जल जीवन मिशन (हर घर जल योजना) 2022: क्या है जल जीवन मिशन , जानिए सब कुछ. . .

0
1601
जल जीवन मिशन योजना
जल जीवन मिशन योजना

जल जीवन मिशन योजना की शुरुआत प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा स्वतंत्रता दिवस के उपलक्ष में 15 अगस्त 2019 को की गयी। देश के लगभग 50% ऐसे ग्रामीण क्षेत्र है जहां अभी भी लोगो को पानी की समस्या होती है उन क्षेत्रों में पीने के पानी को पहुंचाने के लिए मोदी की ने इस स्कीम का शुभारम्भ किया।

जल शक्ति मंत्रालय के आकड़े के अनुसार अभी तक 18.33 प्रतिशत ग्रामीण क्षेत्रों के परिवारों को पानी की सुविधा उपलब्ध करवाई गयी है। सरकार द्वारा इस मिशन के लिए 3.60 लाख करोड़ बजट देने का प्रावधान किया है।

जिसमे राज्य सरकार व केंद्र सरकार द्वारा अलग-अलग बजट दिया जाएगा। जल जीवन मिशन (ग्रामीण और शहरी) के माध्यम ग्रामीण और शहरी क्षेत्रों में रहने वाले लोगों के घरों में पीने के पानी के लिए जल कनेक्शन लगाये जाएंगे।

अभी तक कुल 3.27 करोड़ ग्रामीण परिवारों को वाटर कनेक्शन प्रदान किया गया है। इस आर्टिकल में हम आप को जल जीवन मिशन के के बारे में बतायेगे| जल जीवन मिशन के बारे में जानने के लिए हमारे आर्टिकल को अंत तक पूरा पड़े|

जल जीवन मिशन योजना

चर्चा में क्यों है जल जीवन मिशन :

हाल ही में जल शक्ति मंत्रालय ने ‘जल जीवन मिशन (JJM) के तहत मध्य प्रदेश के लिये 15,381.72 करोड़ रुपए की पेयजल आपूर्ति योजनाओं को मंज़ूरी दी है।

  • ‘जल जीवन मिशन’ का लक्ष्य वर्ष 2024 तक सभी ग्रामीण घरों में सुनिश्चित नल जल आपूर्ति या ‘हर घर जल’ सुनिश्चित करना है।

जल जीवन मिशन 2022:

जल जीवन मिशन वर्ष 2019 में लॉन्च किया गया यह मिशन वर्ष 2024 तक ‘कार्यात्मक घरेलू नल कनेक्शन’ (FHTC) के माध्यम से प्रत्येक ग्रामीण परिवार को प्रति व्यक्ति प्रतिदिन 55 लीटर पानी की आपूर्ति की परिकल्पना करता है। जल जीवन मिशन का उद्देश्य जल को आंदोलन के रूप में विकसित करना है, ताकि इसे लोगों की प्राथमिकता बनाया जा सके। यह मिशन ‘जल शक्ति मंत्रालय’ के अंतर्गत आता है|

पेयजल और स्वच्छता विभाग ग्रामीण भारत को सेवा वितरण पर ध्यान देने के साथ सुरक्षित और पर्याप्त पेयजल उपलब्ध कराने के लिए राज्यों को तकनीकी और वित्तीय सहायता प्रदान करता है। विभाग की केंद्र प्रायोजित योजना, राष्ट्रीय ग्रामीण पेयजल कार्यक्रम, 2024 तक हर ग्रामीण घर यानी हर घर जल को कार्यात्मक घरेलू नल कनेक्शन प्रदान करने के लिए जल जीवन मिशन में पुनर्गठित किया गया था। जेजेएम के तहत हर घर में नल का जल कनेक्शन के लिए इन-विलेज वाटर सप्लाई) बुनियादी ढाँचा शामिल किया जाएगा|

जल जीवन मिशन योजना हाइलाइट्स :

