Charanjit Singh Channi का जीवन परिचय : जानिए पंजाब के 27 वें मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी कौन हैं ?

0
838
Charanjit Singh Channi Biography in Hindi
Charanjit Singh Channi Biography in Hindi

Charanjit Singh Channi:-

Charanjit Singh Channi Biography- काफी देर तक मुख्यमंत्री के पद के लिए चली इस माथापच्ची के बाद आखिरकार पंजाब की राजनीति में एक बड़ा परिवर्तन देखने को मिला है, पंजाब के नए CM के रूप चरणजीत सिंह चन्नी को चुना गया है | पंजाब के 27 वें मुख्यमंत्री के रूप में चरणजीत सिंह चन्नी के नाम पर मुहर लग गई है | बता दें 55 साल बाद ऐसा हुआ है जब किसी दलित मुख्यमंत्री के हाथों में पंजाब की कमान सौंपी गई है |

ऐन वक्त पर कांग्रेस पार्टी ने चौंकाते हुए रविवार को बड़ा फैसला लिया है | चरणजीत सिंह चन्नी पंजाब में कांग्रेस का सबसे बड़ा दलित चेहरा है | कैप्टन अमरिंदर सिंह के इस्तीफे के बाद कांग्रेस ने पंजाब के अगले मुख्यमंत्री के लिए चरणजीत सिंह चन्नी के नाम पर भरोसा जताया है | चरणजीत सिंह चन्नी को पंजाब का नया कैप्टन चुन लिया है |

चरणजीत सिंह चन्नी पंजाब राज्य की चमकौर साहिब सीट से तीसरी बार कांग्रेस के विधायक चुने गए हैं | पंजाब की कैप्टन अमरिंदर सिंह सरकार में चरणजीत सिंह चन्नी तकनीक शिक्षा, औद्योगिक प्रशिक्षण,रोजगार सृजन , पर्यटन और संस्कृति मामलों की मंत्री रह चुके हैं |

चरणजीत सिंह चन्नी का जन्म:-

चरणजीत सिंह चन्नी का जन्म 1 मार्च 1963 ईस्वी में हुआ था | चरणजीत सिंह चन्नी जी का जन्म भारत के पंजाब राज्य में स्थित भजौली नामक क्षेत्र में हुआ है | जिनकी अब उम्र 58 साल है | चरणजीत सिंह सिख धर्म से संबंध रखते हैं, चरणजीत सिंह की जाति रामदासिया सिख है, जिसे सिख दलित जाति भी कहा जाता है |

चरणजीत सिंह जी ने पंजाब टेक्निकल यूनिवर्सिटी से MBA किया है, और साथ ही चंडीगढ़ की पंजाब यूनिवर्सिटी से कानून की पढ़ाई करते हुए इन्होने वकालत की डिग्री हासिल की है | साथ ही चरणजीत सिंह जी ने एलएलबी की भी पढ़ाई की है, ये पढ़ाई में बेहद अच्छे थे जिसके चलते इन्हें मेधावी छात्र की श्रेणी में रखा जाता था | इतना ही नहीं उनकी जाति को आरक्षण का भी लाभ प्राप्त होता है |

Charanjit Singh Channi

चरणजीत सिंह चन्नी का राजनीतिक सफर:- (Charanjit Singh Channi Political Career)

  • चरणजीत सिंह चन्नी 2015 से 2016 तक पंजाब विधानसभा में विपक्ष के नेता थे |
  • चरणजीत सिंह चन्नी पंजाब की कैप्टन अमरिंदर सिंह सरकार में 16 मार्च 2017 को 47 वर्ष की आयु में कैबिनेट मंत्री के रूप में नियुक्त किया गया था |
  • कैप्टन अमरिंदर सिंह के इस्तीफे के बाद चरणजीत सिंह चन्नी 19 सितंबर 2021 को पंजाब के मुख्यमंत्री बने | वह चमकौर साहिब विधानसभा क्षेत्र से विधायक हैं | चरणजीत सिंह चन्नी रामदसिया सिख समुदाय से हैं |

चरणजीत सिंह चन्नी की नेट वर्थ:- (Charanjit Singh Channi Net Worth)

पंजाब के वर्तमान मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी की नेट वर्थ लगभग 14 करोड़ रुपए है | और उनकी संपूर्ण संपति का अभी पता नही चल पाया है | और उनके बिसनेस से हुई कमाई का भी जोड़ इसमें नही है | ये नेट वर्थ पक्की नही है इसमें कुछ कमियां हो सकती है |

