दिल्ली सरकार की मुख्यमंत्री किराएदार बिजली मीटर योजना

0
1392

CM Kirayedaar Bijli Meter Yojana मुख्यमंत्री किराएदार बिजली मीटर योजना:-

दिल्ली के नागरिकों को बिजली के बिल और पानी के बिल में भारी राहत देने के बाद, मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने किराये पर रहने वालों के लिए मुख्यमंत्री किराएदार बिजली मीटर योजना (CM Kirayedaar Bijli Meter Yojana) की घोषणा की है| इस सरकारी योजना से बड़ी संख्या में ऐसे लोग लाभान्वित होंगे जो फ्लैटों में या कॉलोनियों में किराए पर रहने के कारण बिजली का कनेक्शन नहीं ले पाते थे |

अभी तक जो लोग किराए पर रहते थे उन्हे बिजली मीटर लगवाने के लिए मकान मालिक से NOC लेनी पड़ती थी लेकिन इस मुख्यमंत्री किराएदार बिजली मीटर योजना के शुरू होने के बाद वे अपना बिजली का मीटर लगवा सकते हैं और बिजली का लाभ ले सकते हैं |

CM Kirayedaar Bijli Meter Yojana

दिल्ली मुख्यमंत्री किराएदार बिजली मीटर योजना के तहत, सरकार किरायेदारों के लिए प्रीपेड मीटर स्थापित करेगी | इन नए प्रीपेड मीटरों को केवल किराए पर रहने वाले के घरेलू उपयोग के लिए सेटअप किया जाएगा | किरायेदारों के लिए मुख्यमंत्री विद्युत सब्सिडी योजना का लाभ उठाने के लिए, लोगों को 3,000 रुपये सुरक्षा राशि के रूप में और 3,000 रुपये जमा लाइन ड्राइंग के लिए करने होंगे |

ये प्रीपेड बिजली मीटर किरायेदारों के बिजली बिलों को कम कर देंगे क्योंकि अभी उन्हें घर के मालिकों को अधिक राशि का भुगतान करना होता है | आम आदमी पार्टी ने बिजली विभागों को इससे संबंधित निर्देश भी जारी कर दिये हैं और उन लोगों को प्रीपेड मीटर उपलब्ध कराने के निर्देश भी दे दिए हैं |

मुख्यमंत्री किराएदार बिजली मीटर योजना के लिए जरुरी दस्तावेज (CM Kirayedaar Bijli Meter Yojna):-

किरायेदार 3,000 रुपये की सुरक्षा राशि जमा करके प्री-पेड मीटर लगवा सकेंगे | इसके लिए सिर्फ किरायानामा या Rent Agreement की कॉपी या किरायेदारी की रसीद या पासपोर्ट साइज़ फोटो, ID Proof, किराये के मकान के पते की जानकारी और वे जहां रह रहे हैं, वहां का निवास प्रमाण-पत्र जमा करना होगा |

प्री-पेड मीटर पुराने मीटरों से कैसे अलग है:-

प्री-मेड मीटर जैसा कि नाम से ही साफ है, कि आपको सुविधा का उपयोग करने से पहले पेमेंट करनी होगी । जैसे डिश टीवी का पहले रीचार्ज करना होता है फिर सुविधा मिलती है, ठीक वैसे ही प्री-मेड मीटर के साथ होगा। सामान्य मीटर में पहले बिजली का उपयोग करते हैं, फिर बिल आता है, लेकिन प्रीपेड में पहले रीचार्ज करना होगा फिर बिजली इस्तेमाल कर सकेंगे |

प्री-पेड मीटर पर सब्सिडी:-

दिल्ली सरकार बिजली के बिल पर सब्सिडी देती है | अगर उपभोक्ता 200 यूनिट से कम की बिजली खपत करते हैं तो उपभोक्ता पर किसी तरह का चार्ज नहीं लगेगा | मुख्यमंत्री किरायेदार बिजली मीटर योजना में मीटर में प्रोग्रामिंग इस तरह होगी कि 200 यूनिट तक बिजली फ्री और 400 यूनिट तक आधा रेट, मतलब आधा पैसा कटेगा |

कैसे लगवा सकते हैं प्री-पेड मीटर :-

जारी किए गए तीन अलग-अलग नंबर पर कॉल करके उपभोक्ता प्री-पेड मीटर लगवा सकते हैं | इसके लिए कुछ लाइनों पर चार्ज जरूर देना होगा | फोन करने के बाद शख्स खुद आकर मीटर लगाकर जाएगा | इन नंबरों पर फोन कर किरायेदार घर बैठे मीटर लगवा सकते हैं:
BSES यमुना का नंबर: 19122
BSES राजधानी का नंबर: 19123
टाटा का नंबर: 19124

DERC द्वारा घोषित नई दरें:-

बिजली नियामक दिल्ली विद्युत विनियामक आयोग (DERC) ने 2019-20 के लिए नई बिजली दरें घोषित की हैं | जिसके अनुसार मुख्यमंत्री बिजली मीटर योजना (CM Electricity Meter Scheme) के किराये को कम और प्रति इकाई बिजली की दरों को बढ़ाया गया है | जिससे जो भी घरेलू श्रेणी के उपभोक्ता हैं उन सभी ग्राहकों को बिजली बिल में 750/- रुपये तक की बचत होगी |

Also Read:-

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here