आर्टिकलजल जीवन मिशन स्कीम
विभागपेयजल और स्वच्छता विभाग
योजना शुरू15 अगस्त 2019
लाभार्थीदेश के नागरिक
शुरुआतपीएम नरेंद्र मोदी जी द्वारा
उद्देश्यसभी राज्य के ग्रामीण क्षेत्रों में पानी की सुविधा
उपलब्ध करवाना
ऑफिसियल वेबसाइटjaljeevanmission.gov.in

जल जीवन मिशन के प्रमुख बिंदु:

जल जीवन मिशन का परिचय :

  • वर्ष 2019 में लॉन्च किया गया यह मिशन वर्ष 2024 तक ‘कार्यात्मक घरेलू नल कनेक्शन’ (FHTC) के माध्यम से प्रत्येक ग्रामीण परिवार को प्रति व्यक्ति प्रतिदिन 55 लीटर पानी की आपूर्ति की परिकल्पना करता है।
  • जल जीवन मिशन का उद्देश्य जल को आंदोलन के रूप में विकसित करना है, ताकि इसे लोगों की प्राथमिकता बनाया जा सके।
  • यह मिशन ‘जल शक्ति मंत्रालय’ के अंतर्गत आता है।

जल जीवन मिशन का उद्देश्य :

  • यह मिशन मौजूदा जल आपूर्ति प्रणालियों और पानी के कनेक्शन की कार्यक्षमता सुनिश्चित करता है; पानी की गुणवत्ता की निगरानी एवं परीक्षण के साथ-साथ सतत् कृषि को भी बढ़ावा देता है।
  • यह संरक्षित जल के संयुक्त उपयोग; पेयजल स्रोत में वृद्धि, पेयजल आपूर्ति प्रणाली, धूसर जल उपचार और इसके पुन: उपयोग को भी सुनिश्चित करता है।

जल जीवन मिशन की विशेषताए :

  • जल जीवन मिशन (JJM) स्थानीय स्तर पर पानी की मांग और आपूर्ति पक्ष के एकीकृत प्रबंधन पर केंद्रित है।
  • वर्षा जल संचयन, भू-जल पुनर्भरण और पुन: उपयोग के लिये घरेलू अपशिष्ट जल के प्रबंधन जैसे अनिवार्य उपायों हेतु स्थानीय बुनियादी ढाँचे का निर्माण विभिन्न सरकारी कार्यक्रमों/योजनाओं के साथ अभिसरण में किया जाता है।
  • यह मिशन जल के सामुदायिक दृष्टिकोण पर आधारित है तथा मिशन के प्रमुख घटक के रूप में व्यापक सूचना, शिक्षा और संचार शामिल हैं।

जल जीवन मिशन का कार्यान्वयन :

  • जल समितियाँ ग्राम जल आपूर्ति प्रणालियों की योजना, क्रियान्वयन, प्रबंधन, संचालन और रखरखाव करती हैं।
    • इनमें 10-15 सदस्य होते हैं, जिनमें कम से कम 50% महिला सदस्य एवं स्वयं सहायता समूहों के अन्य सदस्य, मान्यता प्राप्त सामाजिक और स्वास्थ्य कार्यकर्ता (आशा), आंगनवाड़ी , शिक्षक आदि शामिल होते हैं।
    • समितियाँ सभी उपलब्ध ग्राम संसाधनों को मिलाकर एक बारगी ग्राम कार्य योजना तैयार करती हैं। योजना को लागू करने से पहले इसे ग्राम सभा द्वारा अनुमोदित किया जाता है।

जल जीवन मिशन का फंडिंग पैटर्न :

केंद्र और राज्यों के बीच फंड शेयरिंग पैटर्न हिमालय तथा उत्तर-पूर्वी राज्यों के लिये 90:10, अन्य राज्यों के लिये 50:50 और केंद्रशासित प्रदेशों के लिये 100% है।

जल जीवन मिशन की अब तक की प्रगति :

