राजस्थान: मुख्यमंत्री राजश्री योजना 2022 ऑनलाइन आवेदन, पात्रता, दिशा निर्देश, जानिए सब कुछ. . .

0
942
मुख्यमंत्री राजश्री योजना

सरकार बेटियों के उत्थान के लिए निरंतर प्रयासरत है। जिसके लिए सरकार समय – समय पर बेटियों के उत्थान के लिए विभिन्न प्रकार की योजनाओं का संचालन करती है। समाज में बेटियों को बेटों के समान शिक्षा का अधिकार देने और भ्रूण हत्या पर रोक लगाने के उद्देश्य से राजस्थान सरकार की ओर से मुख्यमंत्री राजश्री योजना शुरू की गई है।

इस योजना के तहत बालिका के जन्म से लेकर शिक्षा तक उसे आर्थिक मदद प्रदान की जाती है। इस योजना के तहत कुल मिलाकर बेटियों को 50 हजार रुपए की आर्थिक सहायता दी जाती है। ये सहायता विभिन्न स्तरों पर प्रदान की जाती है।

इस योजना का लाभ केवल सरकारी विद्यालयों में अध्ययनरत बालिकाओं को ही दिया जाएगा। निजी विद्यालय की बालिकाएं इस योजना का लाभ प्राप्त नहीं कर सकती हैं।  इस आर्टिकल के माध्यम से हम आपको मुख्यमंत्री राजश्री योजना की पूरी जानकारी देने जा रहे है |

आप इस आर्टिकल के माध्यम से  राजस्थान मुख्यमंत्री राजश्री योजना के लाभ, उद्देश्य, पात्रता, महत्वपूर्ण दस्तावेज, विशेषताएं, आवेदन करने की प्रक्रिया आदि से संबंधित जानकारी प्राप्त कर सकेंगे। तो यदि आप मुख्यमंत्री राजश्री योजना 2022 का लाभ प्राप्त करना चाहते हैं तो आपसे निवेदन है कि आप हमारे इस आर्टिकल को अंत तक पढ़े।

मुख्यमंत्री राजश्री योजना 2022:

बालिकाओं के प्रति समाज में सकारात्मक सोच विकसित करने एवं उनके स्वास्थ्य तथा शैक्षणिक स्तर में सुधार करने साथ ही उनके समग्र विकास के लिए, राजस्थान राज्य में 1 जून 2016 से मुख्यमंत्री राजश्री योजना लागू की गई है।

यह योजना मुख्यमंत्री शुभ लक्ष्मी योजना के स्थान पर लागू की गई है। इस योजना के तहत कुल छह किश्तों में योजना के नियमानुसार प्रत्येक लाभार्थी बालिका के माता -पिता/अभिभावक को कुल राशि 50 हजार रुपए का लाभ प्रदान किया जाता है। यह योजना बालिकाओं का समग्र विकास करने में कारगर साबित होगी।

इसके अलावा इस योजना के माध्यम से आर्थिक सहायता बालिका के विभिन्न कक्षाओं में प्रवेश लेने पर भी प्रदान की जाएगी। जिससे कि प्रदेश के नागरिक बालिकाओं को शिक्षित करने के लिए प्रोत्साहित होंगे।

यह योजना बालिकाओं को समाज में समानता का अधिकार भी प्रदान करेगी। बता दें कि इस योजना के तहत बालिका को छह किश्तों में 50 हजार रुपए दिए जाते हैं। पहली किश्त सरकारी अस्पताल में जन्म के समय और दूसरी किश्त एक साल यानी कि पहले जन्मदिन पर मिलती है। ये दोनों किश्तें 2500-2500 रुपए की मिलती है।

मुख्यमंत्री राजश्री योजना का उद्देश्य :

  • राज्य में बालिका के जन्म के प्रति सकारात्मक वातावरण तैयार करते हुए बालिका का समग्र विकास करना।
  • बालिकाओं के लालन-पालन, शिक्षण व स्वास्थ्य के मामले में होने वाले लिंगभेद को रोकना एवं बालिकाओं का बेहतर शिक्षण व स्वास्थ्य सुनिश्चित करना।
  • संस्थागत प्रसव को बढ़ावा देकर मातृ-मृत्यु दर में कमी लाना।
  • बालिका शिशु मृत्यु दर में कमी लाना एवं ठहराव सुनिश्चित करना।
  • बालिका का सरकारी विद्यालयों में नामांकन एवं ठहराव सुनिश्चित करना।
  • बालिका को समाज में समानता का अधिकार दिलाना।

