NavIC Indian Navigation GPS App के बारे में जानें

1
1769

NavIC Indian Navigation GPS App:-

देश के प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने 72वें स्वतंत्रता दिवस अर्थात 15 अगस्त 2018 की पूर्व संध्या पर NavIC Indian Navigation GPS App को शुरू करने की घोषणा की है | NavIC Indian Navigation GPS App देश के आम नागरिकों और मछुआरों को निर्देश देने वाला एक Indian Regional Navigation Satellite System (IRNSS) है |

पूरे भारत देश में और इससे लगे सीमावर्ती क्षेत्रों में Reliable Position, Navigation और Timing services को प्रदान करने के लिए भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (ISRO) इस परियोजना पर काम कर रहा है | NavIC का अर्थ है “Navigation with Indian Constellation” जो उपयोगकर्ताओं को काफी अच्छी सटीकता प्रदान करेगा |

यह Global Positioning System (GPS) महत्वपूर्ण वैश्विक अनुप्रयोगों के लिए एक आवश्यक घटक होगा | NavIC GPS App (IRNSS) एक स्वतंत्र क्षेत्रीय नेविगेशन उपग्रह प्रणाली है जिसे भारत द्वारा विकसित किया जा रहा है |

NavIC GPS App द्वारा प्रदत्त सेवाएं:-

NavIC Indian Navigation GPS App द्वारा मूल रूप से दो प्रकार की सेवाएं प्रदान की जाएंगी जो इस प्रकार हैं:-

  • Standard Positioning Service (SPS):- यह सेवा सभी उपयोगकर्ताओं के लिए है जो अनुसंधान और विकास की सुविधा प्रदान करेगा और navigation-based applications के लिए IRNSS signals के वाणिज्यिक उपयोग में सहायता करेगा  |
  • Restricted Service (RS):-  यह एक Encrypted सेवा है जो केवल अधिकृत उपयोगकर्ताओं तक सीमित है अर्थात केवल अधिकृत उपयोगकर्ता ही इस सेवा का उपयोग कर सकेंगे | यह IRNSS प्रणाली प्राथमिक सेवा क्षेत्र में 20 मीटर तक की बेहतर स्थिति सटीकता प्रदान करेगी |

NavIC GPS प्रणाली को विशेष रूप से भारत के उपयोगकर्ताओं को सटीक स्थिति सेवा प्रदान करने के लिए design किया जा रहा है | प्राथमिक सेवा क्षेत्र में इस प्रणाली की coverage range को इसकी सीमा से 1500 किलोमीटर तक बढ़ाया जा सकता है |

NavIC GPS App द्वारा संचालित Applications:-

विभिन्न Applications के लिए NavIC GPS App का इस्तेमाल किया जा सकता है:-

  • Terrestrial, Aerial and Marine Navigation
  • Usage in Disaster Management Activities
  • Tracking of vehicles and fleet management
  • Integration with mobile phones
  • Precise Timing
  • Mapping and Geodetic data capture
  • Terrestrial navigation assistance for hikers and travellers
  • Visual and voice navigation for drivers

इस NavIC GPS App का उपयोग लोग “Navigator” के रूप में कर सकते हैं जो पूरे भारत में किसी भी स्थान तक पहुंचने के लिए सटीक जानकारी प्रदान करेगा | यह एक स्वदेशी GPS प्रणाली है, जो पूरी तरह से हमारे वैज्ञानिकों द्वारा विकसित किया जा रहा है | NavIC GPS App के विकसित होने के बाद अब देश को Navigation सहायता के लिए अन्य देशों के GPS प्रणाली पर निर्भर नहीं होना पड़ेगा |

NavIC GPS App का कार्यान्वयन:-

आज तक, भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (ISRO) ने IRNSS श्रृंखला में कुल 9 उपग्रह बनाए हैं, जिनमें से 8 उपग्रह कक्षा में हैं जबकि 1 उपग्रह असफल रहा | भूमध्य रेखा के लिए 29 डिग्री का झुकाव बनाए रखने के लिए 3 उपग्रह भूगर्भीय कक्षा/geostationary orbit (GEO) में हैं और 5 उपग्रह भू-समकालिक कक्षा/geosynchronous orbits (GSO) में हैं |वर्तमान में कक्षा में मौजूद 8 उपग्रह इस प्रकार हैं :-

उपग्रह का नाम Launch Date
IRNSS 1A 2 जुलाई 2013
IRNSS 1B 4 अप्रैल 2014
IRNSS 1C 16 अक्टूबर 2014
IRNSS 1D 28 मार्च 2015
IRNSS 1E 20 जनवरी 2016
IRNSS 1F 10 मार्च 2016
IRNSS 1G 28 अप्रैल 2016
IRNSS 1H 12 अप्रैल 2018

प्रधान मंत्री मोदी ने IRNSS constellation को “NavIC” (Navigation with Indian Constellation) के रूप में नामित किया है और IRNSS 1G उपग्रह को देश को समर्पित किया है | PSLV-39 / IRNSS 1H अपने launch के दौरान असफल रहा है, इसलिए यह कक्षा तक नहीं पहुंच सका | NavIC GPS App जल्द ही कार्यात्मक हो जाएगा और सभी मौजूदा GPS Systems को प्रतिस्थापित कर देगा |

1 COMMENT

  1. we are eagarly waiting for this operation, is there any specific date or month when a commman man can use it like presently we are with the help of google?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here