क्रेडिट कार्ड क्या होता है और क्रेडिट कार्ड का उपयोग कैसे करते हैं? What is Credit Card

0
266
क्रेडिट कार्ड क्या होता है

हेलो दोस्तों आज हम इस आर्टिकल के माध्यम से जानेंगे कि क्रेडिट कार्ड क्या होता है? क्रेडिट कार्ड के फायदे और नुकसान क्या हैं और नया क्रेडिट कार्ड कैसे बनाते हैं, क्रेडिट कार्ड का उपयोग कैसे करें? मैं क्रेडिट कार्ड से क्या खरीद सकता हूं? क्रेडिट कार्ड क्या है, क्रेडिट कार्ड की सैलरी कितनी होनी चाहिए, क्रेडिट कार्ड कितने प्रकार के होते हैं, क्रेडिट कार्ड बनवाने के लिए क्या करना होगा? आज हम आपको क्रेडिट कार्ड के बारे में पूरी जानकारी बताने जा रहे हैं , कृपया इस आर्टिकल को अपने दोस्तों और परिवार वालो के साथ जरूर साझा करें ताकि उनको भी इस बात की जानकारी होसके।

दोस्तों क्रेडिट कार्ड क्रेडिट कार्ड का उपयोग आज की ऑनलाइन दुनिया में बहुत अधिक किया जा रहा है, आजकल क्रेडिट कार्ड का उपयोग किसी भी मॉल, दुकान और अन्य स्थानों की तरह ऑनलाइन खरीदारी या ऑफलाइन के लिए किया जा रहा है, न केवल बिल भुगतान क्रेडिट कार्ड हैं कई जगहों पर रिचार्ज और बहुत कुछ करने के लिए इस्तेमाल किया जा रहा है।

क्रेडिट कार्ड क्या होता है?

क्रेडिट कार्ड किसी बैंक या वित्तीय सेवा कंपनी द्वारा जारी प्लास्टिक या धातु का एक पतला आयताकार टुकड़ा है जो कार्डधारकों को धन उधार लेने की अनुमति देता है जिसके साथ भुगतान के लिए कार्ड स्वीकार करने वाले व्यापारियों के साथ सामान और सेवाओं के लिए भुगतान किया जाता है। क्रेडिट कार्ड यह शर्त लगाते हैं कि कार्डधारक उधार ली गई धनराशि, साथ ही लागू ब्याज, साथ ही किसी भी अतिरिक्त सहमत-शुल्क का भुगतान बिलिंग तिथि या समय के साथ पूरी तरह से कर देते हैं।

मान लीजिए आप कहीं शॉपिंग करने जाते हैं और अगर आपके पास पैसे देने के लिए पैसे नहीं हैं तो उस वक्त आपको किसी से पैसे मांगने की जरूरत नहीं पड़ेगी, आप जहां शॉपिंग करने जाते हैं वहां अपने क्रेडिट कार्ड से पेमेंट कर सकते हैं। एक स्वाइप मशीन है जिसमें आप अपने क्रेडिट कार्ड को स्वाइप करके बिल का भुगतान कर सकते हैं।

क्रेडिट कार्ड की एक लिमिट होती है जो कि लिमिट से ज्यादा होती है आप उसका इस्तेमाल नहीं कर पाएंगे और अगर आप लिमिट से ज्यादा इस्तेमाल करने की कोशिश करेंगे तो बैंक आपसे इसके लिए चार्ज करेगा, जैसे ही आप महीने खत्म होंगे आपके द्वारा क्रेडिट कार्ड से खर्च किए गए पैसे का बिल देना होगा, अगर आप भुगतान नहीं करते हैं, तो बैंक आपसे उच्च ब्याज दर पर शुल्क लेता है।

क्रेडिट कार्ड कितने प्रकार के होते हैं?

दोस्तों भारत में 5 तरह के क्रेडिट कार्ड उपलब्ध हैं। रिवॉर्ड क्रेडिट कार्ड, शॉपिंग क्रेडिट कार्ड, सिक्योर्ड क्रेडिट कार्ड, फ्यूल क्रेडिट कार्ड, ट्रैवल क्रेडिट कार्ड।

रिवॉर्ड क्रेडिट कार्ड

यह क्रेडिट कार्ड आपको खरीदारी या लेनदेन पर तुरंत रिवॉर्ड पॉइंट देता है, इस रिवार्ड पॉइंट को मासिक क्रेडिट कार्ड बिलों का भुगतान करने के लिए भुनाया जा सकता है या रिडीम भी किया जा सकता है।

शॉपिंग क्रेडिट कार्ड

शॉपिंग क्रेडिट कार्ड यह क्रेडिट कार्ड शॉपिंग के लिए है, इसका उपयोग करने पर आपको कैशबैक, डिस्काउंट वाउचर का लाभ हर समय मिलेगा यदि आप इसके पार्टनर स्टोर पर ऑनलाइन या ऑफलाइन खरीदारी या लेनदेन करते हैं।