मुख्यमंत्री राजश्री योजना हाइलाइट्स :

योजना का नाममुख्यमंत्री राजश्री योजना
आरंभ करने वाली सरकार राजस्थान सरकार
लाभार्थीराजस्थान के नागरिक
उद्देश्यबालिकाओं के प्रति सकारात्मक सोच विकसित करना।
आधिकारिक वेबसाइटयहां क्लिक करें
वर्ष 2022
आवेदन का प्रकारऑनलाइन
राज्यराजस्थान

मुख्यमंत्री राजश्री योजना के तहत मिलने वाले लाभ :

राजस्थान सरकार के माध्यम से राजश्री योजना के तहत बालिका के जन्म से लेकर शिक्षा तक पैसा दिया जाता है। योजना में मिलने वाले लाभ इस प्रकार से हैं-

  • बेटी के जन्म पर 2500 रुपए की पहली किस्त दी जाती है।
  • बेटी की उम्र एक वर्ष होने पर 2500 रुपए की दूसरी किस्त प्रदान की जाती है।
  • सरकारी स्कूल में पहली कक्षा में प्रवेश लेने पर तीसरी किस्त 4 हजार रुपए दी जाती है।
  • जब बेटी कक्षा 6 में आ जाती है तब चौथी किस्त के रूप में 5 हजार रुपए दिए जाते हैं।
  • जब बेटी दसवीं कक्षा में प्रवेश लेती है तो पंचवीं किस्त 11 हजार रुपए प्रदान की जाती है। 
  • जब बेटी 12वीं कक्षा पास कर लेती है तो योजना की छठवीं किस्त यानि अंतिम किस्त 25 हजार रुपए दी जाती है। 
  • इस प्रकार इस योजना में बेटी को जन्म से लेकर कक्षा 12वीं तक पढ़ाई करने पर परिवार को कुल 50 हजार रुपए की आर्थिक सहायता राजस्थान राज्य सरकार की ओर से प्रदान की जाती है। बेटियों को दी जाने वाली धनराशि सीधे उनके बैंक खाते में भेजी जाती है।

छह किश्तों में मिलने वाली राशि का व्यौरा :

किश्त संख्यासमयराशि
पहली किश्तसरकारी अस्पताल में जन्म के दौरान2,500 रुपए
दूसरी किश्तबालिका के पहले जन्मदिन पर2,500 रुपए
तीसरी किश्तसरकारी स्कूल में कक्षा एक में प्रवेश लेने पर4000 रुपए
चौथी किश्तसरकारी स्कूल में कक्षा 6 में प्रवेश लेने पर5000 रुपए
पांचवी किश्तसरकारी स्कूल में कक्षा 10 में प्रवेश लेने पर11,000 रुपए
छठी किश्तसरकारी स्कूल से 12वीं पास करने पर25,,000 रुपए

मुख्यमंत्री राजश्री योजना के लिए पात्रता और शर्तें :

मुख्यमंत्री राजश्री योजना के लिए कुछ पात्रता और शर्तें निर्धारित की गई है जो इस प्रकार से हैं-

  • मुख्यमंत्री राजश्री योजना में आवेदन के लिए, आवेदन राज्य का मूल निवासी होना जरूरी है। मुख्यमंत्री राजश्री योजना का लाभ केवल राजस्थान की बालिकाओं को ही मिलेगा। अन्य राज्य की बालिकाएं इसकी पात्र नहीं होगी।
  • इस योजना का लाभ केवल सरकारी स्कूल की बालिकाओं को ही दिया जाएगा। निजी स्कूल में अध्ययनरत बालिकाएं इसकी पात्र नहीं होंगी।
  • इस योजना में शामिल होने के लिए बालिकाओं का जन्म 1 जून 2016 से के बाद का होना चाहिए। 
  • योजना का लाभ लेने के लिए परिवार के पास आधार कार्ड और भामाशाह कार्ड होना जरूरी।
  • जन्म के बाद बेटी का जन्म पंजीकरण करवाना अनिवार्य है।
  • माता-पिता अथवा अभिभावकों को आवेदन पत्र के साथ बेटी का जन्म प्रमाण-पत्र भी जमा करना होगा।
  • राजश्री योजना की पहली दो किश्त उन सभी बालिकाओं को मिलेगी जिनका जन्म किसी सरकारी अस्पताल एवं जननी सुरक्षा योजना से रजिस्टर्ड निजी चिकित्सा संस्थानों में हुआ हो। 
  • ऐसी बालिकाएं लाभ की प्रात्र होगी जो राज्य सरकार द्वारा संचालित शिक्षण संस्थाओं में प्रत्येक चरण में (कक्षा 1, 6, 10 तथा 12) शिक्षारत है अथवा रहीं हैं। 

