वर्ष 2022 में इन अरबपतियों की नेटवर्थ में कमी आई है और इनकी नेटवर्थ में हुई है बढ़ोत्तरी

1
391

भारत के अरबपति:-

भारत के अरबपति– भारत में जिस तहर डिजिटल मुहिम तेजी पकड़ रही है, धनाढ्यों की इनकम भी बढ़ रही है | भारत में 30 मिलियन डालर (लगभग 226 करोड़ रुपये) या उससे अधिक की शुद्ध संपत्ति वाले अल्ट्रा-हाई-नेटवर्थ वालों (ultra high networth individuals) की संख्या में पिछले साल 11 प्रतिशत की बढ़ोतरी हुई है |

इसकी वजह इक्विटी बाजारों में तेजी और डिजिटल क्रांति रहे हैं | नाइट फ्रेंक के अनुसार भारत 2021 में विश्व स्तर पर अरबपतियों की आबादी में तीसरे स्थान पर है | अमेरिका 748 अरबपति के साथ नंबर एक पर है, इसके बाद 554 अरबपति के साथ चीनी और 145 अरबपति के साथ भारत का नंबर है |

द वेल्थ रिपोर्ट 2022 के अपने नवीनतम संस्करण में प्रॉपर्टी एडवाइजर नाइट फ्रैंक ने कहा कि पूरी दुनिया में अल्ट्रा हाई नेटवर्थ इंडिविजुअल्स (UHNWI) की संख्या 2021 में 9.3 प्रतिशत बढ़कर 6,10,569 हो गई, जो पिछले साल 5,58,828 थी |

नाइट फ्रैंक ने एक बयान में कहा कि भारत में UHNWI (30 मिलियन डालर या उससे अधिक के साथ नेट एसेट) की संख्या में 2021 में सालाना आधार पर 11 प्रतिशत की बढ़ोतरी हुई है, जो APAC में सबसे ज्‍यादा है। भारत में UHNWI की संख्या 2021 में बढ़कर 13,637 हो गई, जो पिछले वर्ष 12,287 थी |

प्रमुख भारतीय शहरों में बेंगलुरु में UHNWI की संख्या में सबसे अधिक बढ़ोतरी हुई है | यहां यह 17.1 प्रतिशत बढ़कर 352 हो गई, इसके बाद दिल्ली (12.4 प्रतिशत, 210) और मुंबई (9 प्रतिशत, 1,596) का स्थान रहा |

‘नाइट फ्रैंक ने 2026 तक UHNWI की संख्या 2021 के 13,637 से 39 प्रतिशत बढ़कर 19,006 होने का अनुमान जताया है | 2016 में UHNWI की संख्या 7,401 थी |

नाइट फ्रैंक इंडिया के अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक शिशिर बैजल ने कहा कि इक्विटी बाजार और डिजिटल नीति अपनाने से ज्‍यादातर अरबपति बने हैं | सेल्‍फ मेड अरबपति की संख्‍या में वृद्धि भारत में अविश्वसनीय रही है |

नेटवर्थ में कमी वाले टॉप-5 भारत के अरबपति:-

  • अजीम प्रेमजी (Azim Premji): अजीम हाशिम प्रेमजी जो विप्रो लिमिटेड के अध्यक्ष है | 1 जनवरी 2022 से 30 मई 2022 तक अजीम प्रेमजी
  • (Azim Premji) की नेटवर्थ में 1,00,931 करोड की कमी आई है |
  • शिव नाडर (Shiv Nadar): 1 जनवरी 2022 से 30 मई 2022 तक शिव नाडर (Shiv Nadar) की नेटवर्थ में 58,152 करोड की कमी आई है |
  • राधाकिशन दमानी (Radhakishan Damani): 1 जनवरी 2022 से 30 मई 2022 तक राधाकिशन दमानी (Radhakishan Damani) की नेटवर्थ में 48,447 करोड की कमी आई है |
  • कुमार मंगलम बिड़ला (Kumar Mangalam Birla): 1 जनवरी 2022 से 30 मई 2022 तक कुमार मंगलम बिड़ला (Kumar Mangalam Birla) की नेटवर्थ में 17,934 करोड की कमी आई है |
  • साइरस पूनावाला (Cyrus S. Poonawalla): 1 जनवरी 2022 से 30 मई 2022 तक साइरस पूनावाला (Cyrus S. Poonawalla) की नेटवर्थ में 15,294 करोड की कमी आई है |

नेटवर्थ में बढ़ोत्तरी वाले भारत के अरबपति:-

  • गौतम अडाणी (Gautam Adani): 1 जनवरी 2022 से 30 मई 2022 तक गौतम अडाणी (Gautam Adani) की नेटवर्थ में 1,96,468 करोड की बढ़ोत्तरी हुई है | वह अदानी समूह के अध्यक्ष और संस्थापक हैं |
  • मुकेश अंबानी (Mukesh Ambani): 1 जनवरी 2022 से 30 मई 2022 तक मुकेश अंबानी (Mukesh Ambani) की नेटवर्थ में 30,278 करोड की बढ़ोत्तरी हुई है|
  • दिलीप सांघवी (Dilip Shanghvi): 1 जनवरी 2022 से 30 मई 2022 तक दिलीप सांघवी (Dilip Shanghvi) की नेटवर्थ में 3,027 करोड की बढ़ोत्तरी हुई है |
  • उदय कोटक (Uday Kotak): 1 जनवरी 2022 से 30 मई 2022 तक उदय कोटक (Uday Kotak) की नेटवर्थ में 3,027 करोड की बढ़ोत्तरी हुई है |
  • विक्रम लाल (Vikram Lal): 1 जनवरी 2022 से 30 मई 2022 तक विक्रम लाल (Vikram Lal) की नेटवर्थ में 310 करोड की बढ़ोत्तरी हुई है |

FAQs:-

वर्ष 2022 में किस भारतीय अरबपति की नेटवर्थ में सबसे ज्यादा बढ़ोत्तरी हुई है

गौतम अडाणी (Gautam Adani)

वर्ष 2022 में किस भारतीय अरबपति की नेटवर्थ में सबसे ज्यादा कमी आई है

अजीम प्रेमजी (Azim Premji)

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here