हरियाणा सरकार शुरू करने जा रही है पशु संजीवनी सेवा योजना

0
2247

पशु संजीवनी सेवा (Pashu Sanjeevni Sewa):-

हरियाणा सरकार ने मोबाइल पशु चिकित्सा क्लीनिक के माध्यम से पशुधन के लिए गुणवत्ता स्वास्थ्य सेवा प्रदान करने के लिए पशु संजीविनी सेवा – पशुधन पशु चिकित्सा योजना (Pashu Sanjeevni Sewa – Livestock Veterinary Scheme) शुरू करने का निर्णय लिया है | शुरूआती दौर में, पशु संजीविनी सेवा – पशुधन पशु चिकित्सा योजना (Pashu Sanjeevni Sewa – Livestock Veterinary Scheme) जिंद, यमुनानगर और नुह जिलों के सभी ब्लॉकों में पायलट आधार पर शुरू की जाएगी |

मोबाइल वाहन एक पशु चिकित्सक, para vet और सहायक-सह-चालक की सहायता से इन 3 जिलों में हर समय चिकित्सा सेवाएं प्रदान करेंगे| हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने पशुपालन और डेयरी विभाग की एक बैठक के दौरान पशु संजीविनी सेवा – पशुधन पशु चिकित्सा योजना (Pashu Sanjeevni Sewa – Livestock Veterinary Scheme) शुरू करने का निर्णय लिया है | यह योजना प्राथमिक रूप से पशुधन किसानों को 24*7 मोबाइल पशु चिकित्सा क्लीनिक सेवाएं प्रदान करने पर केंद्रित है |

पशु संजीवनी सेवा योजना की मुख्य विशेषताएं:-

  • यह योजना मोबाइल पशु चिकित्सा क्लीनिक के माध्यम से पशुधन के लिए मुफ्त गुणवत्ता वाली स्वास्थ्य सेवाएं सुनिश्चित करेगी |
  • मोबाइल पशु चिकित्सा सेवाएं राज्य के दूरदराज के इलाकों में और उन इलाकों में शुरू की जाएंगी जहाँ कर्मचारियों की कमी है | इन सेवाओं के कार्यान्वयन का तरीका सार्वजनिक निजी साझेदारी (PPP) के आधार पर होगा |
  • पशु संजीविनी सेवा योजना पशुधन को तत्काल आपातकालीन पशु चिकित्सा सेवाएं प्रदान करने में मदद करेगी और quacks की गतिविधियों पर भी जांच रखेगी |
  • प्रारंभ में, यह योजना 3 जिलों में पायलट आधार पर शुरू की जाएगी – जिंद, यमुनानगर, नुह | इन जिलों में योजना के सफलतापूर्वक चलने के आधार पर ही, योजना को अन्य जिलों में शुरू किया जाएगा |
  • पशुधन किसान हर समय पशुधन पशु चिकित्सा योजना के तहत मोबाइल पशु चिकित्सा क्लिनिक सेवाओं का लाभ उठा सकेंगे |
  • इन 3 जिलों में से प्रत्येक block में सेवाएं प्रदान करने के लिए 1 mobile vehicle होगा |
  • प्रत्येक मोबाइल वाहन में तीन सदस्यीय टीम होगी | इस टीम में एक पशु चिकित्सक, एक para vet और एक सहायक-सह-चालक शामिल होगा |

यह योजना न केवल पशुधन को आवश्यक स्वास्थ्य सेवा प्रदान करेगी बल्कि धोखाधड़ी करने वाले पशु चिकित्सकों को भी सीमित कर देगी | सभी पशुपालक हेल्पलाइन नंबर 1962 पर कॉल कर सकते हैं और पशुधन के लिए 24*7 मोबाइल पशु चिकित्सा सेवाओं का लाभ उठा सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here