छत्तीसगढ़ मधुर गुड़ योजना 2021 – सब्सिडी दर और पात्रता की जाँच करें

0
1518
छत्तीसगढ़ मधुर गुड़ योजना

छत्तीसगढ़ मधुर गुड़ योजना 2021:-

आप सभी जानते ही होंगे कि छत्तीसगढ़ में नक्सलवाद हमेशा से एक बड़ी समस्या रही है, जिसे खत्म करने के लिए सरकार भी पुरजोर कोशिश करती है | लेकिन छत्तीसगढ़ की एक और समस्या बच्चों और महिलाओं की है जो कुपोषण और एनीमिया के शिकार हैं | एक हालिया रिपोर्ट के अनुसार, छत्तीसगढ़ में लगभग 37% बच्चे कुपोषित हैं | इसके साथ, 42% महिलाएं ऐसी हैं जो एनीमिया से पीड़ित हैं |

इस समस्या को खत्म करने के लिए, छत्तीसगढ़ राज्य सरकार द्वारा मुख्यमंत्री मधुर गुड़ योजना (Chief Minister Madhur Gur Yojana ) शुरू की गई है | इस योजना के माध्यम से, सरकार लोगों में विटामिन C और आयरन की कमी को दूर करना चाहती है | छत्तीसगढ़ में कुपोषित बच्चों की बढ़ती संख्या सरकार की प्रमुख चिंता बनी हुई है | इसलिए, इस योजना को शुरू करके, सरकार बच्चों को शिक्षित करना चाहती है |

इस योजना के तहत प्रदान किए गए लाभों से बच्चे और महिलाएं लाभान्वित होंगे | जिससे परिवार के साथ-साथ समाज भी मजबूत होगा | इस नई सरकारी योजना के तहत, सरकार राशन की दुकानों के माध्यम से रियायती दर पर गुड़ उपलब्ध कराएगी |

छत्तीसगढ़ मधुर गुड़ योजना

छत्तीसगढ़ मधुर गुड़ योजना 2021 की मुख्य विशेषताएं:-

यह योजना छत्तीसगढ़ के बस्तर संभाग में शुरू की जा रही है | इसके बाद, यह जल्द ही पूरे राज्य में फैल जाएगा | इस योजना में, 6 लाख गरीब, कुपोषित और एनीमिया से पीड़ित बच्चे छत्तीसगढ़ के बस्तर संभाग से लाभान्वित होंगे |

  • छत्तीसगढ़ राज्य में कई महिलाएं ऐसी हैं जिन्हें पोषण युक्त भोजन प्रदान नहीं होता है और इसके कारण वे अनीमिया जैसी बीमारी से पीढित हो जाती है | इसलिए यह योजना महिलाओं को भी सुपोषित बनाने के लिए है |
  • लाभार्थियों को किफायती दाम में गुड़ प्रदान किया जाना है, जिसके सेवन से लाभार्थियों में विटामिन C एवं आयरन में वृद्धि होगी और वे सुपोषित हो सकेंगे |
  • मधुर गुड़ योजना से बस्तर संभाग के 6 लाख 59 हजार से अधिक गरीब परिवारों को लाभ पहुंचेगा |
  • इस योजना के क्रियान्वयन में हर साल 50 करोड़ रूपए खर्च किए जाएगें |
  • योजना में लाभार्थियों को मात्र 17 रूपये में प्रतिमाह 2 किलो गुड़ प्रदान किया जायेगा |
  • बस्तर क्षेत्र में वितरण के लिए 15 हजार 800 टन गुड़ उपलब्ध किया जाएगा |
  • मधुर गुड़ योजना को शुरू कर सरकार कुपोषण एवं एनीमिया की समस्या को तो ख़त्म करेगी ही, साथ ही इससे लोगों में होने वाली मलेरिया जैसी बीमारी से भी मुक्ति दिलाये की बात कहीं गई है |
  • इस योजना का सबसे बड़ा लाभ यह भी है कि इससे शिशु मृत्यु दर और मातृ मृत्यु दर दोनों में ही कमी आयेगी |

इसके अलावा आपको बता दें कि सरकार स्कूल और आंगनवाड़ी के बच्चों के लिए भी अंडे देगी, ताकि सभी बच्चों को पोषण मिल सके और कोई भी कुपोषण से बीमार न हो सके | इस तरह की योजना को अब तक किसी भी क्षेत्र में लागू नहीं किया गया है |

छत्तीसगढ़ मधुर गुड़ योजना 2021 के लिए पात्रता मानदंड:-

  • इस योजना में छत्तीसगढ़ राज्य की सीमा के अंदर आने वाले लोगों को सुपोषित होने का लाभ दिया जाना है | इसके अलावा कोई भी इस योजना का लाभ नहीं उठा पायेगा |
  • अक्सर देखा जाता हैं कि गरीब परिवार के बच्चों में ही कुपोषित होने की समस्या सबसे अधिक होती है | इसलिए इस योजना में भी गरीब परिवार से संबंध रखने वाले लोगों को लाभ प्रदान किया जायेगा |
  • इस योजना की पात्रता मापदंड में यह उल्लेख किया गया है कि जो बच्चे एवं महिलाओं में कुपोषण की समस्या हैं उन्हें ही इस योजना का लाभ मिलेगा |

छत्तीसगढ़ मधुर गुड़ योजना 2021 का लाभ कैसे लें:-

मधुर गुड़ योजना का लाभ लेने के लिए जनता को अपने करीबी राशन की दुकान की जाना होगा, वहां पर सरकार की तरफ से सब्सिडी रेट में उन्हें गुड दिया जायेगा | इसके साथ ही लाभार्थी को निम्नलिखित दस्तावेज अपने साथ ले जाने होंगे:-

योजना 2021 के लिए आवश्यक दस्तावेज:

  • मूल निवासी प्रमाण पत्र (Docmicile Certificate)
  • पहचान प्रमाण पत्र (Photo ID)
  • बीपीएल कार्ड (BPL Ration Card)
  • आधार कार्ड (Aadhaar Card)

Also Read:-

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here