  • जब मिशन शुरू किया गया था, देश के ग्रामीण परिवारों में से केवल 17% (32.3 मिलियन) के पास नल के पानी की आपूर्ति थी।
  • आज 7.80 करोड़ (41.14%) घरों में नल के पानी की आपूर्ति है। गोवा, तेलंगाना, अंडमान और निकोबार द्वीप समूह तथा पुद्दूचेरी ने ग्रामीण क्षेत्रों में 100% घरेलू कनेक्शन हासिल कर लिया है।
  • जल जीवन मिशन (ग्रामीण) के पूरक के लिये, जल जीवन मिशन (शहरी)  की घोषणा बजट 2021-22 में की गई थी।

जल जीवन मिशन योजना के लाभ :

जल जीवन मिशन स्कीम के माध्यम से देश के नागरिकों को कौन-कौन से लाभ प्राप्त होते हैं उन सभी लाभों की जानकारी लेख में नीचे दी जा रही है। जल जीवन मिशन  के सभी लाभों की सूची नीचे लेख से प्राप्त करें।

  • जल जीवन मिशन  के माध्यम से राज्यों के जिन इलाकों में पानी की सुविधा नहीं है वहां पानी पहुंचाया जाएगा।
  • इस स्कीम (जल जीवन मिशन स्कीम) लाभ ग्रामीण व शहरी दोनों क्षेत्रों के लोगों को प्रदान किया जाएगा।
  • जल जीवन मिशन स्कीम के लिए सरकार ने 3.60 लाख करोड़ का बजट देने का प्रावधान दिया जाएगा।
  • स्कीम के माध्यम से 6 करोड़ घरों में पानी पहुँचाया जाएगा।
  • घरों में पहुंचाया जाने वाले जल का प्रयोग उम्मीदवार पीने के लिए भी कर सकते हैं।
  • इस मिशन (जल जीवन मिशन स्कीम) के माध्यम से जल संरक्षण को भी बढ़ावा मिलेगा।
  • सभी उम्मीदवारों को अपने घरों में ही पानी का कनेक्शन प्राप्त हो जाएगा।
  • अब उन्हें पीने का पानी लेने के लिए कहीं दूर नहीं जाना पड़ेगा जिससे लाभार्थियों के समय की भी बचत होगी।
  • जल जीवन मिशन स्कीम के माध्यम से ग्रामीण क्षेत्रों को Functional Household Tap Connection उपलब्ध करवाना है।
  • स्कीम के माध्यम से ग्रामीण क्षेत्रों के सार्वजानिक स्थानों पर भी जल कनेक्शन लगाए जाएंगे।
  • अभी तक 18.33 प्रतिशत ग्रामीण इलाकों में पानी का कनेक्शन प्रदान किया गया है।
  • 19 करोड़ 17 लाख ,20 हजार 832 ग्रामीण परिवारों को पानी का कनेक्शन प्राप्त किया गया है।
  • जल जीवन मिशन  के माध्यम से ग्रामीण क्षेत्रों के लोगो को राहत मिलेगी।
  • अभी तक 18 जिलों के लोगों को स्कीम का लाभ प्रदान किया गया है।

जल जीवन मिशन से सम्बंधित प्रश्न उत्तर :

1. जल जीवन मिशन की शुरुआत किसने की?

जल जीवन मिशन की शुरुआत प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा की गयी है।

2. जल जीवन मिशन स्कीम की शुरुआत कब की गयी ?

जल जीवन मिशन की शुरुआत 15 अगस्त 2019 को की गयी।

3. जल जीवन मिशन योजना किसकी है?

जल जीवन मिशन स्कीम की शुरुआत भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा की गयी है यह योजना भारत सरकार के द्वारा ग्रामीण क्षेत्र के नागरिकों के लिए शुरू की गयी है जिसके माध्यम से उन्हें पानी की सुविधा घर-घर में उपलब्ध कराई जाएगी।

4. हर घर जल योजना कब शुरू हुई?

हर घर नल’ योजना की शुरुआत 2019 में की गई थी. इसका नाम हर घर नल से जल रखा गया था. इस योजना के तहत 2022 तक हर घर तक साफ पीने का पानी मुहैया कराने के लिए की बात कही गई थी. बता दें कि वित्त मंत्री ने 2019 में इस योजना के बारे में लोगों को बताया था

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here