वाहन प्रदूषण जाँच केन्द्र (PUC) कैसे खोलें?

0
1892
वाहन प्रदूषण जाँच केन्द्र

वाहन प्रदूषण जाँच केन्द्र (PUC):-

वाहन प्रदूषण जाँच केन्द्र– भारत में एक सितंबर से नया मोटर व्हीकल एक्ट (Motor Vehicle Act 2019) लागू कर दिया गया है, जिसमें भारी भरकम जुर्माने का प्रावधान किया गया है | नए ट्रैफिक नियम के बाद जिस एक डॉक्यूमेंट की सबसे ज्यादा जरूरत महसूस हुई है, वो है प्रदूषण जाँच सर्टिफेकिट (PUC) |

महज 175 रुपए का बनाने वाला प्रदूषण सर्टिफिकेट न होने पर आपको 10 हजार रुपए का जुर्माना अदा करना पड़ सकता है | इस भारी जुर्माने के चलते प्रदूषण जांच केंद्र पर लोगों की लंबी लाइनें देखी जा रही है और जांच केंद्र की मोटी कमाई हो रही | आइए जानते हैं कि प्रदूषण जांच केंद्र खोलकर कैसे कमाई की जा सकती है | बता दें कि प्रदूषण सर्टिफिकेट तीन माह तक वैध रहता है |

वाहन प्रदूषण जांच केंद्र खोलने के लिए आपके पास सरकार के द्वारा उसको open करने के लिए सर्टिफिकेट होना चाहिए | तभी आप वाहन प्रदूषण जांच केंद्र (PUC) खोल सकते हैं |

वाहन प्रदूषण जाँच केन्द्र कौन खोल सकता है:-

भारत सरकार से यदि आप वाहन प्रदूषण जांच केंद्र खोलने के लिए सर्टिफिकेट प्राप्त कर लेते हैं तो कोई भी व्यक्ति वाहन प्रदूषण जांच केंद्र खोल सकता है जिनमें निम्न लोग शामिल हैं:-

  • 18 साल से ऊपर का कोई भी व्यक्ति
  • एक तेल कंपनी का Retail Outlet
  • कंपनी
  • वाहन निर्माता की अधिकृत कार्यशाला |
  • सामान्य सेवा केंद्र (CSC)
  • Trust
  • Firm

वाहन प्रदूषण जाँच केन्द्र कहाँ पर खोल सकते है:-

  • किसी भी पेट्रोल पंप के पास |
  • किसी भी मोटर/ स्कूटर workshop के पास |
  • किसी भी Automobile Workshop के पास |
  • CSC Common Service Center पर |

वाहन प्रदूषण जाँच केन्द्र खोलने के लिए आवश्यक दस्तावेज:-

  • किसी भी कार्यशाला, पेट्रोल पंप या अन्य दुकान का नक्शा |
  • Site की 6 तस्वीरें |
  • Rent Agreement या Ownership letter की कॉपी |
  • Dealership Proof
  • Ownership proof
  • computer, Printer with web camera, full setup
  • बिजली का बिल |
  • 10 वीं प्रमाण पत्र की फोटो प्रति |
  • ऑपरेटर या मालिक के तकनीकी प्रमाण पत्र की फोटो कॉपी |
  • मालिक की पोर्ट आकार की तस्वीरें |
  • Letterheads
  • NOC letter From Land Owner
  • Any 2 Id proof

ऑपरेटर के लिए योग्यता:-

यदि आपके पास ऊपर बताई गयी Qualification नहीं है तो आप इसके लिए एक Operator नियुक्त कर सकते है जिसकी Qualification निम्नलिखित होनी चाहिए:-

  • ऑटोमोबाइल इंजीनियरिंग
  • मोटर मैकेनिक्स,
  • ऑटो मैकेनिक्स,
  • स्कूटर मैकेनिक्स,
  • डीजल मैकेनिक्स
  • या फिर इंडस्ट्रियल ट्रेनिंग इंस्टीट्यूट से प्रमाणित सर्टिफिकेट होना चाहिए |

वाहन प्रदूषण जाँच केन्द्र खोलने के लिए आवश्यक उपकरण:-

  • एक कंप्यूटर
  • USB Web Camera
  • Inkjet Printer
  • Power Supply
  • Internet Connection
  • Smoke Analyzer

वाहन प्रदूषण जाँच केन्द्र खोलने के लिए आवश्यक शुल्क:-

सर्व प्रथम आपको 10 रूपये के Stamp Paper पर आपको नियम शर्तो का एक अग्रीमेंट Sign करना होगा | जिसका फॉर्मेट आपको आपने RTO Office से ही मिल जाएगा | आवेदन शुल्क हर राज्य में अलग अलग है जिसके बारे में अधिक स्पस्ट जानकारी आपको आपके नजदीकी RTO ऑफिस से मिल जाएगी बाकी यहाँ पर हम आपको कुछ सांकेतिक चार्जेज के बारे में बता दे जो लगभग हर जगह सामान है :

दिल्ली के लिए

  • एप्लीकेशन फीस-5000 रुपए
  • सालाना फीस-5000 रुपए

जम्मू कश्मीर के लिए

  • सिक्योरिटी डिपॉजिट – 10 हजार रुपए
  • फीस – 7 हजार रुपए
  • सालाना फीस – 3 हजार रुपए

वाहन प्रदूषण जाँच केन्द्र खोलने के लिए आवेदन प्रक्रिया:-

यदि आप एक वाहन प्रदुषण जाँच केन्द्र खोलना चाहते है तो उसके लिए सबसे आसान तरीका है कि आप परिवहन विभाग की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर ऑनलाइन आवेदन कर सकते है और ऑनलाइन आवेदन में मांगी गयी जानकारी भरकर सबमिट कर सकते है |

  • सर्व प्रथम परिवहन विभाग की आधिकारिक वेबसाइट https://vahan.parivahan.gov.in/puc/views/RegisterUser.xhtml पर जाना होगा |
  • अब दिए गए स्थान पर अपने राज्य एवं RTO Office का चयन करे |
वाहन प्रदूषण जाँच केन्द्र
  • PUC CENTER का नाम व Authorised Person का नाम भरे |
  • Station Address वाले खाने में अपने सेण्टर का पता भरे |
  • Contact Detail में अपना मोबाइल नंबर व ईमेल भरे |
  • Latitude and Longitude भरे |
  • Mechine Type में Opacity meter (Disel) अथवा Multi Gas Analyser (Petrol/CNG/LPG) चुने |
  • फॉर्म को Final Submit करे |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here