RIP Irrfan Khan: Top 10 Powerful Irrfan Khan Dialogues

0
1205
Irrfan Khan Dialogues

Irrfan Khan Dialogues:

Irrfan Khan Dialogues– फिल्म जगत के शानदार अभिनेता इरफान खान अब हमारे बीच नहीं रहे | बॉलीवुड के महान अभिनेता इरफान खान का आज 29 अप्रैल 2020 को 53 वर्ष की आयु में मुंबई में निधन हो गया | साल 2018 में इरफान खान (Irrfan Khan) को पता चला था कि वह न्यूरोएंडोक्राइन ट्यूमर से पीड़ित हैं | पिछले दो साल से वो इस बीमारी का इलाज करा रहे थे |

अभिनेता के प्रशंसक उन्हें अंतिम विदाई देने के लिए सोशल मीडिया उनके famous dialogues को share कर रहे हैं उनके साथी कलाकार उनके साथ बिताये लम्हों को याद कर साझा कर रहे हैं | कई हस्तियों ने अभिनेता को सोशल मीडिया पर अपने अंतिम सम्मान के रूप में भावपूर्ण श्रद्धांजलि दी | जब से यह खबर आई है, तब से अभिनेता को याद करने के लिए प्रशंसक सोशल मीडिया का सहारा ले रहे हैं |

आपको बता दें कि बीमारी की वजह से इरफान खान का मुंबई के कोकिलाबेन अस्पताल में भर्ती कराया गया था | वह लंबे समय से बीमार चल रहे थे | कुछ समय पहले वह अपने इलाज़ के लिए लंदन भी गए थे | उसके बाद उनके हालत में कुछ सुधार आया था | उन्होंने आखिरी फ़िल्म ‘अंग्रेजी मीडियम‘ की शूटिंग भी की | मंगलवार को एक बार फिर तबीयत ख़राब होने पर उन्हें कोकिलाबेन अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां उन्होंने अपनी आखिरी सांसे लीं |

Irrfan Khan Dialogues

Top 10 Powerful Irrfan Khan Dialogues:-

वर्षों से, इरफ़ान खान जीवन के लिए सरल और सच्चे हैं, जिन्होंने हमारे दिलों में अपनी जगह बनाई है | अभिनेता, जिन्होंने हमारे लिए पच्चीस वर्षों में Piku, The Lunchbox, Paan Singh Tomar, Maqbool, Haasil, Namesake, जैसे एक विरासत को पीछे छोड़ दिया है | कभी भी एक पारंपरिक नायक नहीं, उन्होंने अपने पात्रों को भरोसेमंद और वास्तविक बनाया – शायद यही वजह है कि उनकी मृत्यु भारतीय फिल्म उद्योग के लिए सबसे बड़ी चोटों में से एक है |

1. Life of Pi (2012)

I suppose, In the end, the whole of life becomes an act of letting go.

2. The Lunchbox (2013)

Sometimes the wrong train takes you to the right direction.

3. Namesake (2006)

Pack a pillow and a blanket and see as much of the as you can.You will not regret it. One day it will be too late.

4. The Lunchbox (2013)

Life is very busy these days. There are too many people, and anyone wants what the other has.

5. D-Day (2013)

Sirf insaan galat nahi hote, kabhi waqt bhi galat hota hai.

6. Life…in a Metro (2007)

Rishte kisi guarantee card ke sath to aate nahin hain.

7. D-Day (2013)

Galtiya bhi rishto ki tarah hoti hain. karni nahi padti ho jati hain.

8. Life…in a Metro (2007)

Yeh shar jitna hame deta hai, badle me kahin jyada humse le leta hai.

9. Life of Pi (2012)

Doubt is useful. it keeps faith a living thing. After all, you can not know the strength of your faith until it has been tested.

10. Angrezi Medium (2020)

Aadmi ka sapna toot jaata hai na, toh aadmi khatm ho jaata hai.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here