चरणजीत सिंह चन्नी की पत्नी का नाम कमलजीत कौर है और उनके दो बेटे है, जिनका नाम नवजीत सिंह, रिदमजीत सिंह है | वर्तमान में चरणजीत सिंह चन्नी खरार, एसएएस नगर, पंजाब में रहते है |

चरणजीत सिंह चन्नी को मुख्यमंत्री बनाने का कारण:-

चरणजीत सिंह चन्नी को मुख्यमंत्री बनाने का मुख्य कारण ये पंजाब में कांग्रेस का सबसे बड़ा दलित चेहरा है | कुछ दिनों पहले अकाली दल ने वादा किया था कि अगर पंजाब में उनकी सरकार बनती है तो वह किसी दलित को उपमुख्यमंत्री बनाएंगे | ऐसे में कांग्रेस ने चरणजीत सिंह चन्नी को मुख्यमंत्री बनाकर अकाली दल के उस चुनावी वादे का तोड़ निकाल लिया | इससे कांग्रेस को उम्मीद है कि अगले विधानसभा चुनाव में दलित उनको ही वोट करेंगे |

चरणजीत सिंह चन्नी को मुख्यमंत्री बनाने का दूसरा कारण यह है कि वह कैप्टन अमरिंदर सिंह के विरोधी गुट से आते है | पहले पंजाब कांग्रेस के अध्यक्ष नवजोत सिद्धू खुद मुख्यमंत्री बनना चाहते थे, लेकिन उनके पास पहले ही पंजाब कांग्रेस का अध्यक्ष पद होने के कारण कांग्रेस आलाकमान ने मुख्यमंत्री बनाने से इंकार कर दिया | ऐसे में सिद्धू खेमे ने अमरिंदर सिंह के विरोधी चरणजीत सिंह चन्नी का नाम मुख्यमंत्री पद के लिए आगे कर दिया | वरना किसी समय सुखजिंदर सिंह रंधावा का नाम भी मुख्यमंत्री पद के लिए सबसे आगे चल रहा था |

पंजाब के नए मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी पर लग चुके हैं #MeToo के आरोप:-

पंजाब के नए मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी को MeToo से जुड़े 3 साल पुराने एक मामले में फंस चुके हैं | आरोप है कि चन्नी ने एक महिला आईएएस अधिकारी को साल 2018 में गलत मैसेज भेजा था | हालांकि महिला IAS ऑफिसर ने इस मामले को लेकर शिकायत दर्ज नहीं कराई थी | इसके अलावा अमरिंदर सिंह ने भी मामले को सुलझा लेने का वादा किया था | हाल ही में पंजाब महिला आयोग ने इस मामले को लेकर राज्य सरकार को नोटिस भेजा था | महिला आयोग की चीफ मनीषा गुलाटी ने बताया कि वह IAS ऑफिसर के लिए इंसाफ चाहती है, जिनका हाल ही में पंजाब के बाहर ट्रांसफर हो गया है |

सिक्का उछाल कर पोस्टिंग:-

साल 2018 में चरणजीत सिंह चन्नी का एक वीडियो सोशल मीडिया पर काफी वायरल हुआ था | इस वीडियो में तत्कालीन मंत्री चरणजीत सिंह चन्नी एक ही जगह जाने के लिए लड़ रहे 2 लोगों के बीच टॉस कर उनकी पोस्टिंग का फैसला कर रहे है | इस वीडियो के सामने आने के बाद चरणजीत सिंह चन्नी की आफी आलोचना भी हुई थी |

Frequently Asked Questions (FAQ):-

चरणजीत सिंह चन्नी कौन है ?

पंजाब राज्य के नए मुख्यमंत्री

चरणजीत सिंह चन्नी का जन्म कब हुआ ?

1 मार्च, 1963

चरणजीत सिंह चन्नी का जन्म कहां हुआ ?

मक्रोना कलन, पंजाब में हुआ |

चरणजीत सिंह चन्नी के मुख्यमंत्री पद की घोषणा कब की गई ?

19 सितंबर 2021 में

चरणजीत सिंह चन्नी मुख्यमंत्री पद की शपथ कब लेंगे ?

20 सितंबर 2021

चरणजीत सिंह चन्नी पंजाब मुख्यमंत्री बनने से पहले कौन थे ?

पूर्व मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह की कैबिनेट में शिक्षा मंत्री एवं औद्योगिक प्रशिक्षण मंत्री रह चुके हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here