असम सरकार की अरुंधति स्वर्ण योजना- हर दुल्हन को मिलेगा एक तोला सोना

0
1042
अरुंधति स्वर्ण योजना

अरुंधति स्वर्ण योजना (Arundhati Swarna Yojana):-

असम सरकार ने अपने राज्य की हर वयस्क दुल्हन, जिसने कम से कम 10वीं की पढ़ाई की है और अपनी शादी का पंजीकरण कराई है उसे शादी में सोना देने के लिए 1 जनवरी से अरुंधति स्वर्ण योजना (Arundhati Swarna Yojana) की शुरुआत कर दी है | इस योजना के तहत सरकार दुल्हनों को 10 ग्राम सोना उपहार स्वरूप भेंट करेगी | सरकार द्वारा इस योजना पर प्रतिवर्ष 800 करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे। इस योजना की शुरुआत 1 जनवरी 2020 से हो गई है |

असम में हर साल करीब तीन लाख शादियां होती हैं लेकिन सिर्फ 50,000-60,000 ही पंजीकृत होती हैं | जिससे दम्पत्तियों को सरकार से मिलने वाले लाभों से वंछित रहना पड़ता है | अरुंधति स्वर्ण योजना (Arundhati Swarna Yojana) का मकसद अधिक से अधिक विवाह पंजीकृत कराना है साथ ही लड़कियों को शिक्षा के प्रति जागरुक करना है | इसके अलावा इस योजना से बाल विवाह को रोकने में भी मदद मिलेगी | बाल विवाह पर लगाम लगाने के लिए असम सरकार ने अरुंधति योजना को मंजूरी दी है |

अरुंधति स्वर्ण योजना

अरुंधति स्वर्ण योजना के लिए आवश्यक शर्तें:-

  • लड़की का कम से कम 18 साल और लड़के का 21 साल का हो
  • लड़की ने कम से कम 10वीं तक की पढ़ाई की हो
  • शादी विशेष विवाह अधिनियम, 1954 के तहत पंजीकृत होनी चाहिए
  • योजना का लाभ लेने के लिए दुल्हन के परिवार की सालाना आमदनी 5 लाख रुपए से कम होनी चाहिए
  • योजना का लाभ लड़की की पहली बार शादी पर ही मिलेगा |

ऐसे मिलेगा सोना:-

  • इस योजना के तहत लाभार्थी को सोना physical form में नहीं दिया जाएगा | शादी के रजिस्ट्रेशन और उसके verification के बाद 30,000 रुपये दुल्हन के बैंक अकाउंट में जमा किए जाएंगे।
  • 10 ग्राम सोने के लिए 30000 की रकम पूरे साल सोने की औसत कीमत पर के बाद तय किया गया है।
  • Account में पैसे आने के बाद लड़की को सोने की खरीद की रसीद सबमिट करनी होगी | इन पैसों का इस्तेमाल अन्य किसी चीज पर नहीं किया जा सकता |

Also Read:- असम सरकार की “असम अभिनन्दन योजना” के बारे में जानें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here