हरियाणा भावान्तर भरपाई योजना 2022 के लिए ऑनलाइन आवेदन कैसे करें?

0
589

हरियाणा भावान्तर भरपाई योजना 2022:-

हरियाणा भावांतर भरपायी पोर्टल पंजीकरण प्रक्रिया https://fasal.haryana.gov.in/ पर शुरू होती है | हरियाणा सरकार ने मेरी फसल मेरा ब्योरा पोर्टल पर भावांतर भरपाई योजना ऑनलाइन आवेदन पत्र आमंत्रित किया है | लाभ प्राप्त करने के लिए, सभी किसानों को फ़सल हरियाणा सरकार पोर्टल पर ऑनलाइन आवेदन करना होगा, न्यूनतम समर्थन मूल्य (MSP) के साथ दस्तावेजों की सूची, समयसीमा, फसलों के विवरण की जांच करनी होगी | बाद में, किसान किसान रिकॉर्ड खोज (खरीफ / रबी सीजन) कर सकते हैं, निर्धारित कार्यक्रम https://ekharid.haryana.gov.in/login पर कर सकते हैं |

हरियाणा भावांतर भरपायी योजना में यदि किसी बागवान को किसी मंडी में उसकी उपज का कम दाम मिलता है तो राज्य सरकार मुआवजा या मूल्य घाटा प्रदान करेगा | यह भावांतर भरपायी योजना किसानों को उनकी फसलों के विविधीकरण के साथ-साथ एक निश्चित न्यूनतम समर्थन मूल्य सुनिश्चित करके जोखिम को कम करने में मदद करेगी |

सभी किसान निर्धारित तिथियों को देख सकते हैं क्योंकि पंजीकरण, सत्यापन, अपील लाइनें केवल निर्दिष्ट अवधि के भीतर ही खुली हैं | इसलिए, सभी किसानों को इस समय सीमा के दौरान ऑनलाइन पंजीकरण करना होगा | प्रोत्साहन राशि प्राप्त करने के लिए किसानों को अपनी फसल को जे-फॉर्म के माध्यम से बेचना होगा और फिर इसे बीबीवाई पोर्टल पर अपलोड करना होगा | राज्य सरकार बाद में, मुआवजे की राशि सीधे किसानों के आधार से जुड़े बैंक खाते में 15 दिनों के भीतर ट्रांसफर कर देगा |

हरियाणा भावान्तर भरपाई योजना पंजीकरण प्रक्रिया:-

  • हरियाणा भावांतर भरपाई योजना पंजीकरण के लिए, सबसे पहले fasal.haryana.gov.in पर आधिकारिक मेरी फसल सदस्यता खाते पर जाएँ |
  • होमपेज पर, “किसान अनुभाग क्लिक करें” लिंक पर क्लिक करें | Direct Link – https://fasal.haryana.gov.in/farmer/farmerhome
  • फिर किसानों के लिए fasal.haryana.gov.in पोर्टल पंजीकरण करने का पेज नीचे दिखाए अनुसार दिखाई देगा |
  • हरियाणा भावांतर भरपाई योजना पोर्टल किसान लॉगिन पेज खोलने के लिए “किसान पंजीकरण (हरियाणा)” लिंक पर क्लिक करें जैसा कि नीचे दिखाया गया है |
  • मोबाइल नंबर दर्ज करें, लॉगिन बटन पर हिट करें, ओटीपी सत्यापित करें | फिर यह परिवार पहचान पत्र आईडी के रूप में पूछेगा “क्या आप अपने परिवार की पहचान पत्र हैं?” | यदि “हाँ” तो परिवार आईडी दर्ज करें और यदि नहीं, तो आधार संख्या दर्ज करें | फिर यह भावांतर भरपाई योजना पोर्टल पर परिवार विवरण प्रदर्शित करेगा जैसा कि नीचे दिखाया गया है:-
  • फिर भावांतर भरपई योजना पोर्टल पर हरियाणा किसान ऑनलाइन पंजीकरण फॉर्म दिखाई देगा |
  • विवरण सही-सही भरें और अपनी फसल बेचने के लिए खुद को पंजीकृत करने के लिए इसे ऑनलाइन जमा करें | फसलों के ऑनलाइन पंजीकरण के लिए ये सभी विवरण या तो वीएलई द्वारा या स्वयं किसानों द्वारा भरे जा सकते हैं | इस पोर्टल पर प्राप्त जानकारी को किसान और कृषि एवं किसान कल्याण विभाग के साथ साझा किया जा सकता है |

