IAS officer कैसे बनें? How to become an IAS officer

0
614
IAS officer कैसे बनें

हेलो दोस्तों , IAS (भारतीय प्रशासनिक सेवा) यानी भारतीय प्रशासनिक सेवा को भारत में सबसे अच्छे पदों में से एक माना जाता है। IAS परीक्षा देश की सबसे कठिन परीक्षाओं में से एक है।

IAS अधिकारी बनने के लिए UPSC (संघ लोक सेवा आयोग) को अखिल भारतीय सिविल सेवा परीक्षा देनी होती है, जिसके माध्यम से भारत के शीर्ष तीन अधिकारियों, IAS, IPS (भारतीय पुलिस सेवा) और IFS का चयन किया जाता है।

यहां हम आपको IAS के बारे में बताने जा रहे हैं अगर आप IAS बनना चाहते हैं तो आज हमारे द्वारा बताई गई यह जानकारी आपके बहुत काम आने वाली है।

दोस्तों IAS का पूर्ण रूप भारतीय प्रशासनिक सेवा है, जिसे हम भारतीय प्रशासनिक सेवा यानि IAS भी कहते हैं, UPSC हर साल लगभग 24 सेवाओं के लिए परीक्षा आयोजित करता है, जिसमें IAS, IPS, IRS, आदि, आपको विभिन्न क्षेत्रों जैसे जिला मजिस्ट्रेट (डीएम), एसडीएम, आदि में भेजा जाता है।

IAS अधिकारी देश के सर्वोच्च अधिकारियों में से एक है, जिसके ऊपर केवल मंत्री होते हैं।

IAS बनने के लिए कड़ी मेहनत करनी पड़ती है। इस परीक्षा को क्रैक करना इतना आसान नहीं है क्योंकि इसमें सफल होने के लिए बहुत अधिक समर्पण और कड़ी मेहनत की आवश्यकता होती है। सिविल सेवा परीक्षा में बैठने के लिए, किसी भी आवेदक के पास किसी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से स्नातक होना चाहिए।

IAS ऑफिसर बनने की पूरी जानकारी –

अगर आप आईएएस ऑफिसर बनना चाहते हैं तो सबसे पहले आपको 12वीं की परीक्षा पास करनी होगी, अगर आप अभी स्कूल में हैं तो किसी भी स्ट्रीम से चाहे वह साइंस हो, कॉमर्स हो या कोई और।

आपको बस बारहवीं कक्षा पहले पास करनी होगी। जैसे ही आपने 12वीं पास कर ली है, अब आप जिस भी विषय में रुचि रखते हैं उसमें ग्रेजुएशन/डिग्री पूरी कर लें, क्योंकि आईएएस ऑफिसर बनने के लिए स्नातक होना बहुत जरूरी है।

जैसे ही आप अपना ग्रेजुएशन पूरा करते हैं, उसके बाद आपको यूपीएससी परीक्षा के लिए आवेदन करना होता है या आप चाहें तो इस परीक्षा के लिए अंतिम वर्ष में भी आवेदन कर सकते हैं यदि आप आईएएस, आईपीएस, आईआरएस जैसी परीक्षा देना चाहते हैं तो सभी के लिए आपको UPSC की परीक्षा देनी होगी क्योंकि UPSC इन परीक्षाओं को आयोजित करता है और यह सबसे कठिन परीक्षा है।

जैसे ही आप यूपीएससी परीक्षा के लिए आवेदन करते हैं, उसके बाद आपको 3 मुख्य परीक्षाएं पास करनी होती हैं, पहली प्रारंभिक परीक्षा होती है, दूसरी मुख्य परीक्षा होती है और आखिरी होती है साक्षात्कार।

यूपीएससी परीक्षा में आवेदन करने के बाद अब आपको पहली परीक्षा को क्लियर करना है जिसे प्रारंभिक परीक्षा कहा जाता है, इसमें दो पेपर होते हैं और दोनों वस्तुनिष्ठ प्रकार के प्रश्न होते हैं यानी चार विकल्पों के साथ, तो दोनों पेपर 200 अंकों के होंगे।

