प्रमोद भगत का जीवन परिचय, बैडमिंटन खिलाड़ी, पैरालिंपिक 2021

0
2087
प्रमोद भगत का जीवन परिचय
प्रमोद भगत का जीवन परिचय Pramod Bhagat Biography in hindi

क्या आप भी प्रमोद भगत का जीवन परिचय (Pramod Bhagat Biography) में जानना चाहते हैं तो आज लेख में हम आपको इनके बारे बहोत साड़ी बाते बताने वाले हैं, जैसे इन्होने बिहार के साथ -साथ पूरे देश का नाम रोशन किआ है।

आज हम आपको प्रमोद भगत का जीवन परिचय | Pramod Kumar Biography in Hindi | Pramod Bhagat Paralympic 2021 (Para-Badminton Player Pramod Bhagat Early Life, Age, Birth Place, Medals, Education के बारे में बहोत कुछ बताने वाले हैं। जोकि आज आपको आगे पता चलेगा।

भगत ने कोरोना महामारी के कारण एक साल के ब्रेक के बाद वापसी की थी। उन्होंने सिंगल्स में स्वर्ण पदक जीतने के अलावा मनोज सरकार के साथ मिलकर एसएल4-एसएल3 वर्ग में मिक्स्ड डबल्स का स्वर्ण पदक भी जीता था।

प्रमोद भगत का जीवन परिचय (Pramod Bhagat Biography)

पैरा बैडमिंटन खिलाड़ी प्रमोद भगत का जन्‍म 4 जून 1988 को उड़ीसा राज्‍य के बरगढ़ जिले में हुआ। इनके पिता का नाम कैलाश भगत एवं माताजी का नाम कुसुम देवी है। माता-पिता के अलावा परिवार में कुल 6 भाई एवं बहने है जिनमें से एक प्रमोद भी है।

प्रमोद बिहार के हाजीपुर के रहने वाले हैं, लेकिन 5 साल की उम्र में पैर में पोलियो के कारण उनकी बहन बेहतर इलाज के लिए ओडिशा लेकर चली गई थीं। जहां उन्होंने अपनी कमजोरी को ताकत बनाया और बैडमिंटन खेलना शुरू किया।

प्रमोद के पिता गांव में रहकर खेती करते हैं। पिता रामा भगत कहते हैं- “बचपन से ही उसकी खेल में रुचि थी। वो सबको हरा देता था। तभी उसको पोलियो हो गया। इससे सब निराश हो गए थे। उसकी बहन किशुनी देवी और बहनोई कैलाश भगत को कोई संतान नहीं है। उन्होंने उसे गोद ले लिया और अपने साथ भुवनेश्वर में रखा। वहीं उसकी शिक्षा-दीक्षा हुई। इंटर के बाद उसने ITI किया है।

मालती देवी और रामा भगत के 28 वर्षीय पुत्र प्रमोद भगत फिलहाल भुवनेश्वर में स्वास्थ्य विभाग में कार्यरत हैं। प्रमोद के बड़े भाई गांव में बिजली मिस्त्री का काम करते हैं। छोटे भाई शेखर भुवनेश्वर में इलेक्ट्रिकल पार्ट्स की दुकान चलाते हैं। दिव्यांग होने के बावजूद प्रमोद की खेल में रुचि ने उन्हें इस मुकाम तक पहुंचाया है। इसके पहले 2006 में उनका चयन ओडिशा टीम में हुआ था। वहीं, 2019 में उनका चयन राष्ट्रीय टीम में हुआ था। प्रमोद को 2019 में अर्जुन अवॉर्ड और ओडिशा सरकार की ओर से बीजू पटनायक अवॉर्ड मिल चुका है।

