JEEVAN PRAMAAN: जीवन प्रमाण पत्र कैसे बनाये?

0
1478
jeevan pramaan patra kaise banaye
jeevan pramaan patra kaise banaye

जीवन प्रमाण : पेंशनभोगियों के लिए डिजिटल जीवन प्रमाण-पत्र (JEEVAN PRAMAAN):

वरिष्ठ नागरिकों के लिए सेवानिवृत्ति के बाद पेंशन आय का एक महत्वपूर्ण स्रोत है। यह जीवन के इस पड़ाव में उन्हें आर्थिक रूप से सक्षम बनाकर उनकी ज़रूरतें पूरी करने में और आपातकालीन परिस्थितियों में सहायता करती है। पेंशनभोगियों को सेवानिवृत्ति के बाद बैंक जैसे अधिकृत पेंशन संवितरण एजेंसी में अपना जीवन प्रमाण-पत्र जमा कराना पड़ता है, जिसके बाद ही उन्हें पेंशन दी जाती है।

जीवन प्रमाण-पत्र प्राप्त करने के लिए पेंशनभोगी को अधिकृत पेंशन संवितरण एजेंसी में व्यक्तिगत रूप से उपस्थित रहना पड़ता है या फिर जिस कार्यालय में वह काम करते थे वहाँ के प्राधिकारी द्वारा जारी किया गया जीवन प्रमाण-पत्र संवितरण एजेंसी को उपलब्ध कराना पड़ता है। पेंशन प्राप्त करने के लिए संवितरण एजेंसी में व्यक्तिगत रूप से उपस्थित रहना और जीवन प्रमाण-पत्र प्राप्त करना ही पेंशनभोगियों के लिए सबसे बड़ी समस्या है। यह भी देखा गया है कि इसके कारण ऐसे पेंशनभोगियों को समस्या होती है जो वृद्ध और शारीरिक रूप से कमज़ोर हैं और जो जीवन प्रमाण-पत्र प्राप्त करने के लिए हर समय प्रमाणन प्राधिकारी के समक्ष व्यक्तिगत रूप से उपस्थित नहीं रह सकते। इसके साथ ही बहुत से सरकारी कर्मचारी सेवानिवृत्ति के बाद अपने परिवार के साथ रहने के लिए एवं कई अन्य कारणों से कहीं और रहने लगते हैं जिसके कारण पेंशन प्राप्त करने में उन्हें कई मुश्किलों का सामना करना पड़ता है।

जीवन प्रमाण के रूप जानी जाने वाली भारत सरकार की पेंशनभोगी डिजिटल जीवन प्रमाण पत्र योजना का उद्देश्य जीवन प्रमाण-पत्र प्राप्त करने की पूरी प्रक्रिया को डिजिटल बनाकर इसे आसान बनाना है। इसका लक्ष्य जीवन प्रमाण-पत्र की पूरी प्रक्रिया को पेंशनभोगियों के लिए सुविधाजनक और आसान बनाना है। इस पहल के द्वारा अब पेंशनभोगियों को संवितरण एजेंसी और प्रमाणन प्राधिकारी के समक्ष व्यक्तिगत रूप से उपस्थित नहीं रहना होगा जो उनके लिए लाभदायक है एवं इस तरह उन्हें अनावश्यक बाधाओं का सामना भी नहीं करना पड़ेगा।

कहां बनेंगे जीवन प्रमाण पत्र :DLC (Digital Life Certificate):

जीवन प्रमाण पत्र देश के हेड पोस्ट ऑफिस स्थित जीवन प्रमाण सेंटर (JPC) में बनेंगे। सभी डाकघर को जेपीसी बनाने के निर्देश दिये गये हैं। वहीं अगर आप चाहते हैं, तो घर बैठे ऑनलाइन मोड से भी DLC (Digital Life Certificate) बनावा सकते हैं।

जीवन प्रमाण पत्र बनवाने के लिए किन दस्तावेज की जरुरत होगी :

  1. यूजर को आधार नंबर, बैंक से लिंक मोबाइल नंबर और बैंक या पोस्ट ऑफिस जैसी किसी पेंशन डिस्बर्सिंग एजेंसी से आधार के रजिस्ट्रेशन की जरूरत होगी।
  2. किसी बॉयोमेट्रिक डिवाइस, स्मार्टफोन, टैबलेट क मददद से खुद भी DLC आईडी जेनरेट की जा सकती है।

क्यों जरुरी होता है जीवन प्रमाण पत्र :

  • ये प्रमाण पत्र सभी रिटार्यड हो चुके कर्मचारियों के जीवित होने का प्रमाण होता है |
  • जिससे की उन्हें आसानी से पेंशन प्राप्त हो सके |
  • इसकी मदद से व्यक्ति अन्य बहुत सारे सरकारी योजनाओ का लाभ प्राप्त कर सकता है |
  • इस प्रमाण पत्र की मदद से सभी आवेदकों का सामाजिक और आर्थिक विकास सुनिश्चित होगा |
  • जीवन प्रमाण पत्र बनाने के लिए अब ऑनलाइन के माध्यम से भी आवेदन कर सकते है |
  • जिससे आपके समय की बचत हो जाती है |

जीवन प्रमाण पत्र कैसे बनाये?

STEP1: आवेदन करने के लिए आपको सबसे पहले जीवन प्रमाण की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाना होगा |

STEP2: ऑफिसियल वेबसाइट पर क्लिक करते ही होम पेज ओपन होगा, जिस पर Get a certificate का विकल्प आएगा|

STEP3: अब आप को Get a certificate के विकल्प पर क्लिक करना होगा |

STEP4: Get a certificate क्लिक करने के बाद आपके सामने एक नया पेज open होगा |

STEP5:जिसमे आपको तीन विकल्प मिलेगा |

STEP6: अगर आप आप कंप्यूटर/लैपटॉप से आवेदन कर रहे है | तो आपको window के विकल्प पर क्लिक करना होगा |

STEP7: लेकिन अगर आप फ़ोन से इसके लिए आवेदन कर रहे है तो आपको Mobile के विकल्प पर क्लिक करना होगा |

STEP8: उसके बाद आपके सामने एक नया पेज ओपन होगा |

STEP9: जिसमे आपको अपना फ़ोन नंबर और ईमेल आईडी  डालकर I Agree to Download पर क्लिक करना होगा | जिसके बाद एक एप्लीकेशन डाउनलोड हो जाएगी|

STEP10: एप्लीकेशन को इनस्टॉल करके इसमें अपनी सारी जानकारी को भरना होगा|

STEP11:समस्त जानकारी भरने के बाद बायो मेट्रिक देना होगा | बायो मेट्रिक वेरीफाई होने के बाद आप जीवन प्रमाण ID इशू हो जाएगी|

STEP11:जीवन प्रमाण ID प्राप्त होने के बाद आप अपना जीवन प्रमाण पत्र डाउनलोड कर सकते है|

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here