Delhi Shramik Mitra Yojna: दिल्ली सरकार ने शुरू की श्रमिक मित्र योजना

0
1250
दिल्ली श्रमिक मित्र योजना
दिल्ली श्रमिक मित्र योजना

दिल्ली श्रमिक मित्र योजना (Delhi Shramik Mitra Yojna):-

दिल्ली श्रमिक मित्र योजना 2021 (Delhi Shramik Mitra Scheme 2021) राज्य सरकार द्वारा 8 नवंबर 2021 को दिल्ली के एनसीटी में शुरू की गई है | श्रमिक मित्र योजना यह सुनिश्चित करेगी कि विभिन्न कार्यक्रमों का लाभ निर्माण श्रमिकों तक पहुंचे | इस योजना की मदद से निर्माण श्रमिक पेंशन, उपकरण, ऋण, घर, विवाह, शिक्षा, मातृत्व लाभ प्राप्त कर सकते हैं |

दिल्ली श्रमिक मित्र योजना के तहत, राज्य सरकार निर्माण श्रमिकों तक पहुंचकर उन्हें विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं की जानकारी देंगे | दिल्ली सरकार असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों को संबंधित सरकारी योजनाओं से जोड़ना चाहती है और यह सुनिश्चित करना चाहती है कि कोई भी कार्यकर्ता किसी भी कार्यक्रम से अछूता न रहे |

दिल्ली सरकार ने श्रमिक मित्र योजना की शुरुआत की है। इसके अंतर्गत सरकार लगभग 800 श्रमिक मित्रों की नियुक्ति करेगी | ये श्रमिक मित्र श्रमिकों के बीच में जाकर उन्हें दिल्ली सरकार के द्वारा उनके हित के लिए चलाई जा रही योजनाओं की जानकारी देंगे | इससे श्रमिकों को सरकारी योजनाओं का बेहतर लाभ मिल सकेगा | इस समय दिल्ली सरकार श्रम मंत्रालय में लगभग छह लाख श्रमिक रजिस्टर्ड हैं | सरकार ने इसे एक बड़ी योजना बताया है |

दिल्ली श्रमिक मित्र योजना के तहत नामांकित श्रमिक मित्र, निर्माण बोर्ड द्वारा पंजीकृत निर्माण श्रमिकों को वार्ड स्तर पर सरकार की सहायता योजनाओं के बारे में सूचित करेंगे | ये श्रमिक मित्र निर्माण श्रमिकों को विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं के लिए पंजीकरण कराने में मदद करेंगे |

दिल्‍ली सरकार से मिलेगी इतनी सहायता:-

श्रमिकों को दिल्ली सरकार से मिलने मिलने वाली सहायता के तहत घर निर्माण के लिए 3 लाख से 5 लाख रुपए, मातृत्व लाभ में 30,000 रुपए, टूल खरीदने के लिए 20,000 रुपए का लोन और 5,000 रुपये की सहायता राशि मिलेगी |  श्रमिकों के प्राकृतिक मृत्यु पर 1 लाख और दुर्घटना मृत्यु पर 2 लाख की सहायता राशि मिलेगी | 

अपंग होने पर पर 1 लाख की सहायता राशि और 3000 रुपये प्रतिमाह पेंशन, बच्चों की स्कूली शिक्षा व उच्च शिक्षा के लिए 500 से 10,000 रुपये प्रतिमाह मिलेंगे | श्रमिकों व उनके बच्चों के विवाह के लिए 35,000 से 51,000 रुपये की सहायता राशि, मेडिकल सहायता के के लिए 2000 रूपये, वृद्धावस्था पेंशन के रूप में 3,000 रुपये प्रतिमाह (हर साल 300 रुपये की वृद्धि) की सहायता राशि दी जाती है |

  • House Construction Assistance to Unorganized labourers – Rs. 3 to Rs. 5 lakh
  • Maternity Benefit to pregnant construction workers – Rs. 30,000
  • Grant for Purchase of Tools – Rs. 5000
  • Grant on Natural Death of Workers – Rs. 1 lakh
  • Loan to Construction Workers – Rs. 20,000
  • Grant on Accidental Death of Workers – Rs. 2 lakh
  • Grant In case of disability – Rs. 1 lakh
  • Monthly Pension – Rs. 3000 per month
  • Assistance for School Education of children – Rs. 500 per month
  • Assistance for Higher Education of children – upto Rs. 10,000 per month
  • Marriage of workers and their children – Rs. 35,000

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here