MP E Uparjan 2022| धान रजिस्ट्रेशन। खरीफ फसल पंजीयन। किसान कोड। आवश्यक दस्तावेज आदि की जानकारी

1
1062

MP E Uparjan Kharif Procurment Monitoring System 2022-23

MP E Uparjan Kharif Procurment Monitoring System- न्यूनतम समर्थन मूल्य (MSP) पर खरीफ फसल की कृषि उपज मंडियों के माध्यम से खरीदी के लिए ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया जल्द ही आरम्भ होने वाली है न्यूनतम समर्थन मूल्य (MSP) वह दर है जिस पर सरकार किसानों से फसल खरीदती है। फसल गिरदावरी होने के उपरांत कुछ समय के अंदर हर वर्ष MP E Uparjan पोर्टल के माध्यम से रजिस्ट्रेशन कराया जाता है जिसमे किसान भाई पंजीयन के बाद निर्धारित समय में अपनी फसल खरीदी केंद ले जाकर अपनी फसल की बिक्री करते हैं जिसका भुगतान मध्य प्रदेश सरकार द्वार सीमित समयावधि में DBT के माध्यम से किसान को किया जाता है।

किसान भाइयों के लिए विशेष रूप से इस लेख को लिखा गया है और इस लेख के माध्यम से पंजीयन से लेकर भुगतान मिलने तक होने वाली सभी प्रक्रियाओं में शामिल चरणों को स्पष्ट करने का प्रयास किया गया है। इसलिए आप से अनुरोध है की इस पोस्ट को सभी किसान भाई तक पहुँचाने का प्रयास करें और आपको लगता है की हमसे कोई चूक हुयी है जिसके बारे में हम आपकी परेशानी को स्पष्ट रूप से दूर नहीं कर प् रहे हैं तो कमेंट के माध्यम से हमें जरूर बताएं ताकि हम इस लेख में सुधार कर सकें।

फसल गिरदावरी से भुगतान प्राप्ति तक के चरण- MP E Uparjan Kharif Procurment Monitoring System

STEP 1: फसल गिरदावरी | FASAL GIRDAWARI
फसल गिरदावरी प्रतिवर्ष की जाने वाली एक महत्वपूर्ण प्रक्रिया है जिसमे कृषि भूमि में बोई जाने वाली फसल का जिक्र होता है पटवारी अपने अपने क्षेत्रों में जाकर कृषिभूमि का अवलोकन करते हैं और बोई गयी फसल की प्रविष्टि ऑनलाइन फसल गिरदावरी एप के माध्यम से करते हैं। यह प्रक्रिया फसल बीमा, प्राकृतिक आपदा, से हुए नुकसान की भरपाई, बैंक ऋण, योजनाओं के लाभ लेने आदि में अति महत्वपूर्ण होती है | फसल गिरदावरी की अधिक जानकारी https://saara.mp.gov.in/ से ले जा सकती है|
STEP 2: फसल रजिस्ट्रेशन या ऑनलाइन पंजीयन
फसल गिरदवरी के बाद का दूसरा चरण होता है किसान या फसल पंजीयन जिसमे किसान फसल केंद्र या ऑनलाइन https://mpeuparjan.nic.in/ पोर्टल के माध्यम से अपनी फसल का पंजीयन कराते हैं| फसल रजिस्ट्रेशन या ऑनलाइन पंजीयन कैसे करना है इसकी जानकारी इस पोस्ट के माध्यम से ले सकते हैं
STEP 3: पंजीयन पावती या रसीद की प्राप्ति
फसल का ऑनलाइन पंजीयन कराने के पश्चात जरुरी है की आप पंजीयन की पावती को निकाल कर उसका अवलोकन करें और भरी हुई जानकारी जैसे आपका नाम, आधार क्रमांक, बैंक की जानकारी, फसल की जानकारी आदि प्रविष्टियों को ध्यान से अपने दस्तावेजों से मिलाकर देखें और त्रुटि होने परसुधार हेतु अग्रिम कार्यवाही करें अन्यथा आपके भुगतान में विलम्ब हो सकता है जिससे आपको परेशान होना पड़ सकता है | पंजीयन की पावती कैसे निकाल सकते हैं इस पोस्ट में स्पष्ट रूप से बताया गया है
STEP 4: खरीदी के लिए मैसेज द्वारा सूचना की प्राप्ति
फसल रजिस्ट्रेशन और सुधार के उपरांत किसान भाईओं को रजिस्टर्ड मोबाइल में अपनी फसल बिक्री हेतु मैसेज भेजा जाता है जिसमें निर्धारित फसल बिक्री केंद्र, सीमिति समयवधि का जिक्र होता है उस समयावधि के अंदर किसान को अपनी फसल उस निर्धारित केंद्र में लाना होता है ताकि उसकी तुलाई की जा सके।
STEP 5: फसल बिक्री हेतु खरीदी केंद्र फसल ले जाना
प्राप्त मैसेज के आधार पर फसल को निर्धारित केंद्र में ले जाकर फसल की तुलाई कराई जाती है बिक्री पश्चात आपको एक रसीद दी जाती है जिसमे आपके द्वारा लायी फसल की मात्रा और होने वाले भुगतान का जिक्र रहता है।
STEP 6: भुगतान प्राप्ति DBT के माध्यम से
बिक्री पश्चात सामान्यतः 7 से 15 दिनों के अंदर किसान को उसके द्वारा ऑनलाइन दर्ज कराये गए बैंक खाते में भुगतान की राशि सीधे DBT के माध्यम से ट्रांसफर कर दी जाती है इस तरह पूरी प्रक्रिया छह चरणों में संपन्न होती है और यह प्रक्रिया हर वर्ष इन्ही चरणों में पूरी की जाती है

