CM हेल्पलाइन 181 पर ऑनलाइन शिकायत कैसे करें |

6
15520

CM Helpline 181 par Shikayat Kaise Karen : प्रदेश की सुशासन व्यवस्था को अधिक चुस्त-दुरस्त और जनहित में सक्रिय करने के लिए शुरू की गई यह हेल्पलाइन देश में अपने तरह की अनूठी हेल्पलाइन है । CM हेल्पलाइन मध्यप्रदेश सरकार द्वारा शुरू की गयी है इस योजना के तहत त्वरित शिकायत समाधान के साथ उससे सम्बंधित सरकारी कर्मचारी के खिलाफ कार्यवाही की जाती है यदि वह दोषी पाया जाता है ।

मध्यप्रदेश में सभी सुखी हों, निरोगी हों, सबका कल्याण हो, यही शासन व्यवस्था का ध्येय है. इसी की पूर्ति के लिए प्रदेश में सी.एम. हेल्पलाइन 181 प्रांरभ की गई है.’ प्रदेश की सुशासन व्यवस्था को अधिक चुस्त-दुरस्त और जनहित में सक्रिय करने के लिए शुरू की गई यह हेल्पलाइन देश में अपने तरह की अनूठी हेल्पलाइन है और इससे प्रदेश के विभिन्न विभागों के तेरह हजार अधिकारी-कर्मचारियों को जोड़ा गया है, जो इस हेल्पलाइन से प्राप्त समस्याओं का निराकरण करेंगे.

शिकायत कैसे करें :

हेल्पलाइन में शिकायत करने के लिए कॉल करें 181 कॉल करने के बाद IVR द्वारा दिए निर्देशों का पालन करें |

ऑनलाइन शिकायत कैसे करें ?

यदि आपको ऑनलाइन शिकायत करना है तो नीचे दी जा रही प्रोसेस का क्रमशः पालन करें ।

STEP 1: CM HELPLINE 181 में शिकायत दर्ज करने हेतु ऑफिसियल वेबसाइट http://cmhelpline.mp.gov.in/  पर जाएँ । दूसरे विक्रलप शिकायत / मांग / सुझाव लिंक पर क्लिक करें ।

STEP 2: अगली विंडो में आपकी स्क्रीन में कुछ सुझाव मिलेंगे आप उन्हें ध्यान से पड़ें और एक्सेप्ट चेक बॉक्स में क्लिक करें और I Accept बटन पर एंटर करें |

STEP 3 :  शिकायतकर्ता की जानकारी भरें जैसे की उसका नाम मोबाइल नंबर पता आदि  |

STEP 4:  अब अपनी शिकायत सम्बंधित जानकारी शिकायत पंजीयन फॉर्म में भरें । शिकायत सम्बंधित कोई दस्तावेज है तो उसे स्कैन कर  जरूर संग्लन करें |यदि सम्बंधित कोई दस्तावेज नहीं है तो संग्लन करने की जरुरत नहीं है |

अपनी शिकायत का विवरण दर्ज करने के बाद जन शिकायत को दर्ज करें बटन पर क्लिक करें |

सफलतापूर्वक शिकायत दर्ज होने के बाद आपको एक शिकायत क्रमांक प्राप्त होगा और आपके रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर भी भेज दिया जायेगा । शिकायत की स्थिति जानने के लिए शिकायत क्रमांक को सुरक्षित अपने पास रखे । अगली पोस्ट में हम आपको शिकायत की स्थिति पता करने की प्रोसेस बताएँगे ।

6 COMMENTS

  1. I am Mahima in ratlam. Meri sssm I’d me mistek thi sudarne ko विभाग me di kintu abhi tak shi nhi huii he or us vjh se meri hitgrahi profile nhi ban rhi he or us vjh se mera scholarship ki fome nhi bhara rhi he or college me scholarships ke fome ki date nikal jayegi or mujhe sholership nhi milegi plz sir help kre

    • Mahima ji jab tak aapki samagra id sahi nahi ho jati aap hitgrahi profile panjiyan nahi kar payengi ye bilkul such hai but samagra id ko aapke area ke Sachiv ya rojgar sahayak hi sahi kar sakte hain iska adhikar unji ke pass hota hai so please aap unhi se sampark karke sahi karayen yadi nahi hoti ya nahi kar rahe hon to batayi gyi process ke anusar CM helpline men shikayat karen thank u

  2. मध्य प्रदेष के सीधी जिले के रामपुर नैकिन जनपद पंचायत के रैदुअरिया कला में खुली राषन की दुकान से गरीबों को बितरित नही किया जाता है। चार से पांच महीने तक खाद्यान्न नही आने की मौखिक जानकारी देकर बंचित रखा जाता है छठवे महीने में एक महीने का पांच से दस किलो देकर बांकी खाद्यान्न देने से इंकार किया जाता है। इसकी षिकायत खाद्य आपूर्ति अधिकारी से किये जाने पर भी न तो विक्रेता पर कार्रवाई की जाती है न ही जनता को अनाज दिलवाया जाता है। विक्रेता को सेवा सहकारी समिति भरतपुर के अध्यक्ष का संरक्षण प्राप्त है जिसके कारण वह खुले आम अनाज को बाजार में बेंच देता है। मुख्यमंत्री महोदय से हस्ताक्षेप की आपेक्षा है।

  3. मेरा प्लाट को लेकर पेसे वापस मांगने पर लखन पिता दिनेश चावरे शाजापुर द्वारा मेरे साथ मारपिट की गयी ओर अब मुझे जानसे मारने के लिए घुम रहे हैं मे घर से बाहर नहीं निकल रहा हूं मेरे पिता ने पुलिस को भी आवेदन दे दिया है मगर कोई सुरक्षा नहीं दी गयी मुझे व मेरे परिवार के सदस्य की हत्या हो हो सकती है जिसकी शिकायत दर्ज कर रहा हु क्रपया सुरक्षा मुहेया कराये जाये

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here