मेरी फसल मेरा ब्योरा योजना हरियाणा: कराएं ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन 2022

1
572
हरियाणा मेरी फसल मेरा ब्यौरा योजना
meri fasal mera byora registration haryana

हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल खट्टर जी के द्वारा हरियाणा मेरी फसल मेरा ब्यौरा योजना का आरंभ किया गया है। इस योजना के अंतर्गत हरियाणा के किसान अपनी फसल का पूरा ब्यौरा ऑनलाइन दर्ज कर सकते हैं।

हरियाणा मेरा फसल मेरा ब्योरा पोर्टल के माध्यम से सरकार द्वारा यह सुनिश्चित किया जाएगा कि राज्य सरकार द्वारा प्रदान किया गया बीमा कवर, प्राकृतिक आपदाओं के कारण फसल मुआवजा आदि किसानों को प्रदान किया जा सके।

मेरी फसल मेरा ब्योरा योजना के अंतर्गत आवेदन करवाने के लिए आपको किसी भी कार्यालय के चक्कर काटने की आवश्यकता नहीं पड़ेगी। आपको केवल मेरी फसल मेरा ब्यौरा योजना की आधिकारिक पोर्टल पर जाना होगा। इस पोर्टल के माध्यम से हरियाणा के किसानों को एक ही जगह पर सारी सरकारी सुविधाएं उपलब्ध कराई जाएंगी।

आज हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से हरियाणा सरकार द्वारा आरंभ की गई हरियाणा मेरी फसल मेरा ब्योरा योजना से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान करने जा रहे हैं। इस आर्टिकल को पढ़कर आपको हरियाणा मेरी फसल मेरा ब्यौरा योजना से संबंधित सभी जरूरी जानकारी प्राप्त होगी।

जैसे कि मेरी फसल मेरा ब्योरा योजना क्या है?, इसका लाभ, उद्देश्य, विशेषताएं, पात्रता, आवेदन प्रक्रिया आदि। तो दोस्तों यदि आप हरियाणा मेरी फसल मेरा ब्योरा योजना से संबंधित संपूर्ण जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो आपको हमारे इस आर्टिकल को अंत तक पढ़ना होगा। इस आर्टिकल के माध्यम से हमने आपके साथ हरियाणा मेरी फसल मेरा ब्यौरा योजना से संबंधित संपूर्ण जानकारी साझा की है।

मेरी फसल मेरा ब्योरा योजना:

हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल खट्टर जी के द्वारा हरियाणा मेरी फसल मेरा ब्यौरा योजना का आरंभ किया गया है। इस योजना के अंतर्गत  हरियाणा के किसान अपनी फसल का पूरा ब्यौरा ऑनलाइन दर्ज कर सकते हैं।

हरियाणा मेरा फसल मेरा ब्योरा पोर्टल के माध्यम से सरकार द्वारा यह सुनिश्चित किया जाएगा कि राज्य सरकार द्वारा प्रदान किया गया बीमा कवर, प्राकृतिक आपदाओं के कारण फसल मुआवजा आदि किसानों को प्रदान किया जा सके।

मेरी फसल मेरा ब्योरा योजना के अंतर्गत आवेदन करवाने के लिए आपको किसी भी कार्यालय के चक्कर काटने की आवश्यकता नहीं पड़ेगी। आपको केवल मेरी फसल मेरा ब्यौरा योजना की आधिकारिक पोर्टल पर जाना होगा। इस पोर्टल के माध्यम से हरियाणा के किसानों को एक ही जगह पर सारी सरकारी सुविधाएं उपलब्ध कराई जाएंगी।

फसल खरीद पर ऑनलाइन शेड्यूलिंग तथा भुगतान :

वह सभी किसान जो अपनी गेहूं फसल सरकारी मंडियों के माध्यम से बेचना चाहता है वह मेरा फसल मेरा ब्योरा पोर्टल के माध्यम से शेड्यूलिंग भी कर सकता है। शेड्यूलिंग के माध्यम से किसान अपनी मर्जी से मंडी में फसल लाने की तारीख चुन सकता है।

इसके अलावा किसान संबंधित मंडी सचिव, मार्केट कमेटी या मंडी के कॉल सेंटर में संपर्क करके भी शेड्यूलिंग कर सकते है। यदि किसानों द्वारा फसल बेचने के बाद किसानों को समय पर भुगतान नहीं किया गया तो किसानों को 9% का ब्याज दिया जाएगा। सरकार द्वारा बिक्री के 40 घंटे से लेकर 72 घंटे के अंदर अंदर भुगतान किया जाएगा। इस वर्ष सभी भुगतान ऑनलाइन माध्यम से करने की व्यवस्था की गई है।

जानें, क्यों जरूरी मेरी फसल मेरा ब्योरा पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन कराना:

