केंद्र सरकार की प्रधानमंत्री युवा सहकार या सहकारिता योजना 2019

0
1097

प्रधानमंत्री युवा सहकार योजना 2019:-

केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री नरेंद्र तोमर द्वारा 11 अक्टूबर 2019 को नई दिल्ली में पहली बार “India International Cooperatives Trade Fair” के उद्घाटन समारोह में युवा सहकारिता-सहकारी उद्यम सहायता और नवाचार योजना (प्रधानमंत्री युवा सहकार योजना) 2019 का शुभारंभ किया गया | यह युवा-हितैषी योजना है जिसका उद्देश्य युवाओं को सहकारी व्यवसाय उपक्रमों की ओर आकर्षित करना है |

यह योजना National Cooperative Development Corporation (NCDC) द्वारा बनाई गई है | इस योजना के तहत युवा किसानों को अपना कार्य शुरू करने के लिए सरकार की तरफ से आर्थिक मदद दी जाएगी, जिसके अंतर्गत सरकार ने 1000 करोड़ का बजट पारित किया है |

प्रधानमंत्री युवा सहकार योजना 2019 का उद्देश्य:-

इसका उद्देश्य सहकारी समितियों को नए क्षेत्रों में उद्यम करने के लिए प्रोत्साहित करना है | लोन 5 साल के लिए होगा जिस पर 2 साल तक मूलधन चुकाने में मोरेटोरियम यानी चुकाने में छूट होगी और इनवेस्टमेंट लागत के हिसाब सब्सिडी भी देगी | वहीं लोन समय पर चुकाने के लिए लोन में 2 फीसदी की छूट भी मिलेगी |

कम से कम एक वर्ष के लिए सभी प्रकार की सहकारी समितियां योजना का लाभ उठाने के लिए पात्र हैं | इसके तहत उत्तर पूर्वी क्षेत्र की सहकारी समितियों, महिलाओं या अनुसूचित जाति या अनुसूचित जनजाति के सदस्यों के साथ आकांक्षात्मक जिले और सहकारी समितियों के लिए अधिक प्रोत्साहन प्रदान किया जाएगा |

इस योजना के तहत परियोजना के लिए धन अन्य लोगों के लिए 70% के मुकाबले इन विशेष श्रेणियों के लिए परियोजना लागत का 80% तक होगा |

प्रधानमंत्री युवा सहकार योजना

प्रधानमंत्री युवा सहकार योजना 2019 की विशेषताएं:-

  • युवा सहकारी योजना के अंतर्गत युवाओं को कम ब्याज दर पर ऋण प्रदान किया जाएगा, जिससे वे अपना नया व्यवसाय आसानी से शुरू कर सकें |
  • इस योजना का मुख्य उद्देश्य युवाओं में Start Up को शुरू करने की प्रबल इच्छा पैदा करना है, साथ ही नये तरीकोंको सामने लाना है ताकि रोजगार के अवसर भी बढ़ सकें |
  • इस योजना के अंतर्गत सरकार द्वारा 1000 करोड़ों रुपए का बजट पारित किया गया है, जिसके जरिए युवाओं को कम ब्याज दर पर ऋण दिया जा सके अथवा सब्सिडी दी जा सके |
  • इस योजना के अंतर्गत अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति के लोगों, महिलाओं और पूर्व उत्तरी क्षेत्र में कार्य करने वाली सहकारी समितियों को विशेष लाभ प्राप्त होंगे ताकि वह स्वयं का व्यवसाय आसानी से शुरू कर सकें |
  • योजना के तहत 80% तक की मदद सरकार द्वारा की जाएगी अर्थात केवल 20% खर्चा ही उम्मीदवार को खुद उठाना होगा। साथ ही इस ऋण में लगने वाला ब्याज सामान्य लगने वाले ब्याज से 2% कम होगा |
  • इसके अतिरिक्त सहकारी समितियों को 70% तक की मदद सरकार द्वारा दी जाएगी जिसमें 30% तक की लागत सहकारी समितियों को स्वयं करनी होंगी |
  • इस योजना के अंतर्गत उम्मीदवार को 1 से 3 करोड़ तक का ऋण प्रदान किया जाएगा अर्थात न्यूनतम एक करोड़ एवं अधिकतम 3 करोड़ की राशि की लोन के रूप में प्राप्त की जा सकती है |
  • इस योजना के अंतर्गत मिलने वाला ऋण 5 वर्षो के लिए दिया जायेगा अर्थात इसे 5 वर्षों में व्याज सहित लौटाना अनिवार्य हैं|

Also Read:- पीएम किसान सम्मान निधि आपके बैंक खाते में आयी की नहीं…

प्रधानमंत्री युवा सहकार योजना 2019 के लिए पात्रता मानदंड:-

  • इस योजना का लाभ अनुसूचित जाति एवं जनजाति के लोगों को खासतौर पर मिलेगा, जिसमें महिलाओं को सबसे अधिक प्राथमिकता दी जाएगी और उन्हें परियोजना में लगने वाली लागत का लगभग 80% इस योजना के तहत मिलेगा |
  • सामान्य जाति वर्गों में आने वाले युवाओं को भी इस योजना का लाभ मिलेगा, परंतु उन्हें लागत का 70% सरकार द्वारा दिया जाएगा |
  • योजना के अंतर्गत जिस Start Up को 1 वर्ष पूरा हो जाएगा उसी स्टार्टअप को इस योजना के अंतर्गत, अपने Start Up को आगे बढ़ाने के लिए सरकार द्वारा मदद दी जाएगी | साथ ही उम्मीदवारों को यह प्रमाण पत्र लगाना आवश्यक है कि उम्मीदवार द्वारा शुरू किए गए बिजनेस को कम से कम 1 वर्ष हो चुका हैं और इस एक वर्ष में उन्होंने काफी सफलता अर्जित की है |

प्रधानमंत्री युवा सहकार योजना 2019 के लिए आवश्यक दस्तावेज:-

  • योजना के अंतर्गत जाति विशेष को लेकर विभिन्न विभिन्न प्रकार के लाभ दिए जा रहे हैं अतः आवश्यक है कि उम्मीदवार आवेदन फॉर्म के साथ अपना जाति प्रमाण पत्र जमा करें |
  • इस योजना के अंतर्गत लाभ प्राप्त करने के लिए आवश्यक है कि नवीनतम स्टार्टअप को लगभग 1 वर्ष हो चुका हो, इस बात को साबित करने के लिए उम्मीदवार को आवश्यक दस्तावेज लगाना अनिवार्य है |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here