राउंड रॉबिन फॉर्मेट में होंगे World Cup 2019 के मुकाबले?

0
1427
Round Robin Format

Round Robin Format in World Cup 2019:-

वनडे वर्ल्ड कप के अभ्यास मैच ख़त्म हो चुके हैं और आज 30 मई को वनडे वर्ल्ड कप का पहला मुकाबला इंग्लैंड और दक्षिण अफ्रीका के बीच गुरुवार को लंदन के ओवल में खेला जाएगा | इस बार ICC World Cup Tournament 2019 का फॉर्मेट राउंड रॉबिन (Round Robin) और नॉकआउट (Knockout) रखा गया है |

वर्ल्ड कप के 44 वर्षों के इतिहास में दूसरी बार इस फॉर्मेट में World Cup Tournament खेले जाएंगे | इससे पहले 1992 में हुआ वर्ल्ड कप राउंड रॉबिन फॉर्मेट में खेला गया था | उस Tournament में भारतीय टीम सेमीफाइनल तक नहीं पहुंच पाई थी | भारतीय कप्तान विराट कोहली का मानना है कि यह अब तक सबसे चुनौतीपूर्ण टूर्नामेंट होगा |

क्या है यह Round Robin Format:-

विश्व कप 2019 के शुरुआती चरण के दौरान, सभी 10 प्रतिभागी टीमें एक-दूसरे के खिलाफ खेलेंगी | इसका मतलब है कि प्रत्येक टीम को 9 मैच खेलने को मिलेंगे और शीर्ष 4 टीमें सेमीफाइनल में जगह बना लेंगी | पिछले कुछ संस्करणों के विपरीत इस World Cup Tournament में एकल समूह राउंड-रॉबिन प्रारूप (round-robin format) का पालन किया जाएगा |

इस format का इस्तेमाल 27 वर्षों के अंतराल के बाद किया जा रहा है | आखिरी बार 1992 क्रिकेट विश्व कप के दौरान इस format का इस्तेमाल किया गया था | दोनों में अंतर केवल इतना है कि 1992 के संस्करण में कुल 9 टीमें थीं जबकि आगामी विश्व कप में 10 टीमें हैं |

राउंड-रॉबिन पहली बार वर्ष 1992 के world cup में इस्तेमाल किया गया था | जिसमें टूर्नामेंट में भाग लेने वाली सभी टीमों को एक एकल समूह में रखा गया था | यह पूर्व प्रणाली से भिन्न था जिसमें दो अलग-अलग समूह बनाए जाते थे | अब, यही पूर्ण राउंड-रॉबिन प्रारूप का इस्तेमाल 2019 विश्व कप में भी किया जा रहा है |

कहा देखा है Round Robin Format:-

हाल ही में खत्म हुई Indian Premier League (IPL) में playoff से पहले के मुकाबले राउंड रॉबिन फॉर्मेट (Round Robin Format) में ही खेले गए थे | राउंड रॉबिन फॉर्मेट में टूर्नामेंट में हिस्सा लेने वाली सभी टीमें एक दूसरे के खिलाफ खेलती हैं | जैसे इस बार World Cup Tournament में 10 टीमें हिस्सा ले रही हैं। ऐसे में सभी टीमों को 9-9 मैच खेलने होंगे | हर मैच जीतने पर एक निश्चित अंक मिलेंगे | इस तरह शीर्ष-4 में रहने वाली टीमें सेमीफाइनल में जगह बनाएंगी |

इसके पश्चात Knockout दौर शुरू होगा, यानी एक मैच हारते ही टीम खिताब की दौड़ से बाहर हो जाएगी | अंक तालिका में नंबर-1 पर रहने वाली टीम का मुकाबला नंबर-4 पर रहने वाली टीम से होगा | वहीं नंबर-2 पर रहने वाली टीम का मुकाबला नंबर-3 पर रहने वाली टीम से होगा | इस तरह दोनों मैचों की विजेता टीम फाइनल में जगह बनाएंगी |

Round Robin Format के फायदे:-

  • टूर्नामेंट में हिस्सा लेने वाली सभी टीमें हर मैच पूरी क्षमता के साथ खेलती हैं | इस वजह से टीमों के बीच कड़ी प्रतिस्पर्धा देखने को मिलती है |
  • League के सारे मैच खत्म होने तक यह कहना मुश्किल होता है कि knockout में कौन-कौन सी टीमें पहुंचेंगी इसलिए टूर्नामेंट में अंत तक रोमांच बना रहता है |
  • खिताब की दौड़ में बेहतर टीम हमेशा बनी रहती है | किसी ग्रुप में सभी बेहतर टीम होने से ‘Group of Death’ जैसी कोई गुंजाइश नहीं बनती |

Round Robin Format के नुकसान:-

  • दर्शकों को लम्बा इन्तजार करना पड़ता है ज्यादा मैच होने के कारण टूर्नामेंट लंबा खिंचता है, इसलिए नतीजा देर से आता है |
  • टूर्नामेंट लंबा होने की वजह से पूरे टूर्नामेंट के दौरान खिलाड़ियों के लिए fitness से लेकर form बरकरार रखना एक बड़ी चुनौती होता है |
  • मैचों की संख्या ज्यादा होने की वजह से ज्यादा मैदान और मैच officials का इस्तेमाल करना पड़ता है |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here