लॉकडाउन क्या है? लॉकडाउन और कर्फ्यू में क्या अंतर है |

0
1159
Lockdown क्या होता है
lockdown kya hai?

Lockdown क्या होता है:-

Lockdown क्या होता है– लॉकडाउन एक इमर्जेंसी व्यवस्था होती है | अगर किसी क्षेत्र में लॉकडाउन हो जाता है तो उस क्षेत्र के लोगों को घरों से निकलने की अनुमति नहीं होती है | जीवन के लिए आवश्यक चीजों के लिए ही बाहर निकलने की अनुमति होती है | अगर किसी को दवा या अनाज की जरूरत है तो बाहर जा सकता है या फिर अस्पताल और बैंक के काम के लिए अनुमति मिल सकती है | कोरोना वायरस के बढ़ते खतरे को देखते हुए पूरा देश मंगलवार रात 12 बजे से 21 दिनों के लिए लॉकडाउन (Lock down) रहेगा |

‘लॉकडाउन’ का अर्थ है तालाबंदी | जिस तरह किसी संस्थान या फैक्ट्री को बंद किया जाता है और वहां तालाबंदी हो जाती है उसी तरह लॉक डाउन का अर्थ है कि आप अनावश्यक कार्य के लिए सड़कों पर ना निकलें |

Related:- 21 दिनों के Lock down में क्या खुलेगा, क्या बंद रहेगा

लॉकडाउन क्यों किया जाता है:- (Lockdown क्या होता है)

देश में कोरोना वायरस का प्रकोप हर दिन बढ़ता ही जा रहा है | तेजी से फैलते संक्रमण के कारण कोरोना के मामलों में लगातार इजाफा हो रहा है | ICMR के मुताबिक, देश में संक्रमितों की संख्या 560 पहुंच गई है और 10 लोगों की मौत हो चुकी है |

किसी तरह के खतरे से इंसान और किसी इलाके को बचाने के लिए लॉकडाउन किया जाता है | जैसे कोरोना के संक्रमण को लेकर कई देशों में किया गया है | कोरोनावायरस का संक्रमण एक-दूसरे इंसान में न हो इसके लिए जरूरी है कि लोग घरों से बाहर कम निकले | बाहर निकलने की स्थिति में संक्रमण का खतरा बढ़ जाएगा | इसलिए कुछ देशों में लॉकडाउन जैसी स्थिति हो गई है |

Lockdown क्या होता है

कर्फ्यू क्या होता है:-

जब किसी भी इलाके में कर्फ्यू लगाया जाता है तो लोगों को एक समयसीमा तक के लिए घरों में रहने का आदेश दिया जाता है | प्रशासन आपातकालीन परिस्थितियों में ही कर्फ्यू लगाता है |

कर्फ्यू में प्रशासनिक आदेश के तहत लोगों को हिदायत दी जाती है कि वो अपने घरों से बाहर सड़कों पर न निकलें | कर्फ्यू के दौरान स्कूल, कॉलेज, बाजार सब बंद रहते हैं | इसका उल्लंघन करने वाले की गिरफ्तारी भी सकती है और जुर्माना भी लगाया जा सकता है |

कर्फ्यू और लॉकडाउन में अंतर:-

कर्फ्यू और लॉकडाउन दोनों को अलग-अलग स्थितियों में लगाया जाता है | दोनों के बीच अंतर प्रशासन द्वारा जारी रखी गईं सेवाओं का होता है | किसी इलाके में अगर दंगे या हिंसा होती है तो प्रशासन उस विकट स्थिति पर काबू पाने के लिए कर्फ्यू लगाता है |

कर्फ्यू के दौरान जरूरी सेवाएं जैसे बाजार और बैंकों पर ताला लटका रहता है | जब कर्फ्यू में ढील दी जाती है तभी ये सारी सेवाओं का लाभ घरों में बंद लोगों को मिलता है और वो बाहर निकल सकते हैं |

लॉकडाउन में जरूरी सेवाएं बंद नहीं की जाती हैं | जैसा फिलहाल हमारे देश में है | देश के कई राज्यों और शहरों में लॉकडाउन किया गया है, लेकिन बैंक, डेरी, जरूरी सामान के लिए दुकानें खुली हुई हैं | जनता के लिए आवश्यक सेवाएं जारी हैं | अधिकतर पब्लिक ट्रांसपोर्ट बंद है |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here