मुख्यमंत्री राजश्री योजना के लिए आवश्यक दस्तावेज :

मुख्यमंत्री राजश्री योजना में आवेदन के लिए आपको कुछ महत्वपूर्ण दस्तावेजों की आवश्कता होगी जो इस प्रकार से हैं|

  • आवेदन करने वाले का आधार कार्ड 
  • आवेदन करने वाले का वोटर आईडी कार्ड 
  • आवेदन करने वाले का पहचान-पत्र 
  • आवेदक का मूल निवास प्रमाण-पत्र 
  • माता-पिता या अभिभावक का आय प्रमाण-पत्र 
  • जाति प्रमाण पत्र (यदि अनुसूचित जाति/जनजाति/ओबीसी यदि लागू हो तो)
  • परिवार राशन कार्ड की फोटो प्रति
  • भामाशाह कार्ड फोटो प्रति
  • बालिका का शैक्षणिक दस्तावेज 

मुख्यमंत्री राजश्री योजना के अंतर्गत आवेदन करने की प्रक्रिया:

  • मुख्यमंत्री राजश्री योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए गर्भवती महिला प्रसव पूर्व जांच के दौरान भामाशाह कार्ड एवं बैंक खाता पासबुक का विवरण अपने निकटतम आंगनबाड़ी केंद्र पर उपलब्ध करवाएं।
  • बालिका के जन्म के समय एक यूनिक आईडी प्रदान किया जाता है पहली व दूसरी किस्त के लिए यूनिक आईडी के द्वारा आवेदन करना होगा।
  • दूसरी किस्त के लिए चिकित्सा विभाग द्वारा जारी ममता कार्ड के अनुसार सभी टीके लगवाने के आधार पर मिलेगी ।
  • बालिकाओं के प्रथम कक्षा में प्रवेश लेने के उपरांत तीसरी किस्त की राशि प्राप्त करने के लिए अभिभावक को ऑनलाइन आवेदन करवाना होगा। यह ऑनलाइन आवेदन शाला दर्पण पर स्कूल के माध्यम से करवाया जा सकता है।
  • चौथी, पांचवी एवं छठी किस्त कक्षा 6 से दसवीं तक और 12वीं कक्षा में उत्तीर्ण करने पर अभिभावकों को प्रदान की जाएगी।
  • राजश्री योजना का लाभ लाभार्थी को सीधा अपने बैंक खाते में मिले, इसके लिए इसे भामाशाह कार्ड से योजना को जोड़ा गया है।

मुख्यमंत्री राजश्री योजना के अंतर्गत ऑनलाइन आवेदन करने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको नजदीकी ई-मित्र या अटल सेवा केंद्र आधिकारिक वेबसाइट जाना होगा।
  • अब आपको ई-मित्र या अटल सेवा केंद्र में आवेदन से संबंधित सभी महत्वपूर्ण एवं जानकारी प्रदान करनी होगी।
  • संचालक द्वारा आपका फॉर्म भरा जाएगा।
  • सभी महत्वपूर्ण दस्तावेजों को भी संचालक द्वारा अपलोड किया जाएगा।
  • आवेदन पत्र को सबमिट करने के पश्चात आपको एक रिफरेंस नंबर प्रदान किया जाएगा।
  • इस रेफरेंस नंबर के माध्यम से आप अपने आवेदन की स्थिति ट्रैक कर सकेंगे।
  • इस प्रकार आप मुख्यमंत्री राजश्री योजना के अंतर्गत आवेदन कर सकेंगे।

मुख्यमंत्री राजश्री योजना की अधिक जानकारी के लिए संपर्क सूत्र :

मुख्यमंत्री राजश्री योजना के संबंध में अधिक  जानकारी और सहायता के लिए आधिकारिक वेबसाइट https://wcd.rajasthan.gov.in/content/wcd-cms/hi/dwe-home-page/schemes-and-services/mry.html पर जाकर ली जा सकती है। इसके अलावा इस योजना के टोल फ्री नंंबर 1800-180-6127 नंबर पर संपर्क किया जा सकता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here