जीवन परिचय बिन्‍दुजीवन परिचय विवरण
पूरा नाम (Complete Name)प्रमोद भगत
जन्‍म तिथि (DOB)04 जून 1988 में
उम्र (Age)33 वर्ष
राष्‍ट्रीयता (Nationality)भारतीय
जन्‍म स्‍थान (Birth Place)अट्टबीरा, बरगढ़ (ओडिशा)
निवास स्‍थान (Residence)भुवनेश्‍वर, उड़ीसा
माता व पिता का नाम (Parents Name)कैलाश भगत और कुसुम देवी
शिक्षा (Education)स्‍नातक डिग्री
खेल (Sport)पैरा-बैडमिंटन
प्रतिस्‍पर्धा (Event)एसएल-3
कोच (Coach Name)शीबा प्रसाद दासो
प्राप्‍त अवार्ड (Awards Received)अर्जुन अवार्ड, बीजू पटनाईक अवार्ड

प्रमोद भगत की शिक्षा (Pramod Bhagat Education)

पैरा बैडमिंटन खिलाड़ी प्रमोद भगत ने हीरानन्‍द आईटीआई से डिप्लोमा किया है. इसके अलावा प्रमोद भगत ने स्नातक की शिक्षा भी हासिल की है.

प्रमोद भगत करियर (Pramod Bhagat Career)

प्रमोद भगत जब 5 साल के थे, तभी उनके बाएं पैर में खराबी आ गई थी. उन्हें पोलियों की समस्या थी. परिवार ने उनके पैर का इलाज भी कराया, लेकिन उनका पैर ठीक नहीं हुआ. 13 साल की उम्र में प्रमोद भगत ने एक बार बैडमिंटन का मैच देखा था. उसी दौरान वह बैडमिंटन से प्रभावित हुए और इसी खेल में अपना करियर बनाने का निश्चय किया.

प्रमोद भगत की उपलब्धियों (Pramod Bhagat Achievements)

  1. साल 2006 में प्रमोद भगत ने सेकेंड ऑल इंडिया सुपर सिक्स पैरा चैंपियनशिप में सिंगल और डबल दोनों ही प्रतियोगिताओं में स्वर्ण मेडल जीता.
  2. साल 2013 में बीडब्‍ल्‍यूएफ पैरा-बैडमिंटन विश्‍व चैपिंयनशिप के पुरुष डबल में गोल्ड मेडल जीता.
  3. साल 2014 में एशियन पैरा गेम्‍स में ब्रॉन्‍ज मैडल जीता.
  4. साल 2015 में बीडब्‍ल्‍यूएफ पैरा-बैडमिंटन विश्‍व चैपिंयनशिप में एक बार फिर गोल्ड मेडल जीता.
  5. साल 2015 में ही विश्‍व चैपिंयनशिप के पुरुष डबल में सिल्वर मेडल जीता.
  6. साल 2016 में एशियन पैरा-बैडमिंटन चैपिंयनशिप में दो ब्रॉन्‍ज मैडल अपने नाम किए.
  7. साल 2017 में विश्‍व चैपिंयनशिप में ब्रॉन्‍ज मैडल जीता.
  8. साल 2018 में एशियन पैरा खेलो में गोल्ड और ब्रॉन्‍ज मैडल जीता.
  9. साल 2019 में पैरा-बैडमिटंन विश्‍व चैपिंयनशिप में सिंगल और डबल दोनों ही प्रतियोगिताओं में गोल्ड मेडल जीतकर इतिहास रच दिया.
  10. साल 2020 में पैरा-बैडमिटंन पैरालिंपिक में सिंगल प्रतियोगिता में गोल्ड मेडल जीतकर इतिहास रच दिया

प्रमोद भगत वर्ल्ड चैम्पियनशिप में चार गोल्ड समेत 45 इंटरनेशनल पदक जीत चुके हैं। BWF वर्ल्ड चैम्पियनशिप में पिछले आठ साल में उन्होंने दो गोल्ड और एक सिल्वर मेडल अपने नाम किए हैं। 2018 पैरा एशियाई खेलों में उन्होंने एक सिल्वर और एक ब्रॉन्ज मेडल जीता था।

प्रमोद भगत ने पैरालिंपिक में गोल्ड जीता। देखें वीडियो में वो पल

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here