प्रधानमंत्री रोजगार प्रोत्साहन योजना के लाभ और उद्देश्य जानें

0
1987

प्रधानमंत्री रोजगार प्रोत्साहन योजना (PMRPY):-

आर्थिक मामलों की मंत्रिमंडल समिति ने ने प्रधान मंत्री रोजगार प्रोत्साहन योजना /Pradhan Mantri Rojgar Protsahan Yojana (PMRPY)  के दायरे में वृद्धि को मंजूरी दे दी है | केंद्र सरकार अब नए कर्मचारी की पंजीकरण तारीख से पहले 3 वर्षों के लिए कर्मचारी के पूर्ण admissible contribution में योगदान देगा | सभी अनौपचारिक क्षेत्र के कर्मचारियों को सामाजिक सुरक्षा मिलेगी और परिणामस्वरूप रोजगार create होंगे | उम्मीदवार प्रधान मंत्री रोजगार प्रोत्साहन योजना /Pradhan Mantri Rojgar Protsahan Yojana (PMRPY) की आधिकारिक वेबसाइट https://pmrpy.gov.in/ पर दिशानिर्देश, user manual, प्रक्रिया और योजना का आवेदन पत्र देख सकते हैं |

प्रधानमंत्री रोजगार प्रोत्साहन योजना

प्रधानमंत्री रोजगार प्रोत्साहन योजना (PMRPY) आपके कारोबार में मदद कर सकती है | PMRPY के तहत आपके कारोबार में लगे श्रमिकों का EPF और EPS का नियोक्ता का योगदान (12%) तीन साल तक सरकार देगी | अब तक अब तक PMRPY में 31 लाख लाभार्थी औपचारिक रोजगार में शामिल हुए हैं, जिसपर सरकार का 500 करोड़ रुपये से अधिक का योगदान रहा है |

प्रधानमंत्री रोजगार प्रोत्साहन योजना (PMRPY) देश की युवा शिक्षित आबादी के हिसाब से बनाया गया है जो बेरोजगार हैं | अगर आप भी अपना कारोबार शुरू करना चाहते हैं तो आपको अपने कामगार के EPF और ESI की रकम सरकार से मदद के रूप में मिल सकती है |

प्रधानमंत्री रोजगार प्रोत्साहन योजना (PMRPY) का उद्देश्य:-

  • अगर आप अपना कारोबार शुरू करते हैं तो उसमें काम करने वाले लोगों के लिए EPF और EPS में आपके योगदान की कुल रकम सरकार उनके खाते में जमा करेगी | यह योजना साल 2017 में शुरू की गयी थी, जिसमें अप्रैल 2018 में संशोधन किया गया |
  • इसके बाद नए Employee के लिए तीन साल तक नियोक्ता की तरफ से EPF और EPS में किया जाने वाला 12% योगदान केंद्र सरकार करेगी |
  • इसके तहत EPFO में अकाउंट खोलने वाले नए इम्पलॉई के लिए EPS में वेतन का 8.33 फीसदी योगदान सरकार करेगी | इससे SME सेक्टर में नए इम्पलॉई रखने और उन्हें PF का लाभ उपलब्ध कराने में नियोक्ता की रुचि बढ़ेगी |

प्रधानमंत्री रोजगार प्रोत्साहन योजना (PMRPY) के लाभ:-

  • EPFO के साथ रजिस्टर्ड सभी उद्यम कारोबार को इसके लिए लेबर आइडेंटिफिकेशन नंबर/Labour Identification Number (LIN) लेना पड़ता है |
  • LIN लेने के लिए आप https://shramsuvidha.gov.in/home पर जा सकते हैं |
  • नए Employee के पास आधार से जुड़ा यूनिवर्सल अकाउंट नंबर (UAN) होना चाहिए |
  • नए Employee की सैलरी 15,000 रुपये महीने से अधिक नहीं होनी चाहिए |
  • आपका उद्यम एक अप्रैल 2016 के बाद EPFO के पास रजिस्टर होना चाहिए |
  • इसमें EPF योगदान के रूप में आपको वेतन का 3.67% हर महीने जमा कराना है |
  • इसके लिए Employee का योगदान EPF में करना होगा |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here