Corona Vaccination: कोरोना वैक्सीन के 100 करोड़ डोज पूरे | पढ़ें किस महीने में लगा कितना टीका |

0
515
100 Crore Corona Vaccination
100 Crore Corona Vaccination in India

Corona Vaccination:-

देश में कोरोना वैक्सीन के 100 करोड़ डोज का आंकड़ा आज (21 अक्टूबर 2021) सुबह 9.45 बजे पूरा हो गया है | आखिरी 20 करोड़ डोज 31 दिन में लगे हैं | वैक्सीन के 100 करोड़ डोज पूरे होने का ऐलान करने के लिए सरकार ने खास तैयारियां की हैं। इसके लिए ट्रेन, प्लेन और जहाजों पर लाउडस्पीकर से घोषणा करने की योजना है। साथ ही 100% वैक्सीनेशन पूरा कर चुके गांवों से कहा गया है कि उन्हें पोस्टर और बैनर लगाकर हेल्थ वर्कर्स का सम्मान करना चाहिए |

चीन के अलावा दुनिया के किसी भी देश की तुलना में भारत पहले ही वैक्सीन की अधिक खुराक दे चुका है | 500 मिलियन के करीब किसी भी अन्य देश की आबादी नहीं होने के कारण, बिलियन-डोज़ क्लब में केवल ये दो देश शामिल होंगे |

लगभग 278 दिनों में 100 करोड़ का मील का पत्थर हासिल किया जा रहा है – पहली वैक्सीन खुराक 16 जनवरी को दी गई थी – जिसका अर्थ है कि इस दस महीने की अवधि के दौरान औसतन 27 लाख खुराक हर दिन दी गई हैं | बेशक, प्रशासित खुराक की दैनिक संख्या में व्यापक बदलाव हुए हैं | छह दिनों में, 1 करोड़ से अधिक खुराकें दी गईं, जिसमें 17 सितंबर को 2.18 करोड़ का रिकॉर्ड हासिल किया गया | दूसरी ओर, जनवरी के शुरुआती कुछ दिनों में और फरवरी में कुछ दिनों में 50,000 से कम खुराकें दी गईं |

20 अक्टूबर तक, 99,36,38,532 से अधिक लोगों को वैक्सीन खुराक दी जा चुकी हैं | इसमें से 70,32,68,607 कोरोना वैक्सीन की पहली डोज और 29,03,69,925 दूसरी डोज हैं | इसका मतलब है कि भारत में 74 प्रतिशत या तीन-चौथाई वयस्क आबादी को कम से कम एक खुराक मिली है, जबकि 30 प्रतिशत को दोनों खुराक मिली हैं |

अब तक कैसी रही वैक्सीनेशन की रफ्तार:-

देश में 16 जनवरी से वैक्सीनेशन अभियान की शुरुआत हुई | शुरुआती 20 करोड़ वैक्सीन डोज 131 दिन में लगे | अगले 20 करोड़ डोज 52 दिन में दिए गए | 40 से 60 करोड़ डोज देने में 39 दिन लगे | 60 करोड़ से 80 करोड़ डोज देने में सबसे कम, महज 24 दिन लगे |

अब 80 करोड़ से 100 करोड़ होने में 31 दिन लगे हैं | यानी अब रफ्तार कम हो गई है | अगर इसी रफ्तार से वैक्सीनेशन होता रहा तो देश में 216 करोड़ वैक्सीन डोज लगने में करीब 175 दिन और लगेंगे | यानी, 5 अप्रैल 2022 के आसपास ये आंकड़ा हम पार कर सकते हैं |

Corona Vaccination में टॉप पांच देश

दुनियाभर में कोरोना टीकाकरण के मामले में  2,232,088,000 डोज के साथ सबसे आगे चीन है | इसके बाद भारत – 99,36,38,532 डोज, अमेरिका- 408,797,942 डोज, ब्राजिल- 257,933,346 डोज, जापान- 180,976,061 डोज के साथ तेजी से टीकाकरण कर रहे हैं |

  • Mainland China – 2,232,088,000
  • India – 99,36,38,532
  • United States- 408,797,942
  • Brazil – 257,933,346
  • Japan – 180,976,061

Corona Vaccination में टॉप पांच राज्य:-

देश भर में कोरोना टीकाकरण के मामले में 12,13,81,380 डोज के साथ सबसे आगे उत्तरप्रदेश है | इसके बाद महाराष्ट्र – 9,26,16,985 डोज के साथ दुसरे स्थान पर है | पश्चिम बंगाल- 6,83,56,272 डोज, गुजरात- 6,75,26,031 डोज, मध्यप्रदेश- 6,68,48,192 डोज के साथ तेजी से टीकाकरण कर रहे हैं |