सरकार हर साल किसानों से न्यूनतम समर्थन मूल्य पर रबी और खरीफ की फसलों की खरीद करती है। जैसा कि खरीफ फसल की एमएसपी खरीद लगभग पूरी हो चुकी है और अब रबी की खरीद अगले महीने शुरू होने वाली है। इसके लिए राज्यों में किसानों की रबी फसल के रजिस्ट्रेशन का कार्य जारी है। इसी क्रम में हरियाणा सरकार की ओर से मेरी फसल-मेरा ब्योरा पोर्टल पर किसानों की रबी की फसलों का रजिस्ट्रेशन किया जा रहा हैं। किसान 15 फरवरी तक इस पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं। 

बता दें कि पहले पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन की अंतिम तिथि 31 जनवरी 2022 थी। ऐसे में राज्य के बहुत से किसान पंजीकरण कराने से वंचित रह गए थे। इसे देखते हुए हरियाणा सरकार ने रजिस्ट्रेशन की तिथि को बढ़ाकर 15 फरवरी 2022 कर दिया है।

मेरी फसल मेरा ब्योरा पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन कराने से किसान को राज्य सरकार की  कई योजनाओं का लाभ प्रदान किया जाता है। इस पोर्टल के माध्यम से राज्य सरकार द्वारा किसानों की परेशानी का समाधान, फसल नुकसान पर मुआवजा सहित कई अन्य लाभ प्रदान किए जाते हैं। 

न्यूनतम समर्थन मूल्य पर फसल बेचने के लिए रजिस्ट्रेशन कराना होगा अनिवार्य :

हरियाणा राज्य के वे किसान जो अपनी उपज न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) पर बेचना चाहते हैं उन्हें हर हाल में रजिस्ट्रेशन करवाना जरूरी हो। क्योंकि पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन के बिना वे अपनी फसल एमएसपी पर सरकारी मंडी में नहीं बेच पाएंगे।

इसलिए सरसों, चना, जौ, गेहूं एवं सूरजमूखी की खेती करने वाले किसान इस बात का ध्यान रखें कि अब उनके लिए पंजीकरण के लिए सिर्फ पांच का समय शेष रह गया है। रजिस्टर्ड फसलों और उनके क्षेत्र को कृषि विभाग द्वारा फसल सत्यापन, राजस्व विभाग द्वारा ई-गिरदावरी और हरसेक द्वारा सैटेलाइट इमेजरी के साथ वेरिफिकेशन किया जाएगा। ताकि बुवाई क्षेत्र के हिसाब से ही एमएसपी पर खरीद की अनुमति दी जाए।

पोर्टल पर पंजीकरण कराने वाले किसानों को ही मिलेगा सब्सिडी का लाभ :

हरियाणा न्यूनतम समर्थन मूल्य पर फसल बेचने के लिए किसानों को मेरी फसल मेरा ब्योरा योजना पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन कराना जरूरी होगा। इसके अभाव में वे अपनी फसल एमएसपी पर नहीं बेच पाएंगे। इसके अलावा इस पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन कराने से किसानों को और भी कई लाभ मिलते हैं।

इस पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन कराने से किसानों को सरकार की कृषि संबंधी योजनाओं का लाभ प्रमुखता से मिलेगा। बता दें कि हरियाणा सरकार द्वारा विभिन्न कृषि यंत्रों, सूक्ष्म सिंचाई यंत्रों एवं फसल अवशेष प्रबंधन के तहत दी जाने वाली सब्सिडी के लिए भी मेरी फसल-मेरा ब्यौरा पर पंजीकरण अनिवार्य है। रजिस्ट्रेशन करवाने वाले किसानों को खेती-किसानी से संबंधित जानकारियां मोबाइल पर मैसेज के जरिए दी जाएगी। इसलिए सभी किसान रबी फसलों (खाली खेत एवं बीजित फसलों) का 100 प्रतिशत पंजीकरण अवश्य करवाएं। 

उद्देश्य : मेरी फसल, मेरा ब्यौरा:

  • किसान का पंजीकरण, फसल का पंजीकरण, खेत का ब्यौरा और फसल का ब्यौरा |
  • किसानों के लिए एक ही जगह पर सारी सरकारी सुविधाओं की उपलब्धता और समस्या निवारण के लिए एक अनूठा प्रयास |
  • कृषि संबंधित जानकारियाँ समय पर उपलब्ध करना |
  • खाद्य ,बीज ,ऋण व कृषि उपकरणों की सब्सिडी समय पर उपलब्ध करवाना |
  • फसल की बिजाई-कटाई का समय व मंडी संबंधित जानकारी उपलब्ध करना |
  • प्राकृतिक आपदा-विपदा के दौरान सही समय पर सहायता दिलाना |

मेरी फसल मेरा ब्यौरा योजना में रजिस्ट्रेशन के लिए आवश्यक दस्तावेज:

