100 के नए नोट के बारे में सब कुछ जो आप जानना चाहेंगे |

0
2012

Whats new in 100 rupees note:-

नोटबंदी के बाद आए 50,200,500 और 2000 रुपए के नए नोटों के बाद अब रिजर्व बैंक ऑफ़ इंडिया (RBI), 100 रुपए का नया नोट ला रही है |100 रुपए के नए नोट अगस्त 2018 में को रिजर्व बैंक ऑफ़ इंडिया (RBI) द्वारा जारी किया जायेगा | अभी बाजार में रिजर्व बैंक ऑफ़ इंडिया (RBI) द्वारा जारी 1,2,5,10,20,50,100,200,500,2000 के रूप में कुल 10 तरह के नोट हैं  |

100 रुपए का नोट रिजर्व बैंक ऑफ़ इंडिया (RBI) द्वारा बाजार में सिर्फ इसकी सुरक्षा में बढ़ोत्तरी के उद्देश्य से लाया जा रहा है | यह 100 रुपये का नोट उन्नत सुरक्षा सुविधाओं से less होगा | सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि नए 100 रुपये के नोट की शुरूआत के बाद भी पुराने नोट कानूनी तौर पर मान्य रहेंगे |

100 रुपए  के नए नोटों के मार्केट में आ जाने से लोग सुरक्षा से जुडी बिना किसी चिंता के आसानी से लेन-देन करेंगे | कुछ हफ्तों पहले ही रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (RBI) ने इन नोटों की छपाई के ऑर्डर दिए हैं | इन नोटों की छपाई सरकार की देखरेख में की जा रही है | साथ ही नोटों की security features की भी testing की जा रही है  |

100 के नोट की खासियत :-

 

नोट का अगला हिस्सा :-

  • गौर से देखने पर ₹100 लिखी हुई एक image नजर आएगी |
  • नोट के बाएं ओर देवनागरी में ₹१०० लिखा दिख जाएगा |
  • बैगनी रंग का महात्मा गांधी का फोटो बीच में दिखाई देगा |
  • Security Thread में ‘भारत’ और ‘RBI‘ लिखा हुआ है। नोट को तिरछा करने पर यह thread हरे से नीले रंग की नजर आएगी |
  • महात्मा गांधी के फोटो के दाएं ओर guarantee clause, promise clause के साथ गवर्नर का हस्ताक्षर और रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (RBI) का प्रतीक चिह्न क्रमशः ऊपर से नीचे की ओर चिन्हित होंगे |
  • नोट के निचले हिस्से में दाईं ओर ₹100 कलर बदलने वाले इंक में लिखा होगा जिसका कलर बदलकर बैगनी से लाल  हो जाएगा |
  • सबसे नीचे बाईं ओर से दाईं ओर ऊपरी हिस्से में छोटे से बड़ा होता नंबर पैनल होगा |
  • नोट के सबसे दाईं ओर अशोक स्तंभ का प्रतीक चिह्न है |
  • अशोक स्तंभ के प्रतीक में electrotype watermark भी दिया गया है |

 

नोट का पिछला हिस्सा :-

  • नोट की बाईं ओर नोट छपाई का वर्ष अंकित होगा |
  • स्वच्छ भारत अभियान का लोगो अंकित होगा |
  • विभिन्न भाषाओं वाला पैनल दिखाई देगा |
  • रानी की वाव/ RANI KI VAV की आकृति दिखाई देगी |
  • रानी की वाव/ RANI KI VAV की आकृति के ऊपर देवनागिरी लिपि में सौ रुपये (₹१००) की लिखावट दिखाई देगी |
  • नोट के पिछले हिस्से में दिखाई गई रानी की वाव/ RANI KI VAV गुजरात राज्य के पाटन शहर में स्थित है |
  • यह रानी की वाव/ RANI KI VAV  World’s Heritage Sites की सूची में भी शामिल है |

दृष्टिहीनों के लिए :-

100 के नए नोट में अशोक स्तंभ, महात्मा गांधी और त्रिभुज का निशान बाहर की तरफ उभरा हुआ है ताकि दृष्टिहीन लोगों को नोट की पहचान करने में आसानी हो सके  | नोट के अगले हिस्से में दोनों किनारों पर विशिष्ट निशान भी हैं |

नोट का आकार :-

100 रुपये का नया नोट 66 mm चौड़ा और 142 mm लंबा है | रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (RBIद्वारा जारी नया 100 रुपये का नोट पुराने 100 रुपये के नोट की तुलना में आकार में छोटा है | नया 100 रुपये नोट आकार में नए 500 रुपये के नोट के समान बनाया गया है |

नोटों की छपाई :-

देश में कुल 4 बैंक नोट प्रेस, 4 टकसाल(मिंट) और 1 पेपर मिल हैं | 4 बैंक नोट प्रेस मध्य प्रदेश के देवास, महाराष्ट्र के नासिक, पश्चिम बंगाल के सालबोनी और कर्नाटक के मैसूर में हैं | इन बैंक नोट प्रेसों में ही नोटों की छपाई होती है |100 के नोटों की छपाई मध्य प्रदेश के देवास में स्थित बैंक नोट प्रेस में हो रही है | इन नोटों की छपाई के लिए देवास में तैयार स्याही का ही उपयोग किया जाता है | देश का एक मात्र सिक्युरिटी पेपर मिल होशंगाबाद में है | नोट छपाई पेपर होशंगाबाद और विदेश से आते हैं |देश के टकसाल मुंबई, हैदराबाद, कोलकाता और नोएडा में स्थित हैं |

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here