बुकिंग करने के बाद 48 घंटे में न मिले गैस सिलेंडर तो यहां करें शिकायत |

0
1364
सिलेंडर से सम्बंधित शिकायत

LPG सिलेंडर से सम्बंधित शिकायत:-

कोरोनावायरस (Coronavirus) से देश में लॉकडाउन के दौरान अगर आपको जरूरी सामान जैसे LPG सिलेंडर नहीं मिल पा रहा है या LPG सिलेंडर की डिलिवरी न होने पर टोल फ्री नंबर 18002333555 पर शिकायत कर सकते हैं | शिकायत मिलने के बाद ग्राहक को तुरंत सिलेंडर की डिलीवरी कराई जाएगी |

ग्रा‍हक अपनी शिकायत दर्ज करने के लिए http://mylpg.in/index.aspx वेबसाइट पर login करना होगा | इसके बाद इंडियन ऑयल, भारत पेट्रोलियम के साथ हिंदुस्तान पेट्रोलियम का विकल्प मिलेगा | अपनी कंपनी चुनिए और इसके बाद ‘ऑनलाइन प्रतिक्रिया दें‘ पर क्लिक करना होगा | नया पेज खुलने पर जब उपभोक्ता विकल्प के हिसाब से अपना मोबाइल नंबर, एलपीजी आईडी, गैस एजेंसी आदि की जानकारी फीड करेंगे तो शिकायत का विकल्प खुल जाएगा | अब शिकायत कर सकते हैं |

लॉकडाउन के दौरान पेट्रोल, डीजल और LPG सिलेंडर का पर्याप्त स्टाक है और तेल कंपनिया इस स्टाक को बनाए रखने के लिए काम कर रही है | आधिकारिक रूप से कहा गया है कि LPG की आपूर्ति सामान्य रूप से हो रही है और पेट्रोलियम उत्पाद भी सामान्य रूप से उपलब्ध हैं |

LPG सिलेंडरों की आपूर्ति:-

इंडियन आयल के कार्यकारी निदेशक, ने एक बयान में बताया कि पेट्रोल, डीजल और LPG सिलेंडरों का पर्याप्त स्टॉक उपलब्ध है | सभी PSU तेल कम्पनियां इस कठिन समय के दौरान अपने रिटेल आउटलेट और LPG distributors के माध्यम से ईंधन और LPG सिलेंडर की निरंतर और सुचारू आपूर्ति बनाए रखने के लिए कड़ी मेहनत कर रही हैं |

LPG वितरकों के माध्यम से LPG सिलेंडरों और रिटेल आउटलेट (पेट्रोल-पम्पों) के माध्यम से पेट्रोल और डीजल के पर्याप्त स्टॉक की डिलीवरी सुनिश्चित की जा रही है | तेल कम्पनियों ने इन आवश्यक वस्तुओं की नियमित उपलब्धता सुनिश्चित करने के लिए उत्तर प्रदेश राज्य के सम्बन्धित जिलाधिकारी से आवश्यक पास जारी करने के लिए भी अनुरोध किया है | 

भट्टाचार्य ने कहा कि वर्तमान में, उत्तर प्रदेश में लगभग 403 लाख सक्रिय LPG ग्राहकों को LPG की आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए कुल 2178 LPG वितरक हैं और इसी प्रकार पेट्रोल-डीजल इत्यादि की जन-सामान्य में आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए 7128 रिटेल आउटलेट (पेट्रोल-पम्प) हैं | PSU तेल कम्पनियाँ उत्तर प्रदेश राज्य में पेट्रोल और डीजल उपलब्ध कराने के लिए 32 टर्मिनल और डिपो का संचालन करती हैं | उत्तर प्रदेश में 26 LPG बॉटलिंग प्लांट हैं, जो राज्य के उपभोक्ताओं की मांग के आधार पर LPG की उपलब्धता सुनिश्चित करते हैं |

तेल कम्पनियां लगभग 27000 डिलीवरी बॉय के साथ उत्तर प्रदेश के कोने-कोने पर प्रति दिन औसतन 7.9 लाख सिलेंडर की आपूर्ति करती हैं | भट्टाचार्य ने लोगों से अपील की है कि वे डिलीवरी बॉयज और कस्टमर अटेंडेंट के साथ सहयोग करें |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here