Haryana Bhavantar Bharpai Yojna Latest Update:-

हरियाणा सरकार ने भावांतर भरपाई योजना में अब गाजर, मटर, किन्नू, अमरूद, शिमला मिर्च और बैंगन को भी शामिल कर लिया है | गाजर का मूल्य 700 रुपये प्रति क्विंटल, किन्नू का मूल्य 1100 रुपये प्रति क्विंटल और मटर का मूल्य 1,100 रुपये प्रति क्विंटल निर्धारित किया गया है | इस योजना का लाभ उठाने के लिए किसानों को मेरी फसल मेरा ब्यौरा पोर्टल पर अपना पंजीकरण करवाना होगा |

हरियाणा भावांतर भरपाई योजना के लिए दस्तावेजों की सूची:-

  • आवेदकों का आधार कार्ड
  • आवासीय प्रमाण पत्र
  • पहचान प्रमाण पत्र
  • मोबाइल नंबर
  • किसानों के भूमि दस्तावेज
  • हालिया पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ |

Bhavantar Bharpayee Yojana Timelines:-

क्रं सख्याफसल का नामपंजीकरण अवधि आरंभ तिथिपंजीकरण अवधि समापन तिथिसत्यापन अवधि तकसत्यापन इत्यादि के विरुद्ध अपील अवधि तकबिक्री अवधि दौरान
1.आलू15 सितंबर31 अक्तूबर30 नवम्बर15 दिसम्बर1 दिसम्बर – 31 मार्च
2.प्याज15 दिसम्बर15 फरवरी15 मार्च25 मार्च1 अप्रैल – 31 मई
3.टमाटर15 दिसम्बर15 फरवरी15 मार्च25 मार्च1 अप्रैल- 15 जून
4.फूलगोभी15 सितंबर31 अक्तूबर30 नवम्बर15 दिसम्बर1 दिसम्बर – 31 मार्च
5.गाजर1 अक्तूबर30 नवम्बर15 दिसम्बर31 दिसम्बर1 दिसम्बर – 28 फ़रवरी
6.मटर1 अक्तूबर30 नवम्बर15 दिसम्बर31 दिसम्बर1 दिसम्बर – 28 फरवरी
7.शिमला मिर्च10 फरवरी15 मार्च31 मार्च15 अप्रैल15 अप्रैल – 30 जून
8.बैंगन10 फरवरी15 मार्च31 मार्च15 अप्रैल15 अप्रैल – 30 जून
9.भिन्डी1 फरवरी31 मार्च31 मार्च15 अप्रैल15 अप्रैल – 30 जून
10.मिर्च1 फरवरी31 मार्च31 मार्च15 अप्रैल15 अप्रैल – 30 जून
11.लौकी1 फरवरी31 मार्च31 मार्च15 अप्रैल15 अप्रैल – 30 जून
12.करेला1 फरवरी31 मार्च31 मार्च15 अप्रैल15 अप्रैल – 30 जून
13.हल्दी1 जून31 जुलाई15 अगस्त15 अगस्त1 अप्रैल – 30 अप्रैल
14.पत्ता गोभी1 अक्तूबर30 नवम्बर30 नवम्बर15 दिसम्बर1 दिसम्बर – 31 मार्च
15.लहसुन1 अक्तूबर30 नवम्बर30 नवम्बर15 दिसम्बर1 अप्रैल – 15 मई
16.मूली1 अक्तूबर30 नवम्बर30 नवम्बर15 दिसम्बर1 दिसम्बर – 31 मार्च
17.अमरूद15 अप्रैल15 मई15 जून30 जून1 जुलाई – 31 अगस्त
18.आम1 मार्च15 मई15 मई31 मई15 जून – 31 अगस्त
19.किन्नू1 सितंबर30 नवम्बर15 दिसम्बर31 दिसम्बर1 दिसम्बर – 28 फरवरी