मेरी फसल मेरा ब्यौरा योजना में रजिस्ट्रेशन के लिए आवश्यक दस्तावेज:में रजिस्ट्रेशन के लिए किसानों को कुछ महत्वपूर्ण दस्तावेजों की आवश्यकता होगी जो इस प्रकार से हैं-

•    आवेदन करने वाले किसान का आधार कार्ड
•    परिवार पहचान-पत्र
•    मूल निवास प्रमाण-पत्र
•    आधार से लिंक मोबाइल नंबर
•    जमीन के कागजात (खसरा खतौनी की कॉपी)
•    पासपोर्ट साइज फोटो

मेरी फसल मेरा ब्यौरा पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन करते समय किसान इन बातों का रखें ध्यान:

फसल का नाम, किस्म और बुवाई का समय मेरी फसल-मेरा ब्यौरा पोर्टल पर दर्ज करना होगा।
•    आधार कार्ड के साथ मोबाइल नंबर लिंक होना जरूरी है। क्योंकि संबंधित जानकारी इसी पर एसएमएस से मिलेगी।
•    जमीन की जानकारी के लिए राजस्व रिकॉर्ड के नकल की कॉपी, खसरा नंबर देखकर भरना होगा।
•    बैंक खाते की एकदम सही जानकारी देनी होगी।

मेरी फसल मेरा ब्योरा पोर्टल पर ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कैसे करे :

किसान अपनी फसल का ब्यौरा ऑनलाइन करवाने के लिए अपने नजदीकी अटल सेवा केंद्रों अथवा कॉमन सर्विस सेंटर पर जाकर रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं। इसके अलावा स्वयं भी रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं। इस पोर्टल पर ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया इस प्रकार से है- 

स्टेप1: सर्वप्रथम आवेदक को योजना की Official Website पर जाना होगा । Official Website पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज खुल जायेगा ।

मेरी फसल मेरा ब्योरा योजना

स्टेप2: इस होम पेज पर आपको “किसान अनुभाग (क्लिक करे) का ऑप्शन दिखाई देगा ।

मेरी फसल मेरा ब्योरा योजना

स्टेप3: अब आप को अगले पेज पर किसान पजीकरण हरियाणा वाले विकल्प पर क्लिक करना होगा|

हरियाणा मेरी फसल मेरा ब्यौरा योजना

स्टेप4: किसान पजीकरण हरियाणा वाले विकल्प पर क्लिक करते ही एक नया पेज ओपन होगा जिसमे आपको अपना मोबाइल नंबर और कॅप्टचा कोड एंटर करना होगा :

स्टेप 5 : फिर आपको कुछ जानकारी पूछी जाएगी आपको इस डिटेल्स में आपको अपना मोबाइल नंबर ,आधार नंबर ,परिवार आईडी में से कोई भी एक जो भी आपके पास उपलब्ध हो खली बॉक्स में भरनी होगी|

स्टेप 6: फिर सर्च के बटन पर क्लिक करना होगा क्लिक करने के बाद आपके मोबाइल नंबर पर OTP आएगा और उस OTP को आपको आगे के पेज पर भरना होगा । इसके बाद आपके सामने पंजीकरण का फॉर्म खुल जायेगा ।

स्टेप7 :इस पंजीकरण फॉर्म में आपके सामने चार चरण आएंगे जिसमे पहला चरण किसान पंजीकरण का होगा ।इस फॉर्म में आपको अपने आप से जुडी सभी जानकारी भरनी होगी |

स्टेप8: उसके बाद आपके सामने दूसरा चरण आएगा फसल का विवरण जिसमे आपको अपनी फसल से रेलेटेड जानकारी भरनी होगी ।

स्टेप9: फिर तीसरा चरण बैंक विवरण आएगा जिसमे आपको अपने बैंक अकाउंट से जुडी सभी जानकारी भरनी होगी ।इसके बाद अंतिम और चौथा चरण मंडी /आढ़ती का विवरण की जानकारी भरनी होगी ।

स्टेप10: सभी जानकारी भरने के बाद आपको आखिर में सबमिट के बटन पर क्लिक करना होगा ।इस तरह आपका पंजीकरण पूरा हो जायेगा ।

मेरी फसल मेरा ब्यौरा हेल्प लाइन नंबर :

हरियाणा सरकार द्वारा राज्य के किसानो के लिए हेल्पलाइन नंबर भी शुरू किया है राज्य के किसानो इस हेल्पलाइन नंबर की सहायता से योजना से जुडी सभी जानकारी प्राप्त कर सकते है और अगर कोई परेशानी है तो उन्हें भी दूर कर सकते है यह एक टोल फ्री नंबर है |

  • Helpline Number – 18001802060
  • Toll-Free Number – 18001802117
  • ईमेल ID  – hsamb.helpdesk@gmail.com

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here