फसल पंजीयन क्यों कराना चाहिए

प्रतिवर्ष न्यूनतम समर्थन मूल्य (MSP) पर खरीदी हेतु सरकार MSP तय करती है जो लागत का लगभग डेढ़ गुना होती है। किसानो की आय बढ़ाने हेतु ने MSP तय कर रखा है ताकि किसानो की आय बढ़ सके किसानो को भी पंजीयन कराने पर शुद्ध लाभ होता है समय की बचत होती है, आय बढ़ती है साथ सी बारबार की भागम-भाग से छुटकारा मिलता है, पूरी राशि एक साथ DBT के माध्यम से किसान के बैंक में जमा हो जाती है आदि इसलिए जरुरी है की किसान समय से अपना पंजीयन कराएं और समय और धन दोनों की बचत करें

MP E Uparjan 2022| धान रजिस्ट्रेशन के लिए आवश्यक दस्तावेज

आपको सलाह दी जाती है की पूरे दस्तावेजों की प्रतिलिपि करा लें ताकि जल्दबाजी में आपको बार बार पंजीयन के वक्त परेशानी का सामना न करना पड़े। किसान या फसल पंजीयन हेतु आवश्यक दस्तावेज इस प्रकार हैं।

  1. रजिस्ट्रेशन फॉर्म
  2. बैंक पासबुक प्रतिलिपि
  3. ऋण पुस्तिका की प्रतिलिपि या खसरा या B1 की प्रतिलिपि
  4. आधार कार्ड
  5. समग्र आईडी
  6. भूमि यदि किराये पर ली गयी है तो अनुबंध की प्रतिलिपि

MP E Uparjan पंजीयन के लिए आवश्यक दिशा निर्देश


1.किसान अपना पंजीयन आधार नंबर एवं समग्र आई डी के आधार पर कर सकते है|
2.पंजीयन के लिए आधार अथवा समग्र आई डी का होना अनिवार्य है |
4.यदि किसान के पास आधार नं और समग्र आई डी दोनों उपलब्ध नहीं है, तो कृपया नजदीकी ग्राम पंचायत से संपर्क करें|
5.किसान अपनी परिवार समग्र आई डी से सदस्य समग्र आई डी खोज सकते है| 
यहाँ से खोजे
6.बैंक खाता क्रमांक पासबुक मे से देख कर सही प्रविष्ट करें|
7.यदि आधार नंबर लोड नहीं हो रहा हो तो समग्र आई डी से अपना पंजीयन करें|
8.पंजीयन के पश्चात् पावती प्रिंट करें तथा खरीदी के समय पावती ले जाना अनिवार्य है|
9.पंजीयन के लिए मोबाइल नंबर होना अनिवार्य है|

MP E Uparjan पोर्टल में किसान या फसल पंजीयन कैसे करें

खरीफ फसल बिक्री हेतु ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया की पूरी जानकारी के लिए हमारे लेख का अध्ययन जरूर करें यहाँ पर रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया को बड़े ही आसान शब्दों में बताने का प्रयास किया गया है साथ ही होने वाली परेशानिओं का भी जिक्र किया गया है। यदि आप भी पंजीयन कर रहे हैं तो किसी भी प्रकार की परेशानी से बचने के लिए इस पोस्ट को जरूर पढ़ें

किसान कोड से पंजीयन की जानकारी कैसे लें

ऑनलाइन पंजीयन की पश्चात प्रत्येक किसान को एक किसान कोड दिया जाता है जिसकी जानकारी आपको आपके पंजीयन पावती में मिल जाती है या रजिस्ट्रेशन के वक्त ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करने वाले व्यक्ति से भी किसान कोड की मांग कर सकते हैं किसान कोड से पंजीयन की पूरी जानकारी कैसे लेंगे हमने अपने लेख के माध्यम से स्टेप बाय स्टेप बताये है किसान कोड से पंजीयन की जानकारी के लिए क्लिक करें

मोबाइल नंबर से पंजीयन की जानकारी कैसे देखें

ऑनलाइन पंजीयन की समय दिए हुए मोबाइल नंबर के माध्यम से किसान पंजीयन की जानकारी आप निकाल सकते हैं। किसान कोड पता न होने की स्थिति में भी आप केवल मोबाइल नंबर से पंजीयन की जानकारी डाउनलोड कर सकते हैं लेकिन कैसे इस बारे में जानने के लिए इस पोस्ट को जरूर पढ़ें सिर्फ मोबाइल नंबर से धान या खरीफ फसल का पंजीयन कैसे निकालें ।

समग्र आईडी से पंजीयन कैसे निकालें

अक्सर हमने देख है है किसान भाइयों को न ही किसान कोड की जानकारी होती है न यह ही उन्होंने कोण सा मोबाइल नंबर पंजीयन के समय दिया था जिससे वो परेशां हो जाते हैं तो आपको चिंतित होने की जरुरत नहीं है क्योंकि फसल पंजीयन की जानकारी अपनी समग्र आईडी के माध्यम से भी जान सकते हैं समग्र आईडी से पंजीयन की जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करें

MP E Uparjan App डाउनलोड कैसे करें

द्वारा उसका एंड्राइड एप्लीकेशन भी लांच किया गया है जिसके माध्यम से पंजीयन किया जा सकता है तथा पंजीयन की जानकारी ली जा सकती हैं। इस एप को डाउनलोड करने के लिए आप अपने प्ले स्टोर पे जाएँ और सर्च करें और एप्लीकेशन डाउनलोड करें आप इस डारेक्ट लिंक के माध्यम से भी एप डाउनलोड कर सकते हैं https://play.google.com/store/apps/details?id=in.gov.mapit.kisanapp

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here