घर-सीखने का संसाधन | कोर्स 1- हम और हमारा समाज | CM RISE डिजिटल शिक्षक प्रशिक्षण, मध्य प्रदेश प्रश्न्नोतरी

0
2536
कोर्स 1- हम और हमारा समाज

कोर्स 1- हम और हमारा समाज

प्रशिक्षण के बारे में :

सीएम राइज़ शिक्षक प्रशिक्षण कार्यक्रम के अंतर्गत “घर-सीखने का संसाधन” नामक 3-भाग की एक कोर्स श्रृंखला शुरू की जा रही है। यह कोर्स श्रृंखला शिक्षकों को घर पर रोज़मर्रा के संसाधनों का उपयोग करते हुए विभिन्न कक्षाओं के बच्चों के लिए आकर्षक गतिविधियों का संचालन करने में सहायता प्रदान करेगी। शृंखला के पहले कोर्स- हम और हमारा समाज में, हम बच्चों की भावनाएं एवं लैंगिक पूर्वाग्रहों के प्रति उनकी जागरूकता विकसित करने हेतु विभिन्न गतिविधियों से अवगत होंगे।

आपको बता दें हम और हमारा समाज प्रशिक्षण के कुल तीन भाग होंगे दीक्षा एप के माध्यम से हम और हमारा समाज का भाग पहला आ चुका है जिसे आपको दिए गए समयावधि में पूरा करना है |

इस प्रशिक्षण को कुल 6 भागों में बता गया है और हर एक भाग को कुछ छोटे छोटे भाग में विभाजित किया गया है जिसे आपको पूरा करना है

  • कोर्स से परिचय
  • प्रश्नोत्तरी
  • भाग 1- प्री वर्क
  • भाग 2 – कोर्स सत्र
  • भाग 3-पोस्ट वर्क
  • स्व मूल्यांकन प्रश्नोत्तरी

कोर्स 1- हम और हमारा समाज

प्रश्न 1: महामारी की वर्तमान स्थिति में, सभी बच्चों की शिक्षा किस प्रकार जरी राखी जा सकती है ?

  1. बच्चों को स्कूल बुलाकर उनकी पढाई शुरू कर देनी चाहिए |
  2. ऐसे समय में बच्चों की पढाई का दायित्य अभिभावकों पर होना चाहिए |
  3. बच्चों को घरेलु परिवेश में रहते हुए, उनके अभिभावकों द्वारा उनके सीखने की प्रक्रिया जरी रखनी चाहिए |
  4. सभी बच्चों को सिखाने के लिए, शिक्षकों को उन्हें निरंतर ऑनलाइन सामग्री भेजते रहने चाहिए |

उत्तर 1- बच्चों को घरेलु परिवेश में रहते हुए, उनके अभिभावकों द्वारा उनके सीखने की प्रक्रिया जरी रखनी चाहिए |

प्रश्न 2: घर – आधारित शिक्षण के माध्यम से बच्चों के सीखने की यात्रा के लिए कराइ जाने वाली गतिविधियाँ निम्नलिखित में से किन पर आधारित होना चाहिए ?

  • बच्चों की उम्र के आधार
  • पर बच्चों के परिवेश के अनुकूल
  • अभिभावकों की उपलब्धता
  • स्मार्ट-फ़ोन की उपलब्धता
  • 2 और 3
  • 3 और 4
  • 1 और 2
  • 1 और 4

उत्तर 2 – 2 और 3

प्रश्न 3: शिक्षक को बच्चों को अपनी भावनाओं के प्रति संवेदनशीलता बढाने के अवसर देने चाहिए |

  1. हाँ, क्योंकि सामाजिक देखरेख बच्चों के सीखने का महत्वपूर्ण घटक है|
  2. इसकी आवश्यकता नही है क्योंकि बच्चे बढती उम्र के साथ स्वयं ही भावनाओं को समझना सीख जाते हैं |

उत्तर 3 – हाँ, क्योंकि सामाजिक देखरेख बच्चों के सीखने का महत्वपूर्ण घटक है|

प्रश्न 4: सीमा मैडम ने बच्चों को कुछ 8 भिन्न के प्रश्न हल करने को दिए और बच्चों को वे निर्धारित समय में हल करके देने थे |……………………………

  1. तुम जितनी फुर्ती से दौड़ती हो अगर उतनी ही फुर्ती से गणित के प्रश्न भी हल करो तो अच्छा होगा |
  2. तुमने इस बार चर प्रश्नों के उत्तर दिए और पिछली बार एक का दिया था, इसमें तुमने भुत अच्छी प्रगति की है |
  3. मुझे तुमसे काफी उमीदें हैं, तुम इससे बेहतर कर सकती हो |
  4. तुमने 8 में से सिर्फ चर प्रश्न किये, बाकी सभी नें कम से कम 6 प्रश्न किये

प्रश्न 4 मने इस बार चर प्रश्नों के उत्तर दिए और पिछली बार एक का दिया था, इसमें तुमने भुत अच्छी प्रगति की है |

प्रश्न 5: घर आधारीत शिक्षण की प्रक्रिया हेतु कुछ चरण नीचे दिया गये हैं | इन चरणों को क्रम से सुनें

  1. गतिविधियों का चयन करें |
  2. बच्चों की पारिवारिक जानकारी इकठ्ठा करेंगे
  3. बच्चों के साथ गतिविधि साझा करेंगे
  4. बच्चों के पास उपलब्ध संसाधनों की जानकारी इकठ्ठा करेंगे
  5. बच्चों द्वारा की गयी गतिविधि पर अपनी प्रतिक्रिया साझा करेंगे
  • 2-4-1-3-5
  • 4-1-2-3-5
  • 1-2-3-4-5
  • 2-1-4-3-5

उत्तर : 2-4-1-3-5

प्रश्न 6 : दिए गये चित्र में मनीष जी कभी चिंतित हैं यदि आपको इनसे चर्चा करनी ई तो उनकी समस्या के समाधान हेतु में से कोण सा विक्प चुनेंगे (विकल्प और चित देखने के लिए दीक्षा एप में अपना प्रशिक्षण चालू करें )

  1. 1 और 4
  2. 1 और 3
  3. 2 और 3
  4. 2 और 4

उत्तर 6- 1 और 3

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here