  • Uttar Pradesh – 12,13,81,380
  • Maharashtra- 9,26,16,985
  • West Bengal- 6,83,56,272
  • Gujarat- 6,75,26,031
  • Madhya Pradesh – 6,68,48,192

Cowin पोर्टल के मुताबिक बुधवार सुबह तक:-

  • 51,32,55,834 पुरुषों को 47,62,04,475 महिलाओं को वैक्सीन की डोज दी जा चुकी है |
  • देश में इस समय कोरोना की तीन वैक्सीन दी जा रही है- कोविशील्ड, कोवेक्सीन और स्पुतनिक | जिसमें से 87,50,00,932 डोज, कोवेक्सीन की 11,36,34,378 और स्पुतनिक की 10,43,017 वैक्सीन डोज दी जा चुकी है |
  • आयु वर्ग में 18 से 44 साल के आयु वर्ग के 55,16,68,381, 45 से 60 साल के आयु वर्ग में 26,83,86,536 और 60 साल से ज्यादा आयु वर्ग में 16,96,27,487 लोगों को वैक्सीन डोज दी जा चुकी है |

राष्ट्रव्यापी टीकाकरण अभियान के तहत भारत सरकार राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को मुफ्त में कोविड टीके उपलब्ध करा रही है | कोरोना टीकाकरण अभियान में केंद्र सरकार देश में वैक्सीन निर्माताओं द्वारा उत्पादित किए जा रहे टीकों का 75% राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को आपूर्ति मुफ्त कर रही है | अब तक केंद्र सरकार ने राज्यों और केन्द्र शासित प्रदेशों को 102 करोड़ वैक्सीन डोज दी है और अभी भी राज्यों के 10 करोड़ 42 लाख डोज बची हुई है | केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक केंद्र सरकार ने राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को 1,02,05,09,915 वैक्सीन डोज दी है जिसमें से 10,42,38,220 वैक्सीन डोज राज्यों के पास बची हुई है |

महीने वार राज्यों को इस तरह से वैक्सीन डोज दी गई:-

  • जनवरी में 37 लाख 59 हजार वैक्सीन डोज
  • फरवरी में 1 करोड़ 5 लाख वैक्सीन डोज
  • मार्च में 5 करोड़ 8 लाख वैक्सीन डोज
  • अप्रैल में 8 करोड़ 98 लाख वैक्सीन डोज
  • मई में 6 करोड़ 1 लाख वैक्सीन डोज
  • जून में 11 करोड़ 97 लाख वैक्सीन डोज
  • जुलाई में 13 करोड़ 45 लाख वैक्सीन डोज
  • अगस्त में 18 करोड़ 38 लाख वैक्सीन डोज
  • सिंतबर में 23 करोड़ 6 लाख वैक्सीन डोज दी गई है और
  • अक्टूबर में 28 करोड़ वैक्सीन डोज उपलब्ध होने की संभावना है |

महीने वार टीकाकरण की रफ्तार:-

  • अप्रैल में जहां 29 लाख 96 हज़ार वैक्सीन डोज प्रति दिन गई |
  • मई के महीने में इसमें गिरावट आई और ये 19 लाख 69 हज़ार प्रति दिन हो गया था |
  • जून में प्रतिदिन 39 लाख 89 हज़ार वैक्सीन डोज प्रतिदिन हो गई |
  • जुलाई में ये संख्या बढ़कर 43 लाख 41 हजार वैक्सीन डोज प्रतिदिन हो गई |
  • अगस्त में ये संख्या और बढ़कर 59 लाख 29 हजार डोज प्रतिदिन हो गई |
  • सिंतबर में ये बढ़कर 78 लाख 69 हजार हो गई है |

यानी टीकाकरण की उपलब्धता के साथ साथ रफ्तार भी बड़ी जा रही है | वहीं टीकाकरण में लोग दूसरी डोज भी लें इसके लिए केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव ने राज्यों के स्वास्थ्य सचिव और नेशनल हेल्थ मिशन के डायरेक्टर के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बैठक की है | केंद्र सरकार ने राज्यों को पूर्ण टीकाकरण यानी लोग दोनों डोज ये सुनिश्चित करने को कहा | केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने साफ किया है की राज्यों के पास फिलहाल पर्याप्त वैक्सीन है जिसे टीकाकरण किया जा सकता है |

भारत में अब तक कुल 6 कोरोना वैक्सीन को अनुमति दी जा चुकी है | अस्ट्राजेनिका और सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया की कोविशील्ड, भारत बायोटेक की कोवेक्सीन, रूस की स्पुतनिक,  मोडर्ना और जॉनसन एंड जॉनसन की वैक्सीन और ज्याडस कैडिला की जयकोव दी को अब तक भारत में ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया से इमरजेंसी यूज़ ऑथराइजेशन दिया है | इसमें से तीन वैक्सीन टीकाकरण के लिए उपलब्ध है | 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here