फिर अगला राउंड में जाने के लिए, आपको इस परीक्षा को पास करना होगा जो एक आईएएस अधिकारी बनने के लिए बहुत महत्वपूर्ण है।

जैसे ही आप पहली परीक्षा क्लियर करते हैं, उसके बाद अब आपको मुख्य परीक्षा को क्लियर करना है जो कि बहुत कठिन है, जिसमें आपको कुल 9 पेपर देने होते हैं जिसमें आपको लिखित परीक्षा के साथ-साथ इंटरव्यू भी देना होता है। 

इतने सारे लोग इस परीक्षा को पास नहीं कर पाते हैं, तो यदि आप एक IPS अधिकारी बनना चाहते हैं तो आपको परीक्षा में शीर्ष अंक प्राप्त करने होंगे और फिर आपको IAS परीक्षा को पास करने के लिए ध्यान से पढ़ना होगा।

जैसे ही आपके दोनों राउंड क्लियर होते हैं, उसके बाद अब आपको पर्सनल इंटरव्यू के लिए बुलाया जाता है जो लगभग 45 मिनट का होता है, तो आपको इंटरव्यू क्लियर करना होता है, कई इंटरव्यू पैनल हैं जो आपके लिए बहुत कठिन होता हैं। अगर आप ट्रिकी सवाल पूछते हैं तो आपको इसके लिए तैयार रहना होगा और इस राउंड को भी क्लियर करना होगा तभी आप IAS ऑफिसर बन पाएंगे।

तो इस तरह से आप एक IAS अधिकारी बन जाएंगे लेकिन याद रखें यह इतना आसान नहीं है, इसके लिए आपको अलग से ट्यूशन लेनी पड़ सकती है या अगर आप सेल्फ स्टडी करके परीक्षा पास करना चाहते हैं तो आपको याद रहे कि इस परीक्षा को माना जाता है भारत की सबसे कठिन परीक्षा, यदि आप वास्तव में IAS परीक्षा को पास करना चाहते हैं, तो ध्यान से पढ़ें।

IAS अधिकारी की कार्य प्रोफ़ाइल –

•             एक आईएएस के रूप में राजस्व से संबंधित कार्य करना होता है, जैसे राजस्व संग्रह आदि।

•             जिले में कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए।

•             कार्यकारी मजिस्ट्रेट के रूप में कार्य करना होगा।

•             एक आईएएस को मुख्य विकास अधिकारी (सीडीओ) या जिला विकास आयुक्त के रूप में काम करना होता है।

•             जिले में राज्य सरकार और केंद्र सरकार की नीतियों को प्रभावी ढंग से लागू करना।

•             नीतियों आदि की निगरानी के लिए औचक दौरा करने के लिए यात्रा करना।

•             वित्तीय मामलों के मानदंडों के अनुसार सार्वजनिक निधियों पर व्यय की जांच करना।

•             सरकार की नीति बनाने और नीतियों को अंतिम रूप देने में संयुक्त सचिव, उप सचिव के रूप में सलाह देना।

•             सरकार के दिन-प्रतिदिन के मामलों को संभालने की जिम्मेदारी लेने के लिए।

IAS अधिकारी की शक्ति और अधिकार –

IAS अधिकारी किसी जिले या विभाग का मुखिया होता है, वह विभाग में किए जाने वाले प्रत्येक कार्य के लिए जिम्मेदार होता है, वह अपने अधीनस्थ कर्मचारियों को निर्देश देता है, यदि कार्य में किसी प्रकार की लापरवाही पाई जाती है, तो वह कर्मचारियों के लिए जिम्मेदार होता है।

के खिलाफ ठोस कार्रवाई करता है वह कर्मचारियों को निलंबित कर सकता है और यदि कोई कर्मचारी कानून के खिलाफ काम करता है, तो उसके खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कर सकता है और सरकार से उसकी बर्खास्तगी की सिफारिश कर सकता है।