किसानों के लिए भावांतर भरपाई योजना पंजीकरण प्रक्रिया:-

  • इस योजना के तहत लाभ लेने के लिए किसान को बिजाई अवधि के दौरान मार्केटिंग बोर्ड की वेबसाईट पर बागवानी भावान्तर (BBY) ई-पोर्टल के माध्यम से पंजीकरण करवाना अनिवार्य |
  • उद्यान विभाग द्वारा पंजीकृत किसानों का क्षेत्र प्रमाणीकरण
  • प्रमाणित क्षेत्र से असंतुष्ट होने पर किसान द्वारा अपील दायर करने का प्रावधान
  • उत्पादक का निःशुल्क पंजीकरण
  • पंजीकरण केवल निर्धारित अवधि के दौरान खुला रहेगा |
  • सर्व सेवा केंद्र/ई-दिशा केंद्र/मार्किटिंग बोर्ड/ बागवानी विभाग/कृषि विभाग और इन्टरनैट कियोस्क पर पंजीकरण सुविधा उपलब्ध होगी |

Bhavantar Bharpayee Yojana Crops, MSP and Production:-

क्रं सख्याफसल का नामसंरक्षित मूल्य (रुपये प्रति क्विंटल )निर्धारित उत्पादन (क्विंटल प्रति एकड़)
1.आलू500120
2.प्याज650100
3.टमाटर500140
4.फूलगोभी750100
5.गाजर700100
6.मटर110050
7.शिमला मिर्च90080
8.बैंगन500110
9.भिन्डी105070
10.मिर्च95070
11.लौकी450110
12.करेला135040
13.हल्दी140080
14.पत्ता गोभी650100
15.लहसुन230050
16.मूली450100
17.अमरूद130070
18.आम195050
19.किन्नू1100104

हरियाणा भावान्तर भरपाई योजना प्रोत्साहन प्रक्रिया:-

  • प्रोत्साहन के लिए जे-फार्म पर बिक्री अनिवार्य होगी |
  • जे-फार्म पर बिक्री उपरांत बिक्री विवरण BBY ई-पोर्टल पर अपलोड होगा, जिसके लिए प्रत्येक संबंधित मार्केट कमेटी के कार्यालय में सुविधा उपलब्ध होगी |
  • बिक्री की अवधि के दौरान यदि फसल उत्पादन का थोक मूल्य संरक्षित मूल्य से कम मिलता है, तो किसान भाव के अंतर की भरपाई के लिए पात्र होगा |
  • जे-फार्म पर बिक्री तथा निर्धारित उत्पादन प्रति एकड़ (जो भी कम होगा) को भाव के अंतर से गुना करने पर प्रोत्साहन देय होगा |
  • प्रोत्साहन राशि किसान के आधार लिंकड बैंक खाते में बिक्री के 15 दिन के अन्दर जारी कर दी जाएगी |
  • औसत दैनिक थोक मूल्य मण्डी बोर्ड द्वारा चिन्हित मण्डियों के दैनिक भाव के आधार पर निर्धारित किया जाएगा |

हरियाणा भावान्तर भरपाई योजना का आंकलन:-

  • योजना को प्रभावी तौर पर लागू करने के लिए मुख्य सचिव की अध्यक्षता में गठित राज्य स्तरीय एवं उपायुक्त की अध्यक्षता में गठित जिला स्तरीय समितियों द्वारा समय-समय पर आंकलन |
  • अखबारों, डिजिटल सुविधाओं, गोष्ठिओं व किसान सम्मेलनों के माध्यम से योजना का व्यापक प्रचार-प्रसार |
  • योजना के लिए पर्याप्त धन राशि का प्रावधान |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here