Empanelment Portal live किया गया था |
  • 15 अगस्त 2018 को प्रधान मंत्री जन आरोग्य योजना (PMJAY) की घोषणा की गई थी |
  • आयुषमान भारत – प्रधान मंत्री जन आरोग्य योजना (Ayushman Bharat- PMJAY) का प्रस्तावित प्रक्षेपण 25 सितंबर 2018 को है |

Ayushman Bharat- PMJAY के कार्यान्वयन के माध्यम:-

प्रत्येक राज्य आयुषमान भारत – प्रधान मंत्री जन आरोग्य योजना (AB-PMJAYको लागू करने के लिए अपने mode का चयन कर सकता है | प्रत्येक राज्य के लिए कुल 3 मोड रखे गए हैं – Insurance Mode, Trust Mode और Mixed Mode

इस आयुषमान भारत – प्रधान मंत्री जन आरोग्य योजना (AB-PMJAY) को लागू करने के लिए 7 राज्यों ने Insurance Mode, 18 राज्यों ने Trust Mode, 9 राज्यों ने Mixed Mode को चुना है जबकि 2 राज्यों ने अभी तक कोई फैसला नहीं किया है |

Fake PMJAY वेबसाइटों के खिलाफ कार्यवाही:-

आयुषमान भारत – प्रधान मंत्री जन आरोग्य योजना (AB-PMJAY)  के संबंध में सभी लोगों को निम्नलिखित बिंदुओं को स्पष्ट रूप से नोट करना चाहिए:-

  • राष्ट्रीय स्वास्थ्य संरक्षण योजना के लाभों का लाभ उठाने के लिए लाभार्थियों को कहीं enrollment करवाने की आवश्यकता नहीं है |
  • सूचीबद्ध अस्पतालों में सेवाएं प्राप्त करने के लिए उन्हें किसी भी तरह का कोई भुगतान करने की आवश्यकता नहीं है |
  • लाभार्थियों से पैसा वसूलने की कोशिश करने वाली fake वेबसाइटों और Agents पर आपराधिक मामलों के तहत charge किया जाएगा |

PMJAY के लाभार्थियों को सूचित करना:-

  • Identified परिवारों को पारिवारिक पत्र दिया जाएगा |
  • प्रधान मंत्री जन आरोग्य योजना (PMJAY) के लाभार्थियों के लिए कॉल सेंटर “14555” खोला जाएगा |
  • 5 सितंबर 2018 को वेबसाइट और App शुरू किया जाएगा |
  • लोग 10,000 अस्पतालों, 3 लाख Common Service Centers और Mass Media द्वारा आयुषमान भारत – प्रधान मंत्री जन आरोग्य योजना (AB-PMJAY) के बारे में जानकारी प्राप्त कर सकते हैं |

प्रधान मंत्री जन आरोग्य योजना के तहत देखभाल:-

  • रोगी की अस्पताल में भर्ती: सबसे पहले, मरीजों का hospitalization किया जाएगा |
  • लाभार्थियों की पहचान और पंजीकरण: Software के माध्यम से व्यक्ति की पुष्टि करना कि वो PMJAY के तहत एक योग्य लाभार्थी है या नहीं | इसके अलावा, आधार के माध्यम से लाभार्थियों के पहचान की पुष्टि की जा सकेगी |
  • पूर्व प्राधिकरण अनुरोध एवं स्वीकृति: अस्पताल पैकेज का चयन करेंगे और कार्ड में शेष राशि की जांच करेंगे | इसके पश्चात वे इलाज के लिए आवश्यक supporting evidences जमा करेंगे |
  • उपचार: इसके पश्चात रोगी को उचित उपचार दिया जाएगा |
  • Discharge: उचित उपचार के बाद, मरीजों को discharge किया जाएगा |
  • दावा अनुरोध और निपटान: Discharge Summary और post उपचार के सबूत जमा किए जाएंगे | बैंकों को इलेक्ट्रॉनिक भुगतान सरकार द्वारा किया जाएगा | उपचार के पश्चात, अस्पताल मरीजों से प्रतिक्रिया मांगेंगे |

Ayushman Bharat- PMJAY के लाभार्थियों को कैसे पहचाना जाएगा:-

सबसे पहले लाभार्थी को Hospital Help-Desk पर जाना होगा जहाँ लाभार्थी की पहचान सत्यापन किया जाएगा |  पहचान सत्यापन के लिए, आधार कार्ड या अन्य ID  प्रदान की जानी चाहिए | इसके पश्चात, व्यक्ति की पुष्टि की जाएगी कि वह आयुषमान भारत – प्रधान मंत्री जन आरोग्य योजना (AB-PMJAY) के लिए योग्य है या नहीं | इसके लिए, लाभार्थी पहचान प्रणाली (BIS) परिवार कार्ड के साथ एक पत्र का उपयोग करेगा | इसके पश्चात लाभार्थियों को एक e-card प्रदान किया जाएगा और जो उपचार के लिए डॉक्टर को दिखाया जाएगा |

Ayushman Bharat- PMJAY के तहत भुगतान:-

  • राष्ट्रीय स्वास्थ्य एजेंसी (NHA) / राज्य स्वास्थ्य एजेंसी (SHA) के माध्यम से फंड सीधे हस्तांतरित किए जाएंगे |
  • प्रत्येक राज्य स्वास्थ्य एजेंसी (SHA) को एक समर्पित ESCROW account खोलना होगा |
  • ESCROW खातों में केंद्र / राज्य द्वारा अनुदान जारी करने में देरी के लिए दंड का प्रावधान हैं |
  • अस्पतालों को भुगतान जारी करने के लिए Banking triggers होंगे |
  • अस्पताल के claims के समय पर निपटारे के लिए Key Performance Indicators होंगे |

Ayushman Bharat- PMJAY के लिए Anti Fraud दिशानिर्देश:-

Anti Fraud दिशानिर्देशों के लिए NHA Methodolog को जारी किया गया है | इसमें Prevention, Detection और Deterrence को शामिल किया गया है | Prevention में लाभार्थी पहचान, Provider Emapanelment और पूर्व प्राधिकरण शामिल होगा | Detection में Data Analysis, Social Monitoring, Audit इत्यादि शामिल होंगे | Deterrence में Contract Management, Anti-Fraud Cells और De-empanelment और exemplary penalties शामिल होंगे |

प्रधान मंत्री जन आरोग्य योजना के तहत पैकेज दरें:-

लगभग 1300 पैकेज स्वीकृत किए गए हैं और 20+ विशिष्टताओं को कवर किया गया है | DGHS द्वारा तैयार किए गए प्रारंभिक मसौदा का नीति आयोग और व्यापक हितधारक परामर्श द्वारा समीक्षा की गई है | पूर्व-प्राधिकरण के लिए लगभग 50% पैकेज अनिवार्य है | अस्पतालों के लिए परिणाम आधारित प्रोत्साहन हैं – NABH Entry Hospitals को 10% प्रोत्साहन, NABH Full Accrediation को 15% प्रोत्साहन, Aspirational जिलों को 10% प्रोत्साहन मिलेगा |

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here