राजस्थान में लागू हुई अपनी दुकान-अपना व्यवसाय योजना

0
1836
राजस्थान अपनी दुकान-अपना व्यवसाय योजना
राजस्थान अपनी दुकान-अपना व्यवसाय योजना

राजस्थान अपनी दुकान-अपना व्यवसाय योजना:-

राजस्थान अपनी दुकान-अपना व्यवसाय योजना- आज क समय में कोरोना संकट (Corona Crisis) के चलते हर राज्य में या कहा जाए कि पूरे देश में बेरोजगारी तेजी से बढ़ती जा रही है | इसी के चलते हर राज्य की सरकार अपने राज्य के बेरोजगार लोगों के लिए योजना चला रही हैं जिसके तहत बेरोजगारों को किसी न किसी तरह से खुद का रोजगार शुरू करने के लिए प्रेरित किया जाता है |

साथ ही उनकी आर्थिक मदद भी की जाती है | वहीं हाल ही में राजस्थान सरकार द्वारा भी राज्य के बेरोजगार लोगों के लिए एक योजना की शुरूआत की है | इस योजना के तहत सरकार राज्य के सभी बेरोजगार लोगों को रोजगार के लिए आर्थिक मदद कर रही है |

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने सोमवार को यूडीएच (UDH) की कई अलग-अलग परियोजनाओं के लोकार्पण और शिलान्यास किया है, जिसके लिए कार्यक्रम आयोजित किया गया था, जिसके दौरान अपने निवास पर वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग (video conferencing) के जरिए हाउसिंग बोर्ड (Housing board) की अपनी दुकान-अपना व्यवसाय योजना (Apni Dukan Apna Vyavsay Yojana) की शुरूआत की है |

इस योजना में प्रदेश के 13 शहरों में 1681 दुकानें और व्यावसायिक भूखंड बिक्री के लिए उपलब्ध रहेंगे | साथ ही योजना के तहत 27 वर्गमीटर तक के दुकानों और भूखंडों का निस्तारण ई-बिड सबमिशन (Disposal E-Bid Submission) से और इससे बडे़ दुकानों और भूखंडों का निस्तारण ई-ऑक्शन (Disposal E-Bid Submission) के जरिए होगा |

अपनी दुकान अपना व्यवसाय योजना क्या है:-

राजस्थान अपनी दुकान अपना व्यवसाय योजना के तहत राज्य के 13 शहरों में 1681 दुकानें और व्यावसायिक भूखंड बिक्री के लिए मुहैया रहेंगे | इस योजना की खास बात यह है कि योजना के तहत बेचे जाने वाली दुकानें और व्यावसायिक भूखंड विकसित कालोनियों में स्थित हैं | यानी यहां पहले से ही आबादी की बसावट है | इसका सीधा लाभ यह है कि यहां दुकान लेकर व्यवसाय शुरू करने पर व्यक्ति को पहले ही दिन आमदनी सुनिश्चित हो सकेगी |

13 शहरों के अधिक से अधिक लोग खरीदारी की प्रक्रिया मेंहिस्सा ले सकें, इसके लिए भूखंडों और दुकानों की कीमत को बाजार मूल्य से काफी कम रखा गया है | इन दुकानों और भूखंडों की शुरूआती कीमत केवल 2.88 लाख रूपये ही निर्धारित की गई है |

योजना का उद्देश्य:-

राजस्थान अपनी दुकान अपना व्यवसाय योजना स्वरोजगार को बढ़ावा देने के लिए लाई गई है | इस योजना के संचालन का जिम्मा राजस्थान आवासन मंडल यानी राजस्थान हाउसिंग बोर्ड के पास है | हाउसिंग बोर्ड इससे पहले गृह संबंधी कई योजनाओं का संचालन कर रहा है | इनमें लोगों को रियायती दरों पर घर उपलब्ध कराए जाने की योजनाएं भी शामिल हैं |

राजस्थान अपनी दुकान अपना व्यवसाय योजना ऑनलाइन आवेदन, उद्देश्य, पात्रता मापदंड

अपनी दुकान अपना व्यवसाय योजना का शुभारंभ राजस्थान के मुख्यममंत्री अशोक गहलोत ने अपने आवास पर किया | इसके लिए उन्होंने वीडियो कांफ्रेंसिंग का तरीका अपनाया | राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने 28 सितंबर, 2020 को यूडीएच की कई परियोजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास किया | उसी के दौरान इस अपनी दुकान अपना व्यवसाय योजना का भी सीएम ने शुभारंभ किया |

राजस्थान अपनी दुकान अपना व्यवसाय योजना ऑनलाइन आवेदन, उद्देश्य, पात्रता मापदंड

इन 13 शहरों के लिए शुरू की गई है राजस्थान अपनी दुकान अपना व्यवसाय योजना:-

राजस्थान के जिन 13 शहरों के लिए राज्य सरकार ने अपनी दुकान अपना व्यवसाय योजना शुरू की है, उन शहरों में जयपुर, जोधपुर, उदयपुर, कोटा, बीकानेर, अलवर, जैसलमेर, पाली, भिवाड़ी, दौसा, धौलपुर, चित्तौड़गढ़ और बांसवाड़ा शामिल हैं | यह सभी शहर राजस्थान राज्य के प्रमुख शहर हैं | राजस्थान की आर्थिकी में भी इन शहरों का सर्वाधिक योगदान है | हाउसिंग बोर्ड का मानना है कि इन शहरों में इस योजना को अभूतपूर्व रिस्पांस हासिल होगा | नीलामी प्रक्रिया में लोग बढ़ चढ़कर हिस्सा लेंगे |

ईएमडी के रूप में बोर्ड को एक बड़ी धनराशि बतौर आय प्राप्त होगी | जिस तरह बोर्ड ने इस योजना का प्रचार किया है, वह भी युवाओं के दिलों में योजना के जरिये बेहतर भविष्य हासिल करने की उम्मीद भरने के लिए काफी है। सरकार भी कोविड के इस कठिन समय में अपनी दुकान और व्यवसाय की किफायती सुविधा देकर युवाओं की मदद करने के काम से पीछे नहीं हटना चाहती।

राजस्थान अपनी दुकान-अपना व्यवसाय योजना

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here