Baba ka dhaba क्या है? Malviya Nagar क्यू ये इतना वायरल हो रहा है?

0
1245
Baba ka dhaba क्या है
Baba ka dhaba kya hai, Baha ka dhaba kaha hai

Baba Ka Dhaba- सायद आपने भी सोशल मीडिया में एक वायरल वीडियो जरूर देखा होगा, जो की #BabaKaDhabha के नाम से बहौत ट्रेंड कर रहा है। और इसके वीडियो भी जैम कर शेयर किये जा रहे हैं। तो आइये आज आपको इसी के बारे में बताते हैं।

Baba ka dhaba क्या है?

दरअसल दिल्ली (Delhi) के मालवीय नगर (Malviya Nagar) का एक वीडियो सोशल मीडिया (Social Media) पर वायरल हो रहा है, जिसमें बाबा का ढाबा (Baba Ka Dhaba) नाम की दुकान पर एक बुजुर्ग व्यक्ति रोता दिखाई दे रहा है, क्योंकि कोई भी कोरोना काल में ढाबे पर खाना खाने नहीं जाता.

सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल होने के बाद बाबा का ढाबा (Baba Ka Dhaba) पर मटर पनीर खाने के लिए दिल्ली वालों की भीड़ उमड़ पड़ी है. इसके अलावा वीडियो देखकर देश के कई हिस्सों से लोग उनकी मदद के लिए सामने आ रहे हैं।

दिल्ली के मालवीय नगर (Malviya Nagar) में एक बुजुर्ग शख्स अपनी पत्नी के साथ ढाबा चलाता है, जिसका नाम ‘बाबा का ढाबा’ (Baba Ka Dhaba) है. लेकिन लॉकडाउन के बाद उनके ढाबे पर कोई खाना खाने नहीं आता था.

एक यूट्यूबर उनकी छोटी सी दुकान पर पहुंचा तो वो पूरी कहानी सुनाते हुए रो पड़े. सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल हो गया और देश से कई लोग उनकी मदद के लिए आगे आए. इनमें कई बड़े नाम भी शामिल हैं. वीडियो वायरल होने के कुछ ही घंटों बाद उनकी दुकान में खाना खाने के लिए लाइन लग गई.

इतनी भीड़ को देख बुजुर्ग कपल के चेहरे पर मुस्कान आ गई. ट्विटर पर #BabaKaDhaba टॉप ट्रेंड कर रहा है. दिल्ली में लोग उनकी दुकान में लोग पहुंच रहे हैं और मदद कर रहे हैं.

यूट्यूबर गौरव वासन ने इस बुजुर्ग जोड़े का वीडियो शेयर किया है. उनके चैनल ‘स्वाद ऑफिशियल’ पर 6 अक्टूबर को यह वीडियो डाला गया था, जहां से यह तेजी से वायरल हो गया. ट्विटर पर इस वीडियो को वसुंधरा नाम की यूजर ने भी 7 अक्टूबर को शेयर किया था. वहां से ट्विटर पर यह वीडियो वायरल हो गया. 

वीडियो को @VasundharaTankh नाम के ट्विटर यूजर ने बुधवार शाम को अपने अकाउंट पर शेयर किया और देखते ही देखते वीडियो वायरल हो गया. ट्विटर पर अब तक 3 मिलियन बार वीडियो को देखा जा चुका है.

आप निचे दिए गए ट्वीट में वीडियो देख सकते हैं।

कौन है Baba ka Dhaba के मालिक।

दिल्ली के मालवीय नगर में कांता प्रसाद और बादामी देवी कई सालों से बाबा का ढाबा (Baba Ka Dhaba) चला रहे हैं. दोनों कि उम्र 80 साल से ज्यादा है. कांता प्रसाद बताते हैं कि उनके दो बेटे और एक बेटी है, लेकिन कोई मदद नहीं करता और वो सारा काम खुद ही करते हैं.

कांता प्रसाद और बादामी देवी कई सालों से मालवीय नगर में अपनी छोटी सी दुकान लगाते हैं. दोनों की उम्र 80 वर्ष से ज्यादा है. कांता प्रसाद बताते हैं कि उनके दो बेटे और एक बेटी है. लेकिन तीनों में से कोई उनकी मदद नहीं करता है. वो सारा काम खुद ही करते हैं और ढाबा भी अकेले ही चलाते हैं.

कांता प्रसाद पत्नी की मदद से सारा काम करते हैं. वो सुबह 6 बजे आते हैं और 9 बजे तक पूरा खाना तैयार कर देते हैं. रात तक वो दुकान पर ही रहते हैं. लॉकडाउन के पहले लोग यहां खाना खाने आया करते थे. लेकिन लॉकडाउन के बाद उनकी दुकान पर कोई नहीं आता है. इतना कहकर वो रोने लगते हैं.

जैसे हे वीडियो वायरल हुआ Baba के Dhaba में लग गयी लोगों की लम्बी लाइन, और सोशल मीडिया में भी हुआ और ट्रेंड .

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here