IAS की तैयारी कैसे करें –

दोस्तों अगर आप आईएएस बनना चाहते हैं तो इसके लिए आपको काफी मेहनत करनी होगी और हम आपको कुछ टिप्स दे रहे हैं, अगर आप इन्हें फॉलो करते हैं तो इससे आपको आईएएस बनने में काफी मदद मिलेगी और आप आईएएस परीक्षा की तैयारी भी करेंगे सही तरीके से।

NCERT की किताबें पढ़ें –

आईएएस बनने के लिए एनसीईआरटी की किताबें पढ़ना आपके लिए बहुत जरूरी है और एनसीईआरटी की किताबों में आप आठवीं से बारहवीं कक्षा तक की किताबें पढ़ सकते हैं, ये किताबें आईएएस परीक्षा पास करने में बहुत योगदान देती हैं और अगर आपकी पकड़ अच्छी है तो एनसीईआरटी की किताबों पर, तो आपकी सफलता की संभावना अधिक होगी।

UPSC को समझें –

आप UPSC के द्वारा ही IAS बन सकते हैं और इसकी आवेदन परीक्षा और IAS का चयन इसके द्वारा किया जाता है और आपके लिए IAS बनना बहुत ज़रूरी है और इसकी बेहतर तैयारी के लिए UPSC के सिलेबस को समझना बहुत ज़रूरी है और आप देखें इसके पुराने प्रश्नपत्र और यूपीएससी परीक्षा में प्रश्न पत्रों के प्रकार के बारे में पता करें और उन्हें हल करने का प्रयास करें।

नियमित रूप से अध्ययन करें –

आईएएस बनने के लिए नियमित रूप से अध्ययन करना बहुत जरूरी है और जब आप नियमित रूप से अध्ययन करते हैं, तो आप सबसे अच्छे तरीके से अध्ययन कर सकते हैं और आपको लंबे समय तक याद किया जाएगा ताकि आप परीक्षा दे सकें। आप बेहतर प्रदर्शन करने में सक्षम होंगे और परीक्षा में आसानी से सफलता प्राप्त करने में सक्षम होंगे।

टाइम टेबल बनाएं –

आईएएस बनने के लिए आपके लिए एक टाइम टेबल बनाना बहुत जरूरी है और आपको इसमें कितनी देर तक पढ़ाई करनी है और कितने समय के लिए आपको इन सभी के बारे में टाइम टेबल बनाना है और उसके आधार पर आपको क्या करना है  आप समय तक पढ़ाई कर पाएंगे और परीक्षा की बेहतर तैयारी भी कर पाएंगे।

सही माहौल में पढ़ाई करें-

आईएएस बनने के लिए आपके लिए सही माहौल में पढ़ाई करना बहुत जरूरी है क्योंकि आप जितना बेहतर माहौल में पढ़ते हैं, उतनी ही बेहतर तैयारी कर पाते हैं और सुबह और शाम का माहौल पढ़ाई के लिए काफी अच्छा होता है।

और इस समय में आप किसी साफ-सुथरी जगह पर जा सकते हैं या छत पर बैठकर पढ़ाई कर सकते हैं, जिससे आपको कोई भी सवाल बहुत आसानी से और जल्दी याद आ जाएगा।

सभी विषयों की किताबें पढ़ें –

बहुत से लोग गलती करते हैं कि वे पूरे सेलेब्स की एक ही किताब लेते हैं और उससे पढ़ते हैं, जबकि वे ठीक से पढ़ाई नहीं कर पाते हैं क्योंकि आपको इतने बड़े सेलेब्स एक किताब में नहीं मिल सकते हैं, इसलिए आपको पढ़ना होगा हर किताब।

आपको विषय की एक अलग किताब रखनी होगी और उसके आधार पर आपको अध्ययन करना होगा, इससे आप हर विषय में विवरण से जानकारी प्राप्त कर पाएंगे और हर विषय में आपकी पकड़ मजबूत होगी।