सिक्योर्ड क्रेडिट कार्ड

सिक्योर्ड क्रेडिट कार्ड: यह क्रेडिट कार्ड आपके फिक्स्ड डिपॉज़िट निवेश ले सकता है, अगर आपका कोई क्रेडिट स्कोर नहीं है, तो आप इस प्रकार के क्रेडिट कार्ड का उपयोग करके अपना क्रेडिट स्कोर बढ़ा सकते हैं।

फ्यूल क्रेडिट कार्ड

इस प्रकार के क्रेडिट कार्ड से, आप ईंधन भरने के लिए अतिरिक्त रिवॉर्ड पॉइंट प्राप्त कर सकते हैं, आप फ्यूल सरचार्ज छूट का लाभ उठाकर अपनी परिवहन लागत को कम कर सकते हैं।

ट्रैवल क्रेडिट कार्ड

इस प्रकार के क्रेडिट कार्ड से आप फ्लाइट बुकिंग, ट्रेन टिकट, बस और अन्य चीजों में छूट प्राप्त कर सकते हैं, प्रत्येक बुकिंग पर रिवॉर्ड पॉइंट मिलते हैं।

क्रेडिट कार्ड के लिए वेतन क्या है ?

दोस्तों क्रेडिट कार्ड के बारे में सोचते समय हमारे दिमाग में ये सवाल जरूर आता है की क्रेडिट कार्ड के लिए हमारी कितनी सैलरी होनी चाहिए, जिससे क्रेडिट कार्ड आसानी से मिल जाए, दोस्तों क्रेडिट कार्ड सिर्फ आपकी सैलरी देखकर नहीं दिया जाता, इसमें बहुत सी चीजों की जांच की जाती है जैसे आपका क्रेडिट स्कोर सैलरी कितनी होनी चाहिए, यह हर बैंक के लिए अलग है। ऐसा होता है कि किसी बैंक के क्रेडिट कार्ड में मासिक वेतन 20000 होना चाहिए, तो किसी भी बैंक में वेतन 25000 होना चाहिए और कभी-कभी कुछ बैंक बिना किसी वेतन के प्री-अप्रूव्ड क्रेडिट कार्ड प्रदान करते हैं।

क्रेडिट कार्ड के लिए सिबिल स्कोर/क्रेडिट स्कोर क्या होना चाहिए –

दोस्तों क्रेडिट कार्ड लेने के लिए 700 से ऊपर का सिबिल स्कोर अच्छा होता है, लेकिन अगर आपका कोई भी सिबिल स्कोर जनरेट नहीं हुआ है, यानी सिबिल स्कोर जीरो दिख रहा है, तब भी कुछ बैंक प्री-अप्रूव्ड क्रेडिट कार्ड ऑफर करते हैं।

क्रेडिट कार्ड VS डेबिट कार्ड –

क्रेडिट कार्ड और डेबिट कार्ड एक जैसे दिखते हैं, वे बहुत अलग तरीके से काम करते हैं। क्रेडिट कार्ड के साथ, आप क्रेडिट कार्ड जारीकर्ता से पैसे उधार ले रहे हैं। डेबिट कार्ड के साथ, आप खरीदारी के भुगतान के लिए अपने चेकिंग खाते से पैसे का उपयोग कर रहे हैं। डेबिट कार्ड का उपयोग करने के लिए, आपको अपना पिन भी दर्ज करना होगा।

एटीएम पर या जब आप खरीदारी करते हैं तो आप अपने चेकिंग खाते से नकद निकालने के लिए डेबिट कार्ड का भी उपयोग कर सकते हैं। कुछ क्रेडिट कार्ड आपको नकद अग्रिम लेकर नकदी का उपयोग करने की अनुमति देते हैं, लेकिन इन लेन-देन में खरीदारी की तुलना में अधिक ब्याज दरें होती हैं, और उनके पास अनुग्रह अवधि नहीं हो सकती है। दूसरे शब्दों में, आपको अग्रिम पर ब्याज का भुगतान करना होगा।

निष्कर्ष –

दोस्तों उम्मीद करता हूँ आज इस आर्टिकल के माध्यम से आप लोगों को क्रेडिट कार्ड से रिलेटेड सारी जानकारी मिल गई होगी और साथ ही क्रेडिट कार्ड कितने प्रकार के होते हैं और क्रेडिट कार्ड से जुड़े हुए सारे सवालो के जवाब मिल गए होंगे दोस्तों फिर भी, अगर आप हमसे इस आर्टिकल से जुड़े कुछ सवाल हमसे पूछना चाहते हैं तो नीचे कमेंट करके पूछ सकते हैं हमारी टीम आपका जवाब जरूर देगी , कृपया अपने दोस्तों के साथ जरूर इस आर्टिकल को साझा करे ताकि उनको भी यह जानकारी मिल सके धन्यवाद।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here