करंट अफेयर्स पढ़ें –

UPSC की तैयारी के लिए आपको कम से कम 12 से 18 महीने के करेंट अफेयर्स की तैयारी करनी होती है, क्योंकि प्रारंभिक परीक्षा में करेंट अफेयर्स के प्रश्न पूछे जाते हैं, इसलिए आपको करेंट अफेयर्स को मजबूत बनाना होगा, इसके लिए आप समाचार पत्र, पत्रिकाएं पढ़ें और आप चाहे तो कोई भी कोर्स ज्वाइन कर सकते है।

पुराने प्रश्न पत्रों को हल करें –

UPSC की बेहतर तरीके से तैयारी करने के लिए आपको पिछले कुछ वर्षों के प्रश्न पत्रों को हल करना चाहिए, इससे आपको अंदाजा हो जाएगा कि परीक्षा में किस प्रकार के प्रश्न पूछे जाते हैं।

IAS परीक्षा को लेकर अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न –

IAS बनने के लिए शिक्षा योग्यता?

आईएएस के लिए आवेदन करने के लिए किसी भी विषय में ग्रेजुएशन या पोस्ट ग्रेजुएशन पास होना अनिवार्य है और इसके आवेदन के लिए ज्यादा मार्क्स की जरूरत नहीं है, अगर आप अपनी ग्रेजुएशन की परीक्षा देते हैं तो आप इसके लिए पासिंग मार्क के साथ ऑनलाइन आवेदन भी कर सकते हैं।

IAS बनने के लिए कौन सी पढ़ाई जरूरी है?

बहुत से लोग सोचते हैं कि आईएएस बनने के लिए हमें क्या पढ़ाई करनी चाहिए, तो कला, वाणिज्य और विज्ञान का कोई भी विषय लेने के बाद आप आईएएस की पढ़ाई कर सकते हैं और हर विषय या पाठ्यक्रम के छात्र इस कोर्स को कर सकते हैं, इसके लिए आपके पास कोई न कोई होना चाहिए। किसी विशेष पाठ्यक्रम की आवश्यकता नहीं है।

UPSC के लिए कौन सी किताब पढ़नी चाहिए?

अगर आप यूपीएससी की पढ़ाई करते हैं तो सही किताबों का चुनाव करना बहुत जरूरी है और आपको हमेशा अपने सिलेबस के आधार पर अलग-अलग किताबों का चयन करना चाहिए और सभी विषयों की अलग-अलग किताबें लेकर उनका अध्ययन करना चाहिए, ताकि आप हर विषय का बेहतर तरीके से अध्ययन कर सकें और सभी विषयों में आपकी पकड़ बहुत अच्छी होगी।

12वीं के बाद IAS कैसे बनें?

अगर आप 12वीं के बाद आईएएस बनना चाहते हैं तो आपको किसी भी स्ट्रीम से पहले 12वीं पास करनी होगी, उसके बाद आपको 3 साल की ग्रेजुएशन करनी होगी और जब आपका ग्रेजुएशन पूरा हो जाएगा, उसके बाद आप आईएएस के लिए आवेदन कर सकेंगे।

आईएएस के निलंबन की शक्ति राष्ट्रपति के पास ही है, यह काम कोई अन्य सरकार नहीं कर सकती।

निष्कर्ष –

एक आईएएस अधिकारी की नौकरी भारत में सबसे प्रतिष्ठित नौकरियों में से एक है, जिसके लिए हर साल लाखों उम्मीदवार आवेदन करते हैं लेकिन उनमें से कुछ ही लोगों के सपने सच होते हैं।

आशा है कि इस आर्टिकल द्वारा आपको अपने सभी सवालों के जवाब मिल गए हैं जैसे- आईएएस योग्यता, आईएएस बनने के विषय, पाठ्यक्रम, परीक्षा पैटर्न, पुस्तक, वेतन आदि। फिर भी यदि आपका कोई प्रश्न या सुझाव है तो आप हमें कमेंट करके पूछ सकते हैं enterhindi.com आपकी मदद के लिए हमेशा उपलब्ध हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here